महिला प्रजनन संबंधी स्वास्थ्य मुद्दे

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Nov 14, 2011
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

हम महिलाओं की प्रजनन स्वास्थ्य मुद्दों में तल्लीन होने से पहले महिलाओं के प्रजनन स्वास्थ्य का गठन क्या है, इसे विस्तार से समझने की आवश्यकता है। प्रजनन स्वास्थ्य योनि स्वच्छता के गठन, बांझपन या प्रजनन, गर्भनिरोधक, गर्भाशय, और यौन संचारित रोगों से संबंधित मुद्दो को समझने की आवश्यकता है। एक औरत एक स्वस्थ प्रजनन प्रणाली के पूर्वोक्त क्षेत्रों की देखभाल करने के लिए समय की अवधि को बनाए रखना चाहिए। वास्तव में, कई सरकारी एजेंसियों के मुख्य उद्देश्य राष्ट्रीय तौर पर मातृ मृत्यु दर कम करना है।
प्रजनन स्वास्थ्य मुद्दों में अक्सर जैव चिकित्सा,वित्तीय और व्यवहार लक्षणों के साथ निपटना है, जो अधिक विस्तार से महिला की प्रजनन प्रणाली की जांच करने में मदद करते है। यह सावधानीपूर्वक अध्ययन इसलिए है, अंगो की निरंतरता और कामकाज की प्रकृति का पता लगाना जटिल प्रक्रिया है जो कि आम तौर पर बहुत आसानी से संक्रमित होती है। सबसे अच्छा तरीका समय समय पर महिलाओं को अपने डॉक्टर से मिलकर प्रजनन स्वास्थ्य की जांच कराते रहना चाहिए और संक्रमण या आंतरिक चोट का पता लगाने के लिए समय समय पर आवश्यक जांच करवानी चाहिए है।

इसके अलावा, महिलाओं की प्रजनन स्वास्थ्य के मुद्दे उन्हे सूचित किये जाने के द्वारा मॉड्यूलेट किये जा सकते है और जिस समय स्वच्छ रहना हो, तो अतिरिक्त सावधानी बनाए रखरने पर जोर देते है। यह इसलिए क्योंकि कई बार, निष्क्रिय लक्षण बाद की अवस्था में गभीर रूप ले लेते है, जिससे जल्दी दिखने से रोकन के लिए शीघ्र पहचान की जाती है। उदाहरण के लिए, एचआईवी या अन्य एड्स, कभी-कभी, कुछ मामलों में जहां रोगी में ओएसएफ पाया जाता है यह उनकी आखिरी स्थिति होती है।

इसके अलावा, महिलाओं को एक अधिक हेल्दी गर्भावस्था होने पर व्यायाम के द्वारा नियंत्रण करने का प्रयास करना चाहिए। गर्भपात या प्रसव क्षमता का एक लंबा रिकॉर्ड प्रदर्शन, सहनशक्ति और प्रजनन प्रणाली के स्वास्थ्य को काफी कम कर सकते है।

एक अन्य पहलू है जिसमें ग्रामीण क्षेत्रो में विशेषरूप से जानकारी की कमी एक हेल्दी प्रजनन प्रणाली को बनाए रखने से महिलाओं को दूर रखती है। परिवार नियोजन विधि और क्रियान्वयन के स्तर मे इसकी कमी भी महिलाओं के कई मामलो में अत्यधिक प्रसव के कारण बीमार प्रजनन स्वास्थ्य की ओर जाता है। यह दिलचस्प बात है कि कैसे महिला के प्रजनन मुद्दे में स्तन, फैलोपियन ट्यूब और गर्भाशय ग्रीव शामिल है। दूसरा तथ्य यह है कि शोधकर्ताओं द्वारा हाल ही में किये गए अध्ययन में अंतर्राष्ट्रीय तौर पर लिंग आधारित हिंसा के मामले में जो राष्ट्र में घरेलू हिंसा का एक बहुत बढ़ा हिस्सा है या यहां तक कि वहां आपके अपने पैतृक स्थान के बाहर हो रहे है।

 

 

Write Comment Read ReviewDisclaimer Feedback
Is it Helpful Article?YES5 Votes 14490 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर