भारतीय ने की कॉर्निया की नयी परत की खोज

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Jun 13, 2013
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

आंख का ग्राफिक्‍स

वैज्ञानिकों ने एक बड़ी कामयाबी हासिल करते हुए मानवीय शरीर हासिल करते हुए मानवीय शरीर रचना के हिस्‍से आंख की कॉर्निया में नई परत को खोज निकाला है। इस परत का नाम इसकी खोज करने वाले भारतीय शोधकर्ता के नाम पर रखा जाएगा। इनसान की आंख के अगले हिस्‍से को कॉर्निया कहा जाता है। ब्रिटेन में यूनिवर्सिटी ऑफ नॉटिंघम के शोधकर्ताओं द्वारा की गयी इस खोज से चिकित्‍सकों को कॉर्निया ग्रफ्टिंग करवाने या कॉर्निया प्रत्‍यारोपण करवाने वाले मरीजों को काफी लाभ पहुंचने की उम्‍मीद है।

 

कॉर्निया की इस नयी खोजी गयी परत का नाम 'दुआज लेयर' रखा गया है। प्रोफेसर हरमिंदर दुआ ने इसकी खोज की है। इससे पहले वैज्ञानिक कार्निया की इस नयी परत को लेकर पूरी तरह अनजान थे। आंख के अगले हिस्‍से में कॉर्निया एक स्‍पष्‍ट सुरक्षात्‍मक लैंस होता है जिसके माध्‍यम से प्रकाश आंख में प्रवेश करता है। पहले वैज्ञानिकों का मानना था कि कॉर्निया की आगे से लेकर पीछे तक पांच परतें होती हैं, जिन्‍हें कॉर्नियल ऐपिथेलियम, बोमैन्‍स लेयर, कॉर्नियल स्‍ट्रोमा, डिसेमेट्स मैम्‍ब्रेन तथा कॉर्नियल एंडोथेलियम कहा जाता है। नई खोजी गई परत कॉर्नियल स्‍ट्रोमा और डि‍सेमेट्म के बीच स्थित है। हालांकि यह केवल 15 माइक्रोसॉफ्ट मोटाई की है, लेकिन बेहद मजबूत है।

 

प्रोफसर हरमिंदर दुआ के अनुसार, य‍ह एक बड़ी खोज है जिसका मतलब है कि नेत्र विज्ञान से संबंधी पाठ्यपस्‍तकों को लिखने की जरूरत होगी। कॉर्निया के ऊतकों की गहराई में इस नई और अनोखी परत की खोज के बाद अब हम इसकी दबाव सहने की क्षमता का इस्‍तेमाल कर मरीजों की आंखों का आपरेशन अधिक सुरक्षित और आसान तरीके से करने की संभावनाओं का पता लगा सकते है।  




Read More Articles on Health News In Hindi

Write Comment Read ReviewDisclaimer Feedback
Is it Helpful Article?YES1 Vote 1544 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर