जब बीवी बन जाये बॉस

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Jun 06, 2012
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

jab biwi ban jaaye boss

आज का दौर महिलाओं का है,तो इस बात में कोई आश्चर्य नहीं होगा कि अगर ऑफिस में आपकी बीवी ही आपकी बॉस हो। आपकी बीवी यदि ऑफिस में आपकी बॉस है तो इस बात को अच्छे रूप में लें। ना की इसे अपने अपमान या हीन भावना के तौर पर लें। आज की महिलाएं हर क्षेत्र में अपनी जिम्मेदारी बखूबी निभाने में सक्षम हैं। घर चलाने से लेकर ऑफिस तक के काम को वे बखूबी निभाने में सफल सिद्ध हुई हैं, और दोनों ही जगहो में वह आपका पूरा-पूरा साथ दें रही है। एक बॉस की पोजीशन पर रह कर भी वे अपनी पर्सनल और प्रोफेशनल लाइफ के बीच में सामंजस्य बनाए रखती हैं।

 

[इसे भी पढ़ें - महिलाएं कैसे बनाएं प्यार और करियर में बैलेंस]



•    उच्च स्तर पर पदासीन आपकी पत्नि आपके प्रति अधिक लोकतांत्रिक रवैया अपनाती हैं और आपको महत्वपूर्ण निर्णयों में शामिल करने का मौका देती हैं। अगर आपकी पत्नि प्रबंधन में ऊंचे पद पर हैं, तो आप भी अपना व्यक्तिगत योगदान अपेक्षाकृत अधिक देते है। उनके हर निर्णय में साथ दें और उनका सम्मान करें।

•    जब आपके और आपकी बीवी के बीच घर से लेकर ऑफिस तक सभी बातों पर बेहतर संचार होगा है तो उसका परिणाम हमेशा सकारात्मक ही होगा। इससे अपके रिशतों में पारदर्शिता आएगी, आप ऑफिस में एक दूसरे को कई बातों पर मशवरा भी दें सकते है।

 

[इसे भी पढ़ें - आफिस रोमांस के टिप्स]

 

•    आपकी पत्नि अगर आपकी बॉस है, तो भी उसकी तरफ से आपके लिए किसी भी प्रकार खराब व्यवहार नहीं होगा। पर आप कोशिश करें कि आप उनके साथ अच्छा और सहयोग भरा व्यवहार करें।

•    आपकी बीवी आपकी एक अच्छी बॉस भी हो सकती है। कोई भी निर्णय लेने में वह अपने दिल की ज्यादा सुनती हैं। कई बार उन्हें सही और गलत का फैसला लेने में मुश्किल आ जाती है ऐसे में आप उनका साथ जरूर दें।


•    आपकी बीवी अगर आपकी बॉस है तो भी वह अपनी पर्सनल और प्रोफेशनल लाइफ में बैलेंस बनाने में सक्षम होती हैं।  लेकिन  इसके लिए आपको भी उनका सहयोग करना होगा।

 

[इसे भी पढ़ें - संबंधों में क्या महत्वपूर्ण है]

 

•    घर की बातों या घर के झगड़ों को आफिस तक लेकर ना आयें और आफिस में एक दूसरे के काम में दखल कम दें।

•    लेकिन हां, समय के साथ तालमेल बैठाने में आपकी बीबी थोड़ी कठोर हो सकती हैं। हो सकता है कभी आप समय पर घर पहुंच कर बच्चों के साथ शाम का नाश्ता कर पायें और कभी आपको डिनर के समय तक घर जाने का मौका ना मिले।

•    आप अपनी बीबी की मदद कर सकते है, जरूरत हो तो साथ में देर रात तक रूक कर किसी काम को पूरा करने में आप उनका सहयोगी कर सकते है।

 

Read More Article on Dating in hindi.

Write a Review
Is it Helpful Article?YES1 Vote 42299 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर