हाइड्रोसेफेलस है गंभीर मानसिक बीमारी, जानें इसके लक्षण और उपचार

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Feb 16, 2018
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • यह रोग जन्म के पहले व जन्म के बाद कभी भी हो सकता है
  • ब्रेन हेमरेज के कारण भी संभव है।
  • संक्रमण से भी यह मर्ज संभव है।

मस्तिष्क में ज्यादा मात्रा में सेरिब्रो स्पाइनल फ्लूड (सी.एस.एफ.) होने की स्थिति को हाइड्रोसेफेलस या जलशीर्ष कहते हैं। यह मर्ज दिमाग पर दबाव डालता है। आम भाषा में इस समस्या को दिमाग में पानी आने का मर्ज भी कहते हैं। यह रोग जन्म के पहले व जन्म के बाद कभी भी हो सकता है। तो चलिए आज हम आपको इस बीमारी से जुड़ी सभी जानकारी अपने इस लेख के माध्‍यम से बता रहे हैं। इस जानकारी को हमारे साथ जाने-माने न्‍यूरो सर्जन डॉ. विकास शुक्ला ने सा‍झा किया है।

हाइड्रोसेफेलस के कारण

  • यह मर्ज पैदाइशी भी हो सकता है।
  • ब्रेन हेमरेज के कारण भी संभव है।
  • संक्रमण से भी यह मर्ज संभव है।
  • इसमें टी.बी. का संक्रमण भी प्रमुख कारण है।
  • दिमागी चोट के कारण भी यह रोग संभव है।

इसे भी पढ़ें: सेहत पर बहुत बुरा असर डालती है गेम खेलने की लत, ऐसे पाएं छुटकारा

हाइड्रोसेफेलस के लक्षण

  • एक साल के बच्चे में सिर का बढऩा इस मर्ज का एक प्रमुख लक्षण है। इसके अलावा उल्टी होना, ज्यादा सोते रहना, ज्यादा चिड़चिड़ापन, ऊपर की तरफ न देख पाना व मिर्गी के दौरे आना कुछ अन्य लक्षण हैं।
  • एक साल से बड़े बच्चों व वयस्कों में सिरदर्द, चिड़चिड़़ापन, आंखों की रोशनी कम होना, किसी वस्तु का दो-दो रूप दिखना और उल्टी होना प्रमुख लक्षण हैं।
  • इसके अलावा मिर्गी के दौरे आना और व्यवहार में परिवर्तन, चलते वक्त असंतुलन व पेशाब का छूट जाना प्रमुख लक्षण हैं।

हाइड्रोसेफेलस का इलाज

  • सर्जरी द्वारा दिमागी पानी को शरीर के दूसरे हिस्से में एक ट्यूब के सहारे भेज दिया जाता है।
  • इस प्रक्रिया के तहत पेट के अंदर पानी भेजना एक सर्वाधिक प्रमुख उपाय है, लेकिन इस ऑपरेशन के कई नुकसान हो सकते हैं।
  • जैसे ट्यूब पर संक्रमण हो जाना, ट्यूब का अपर्याप्त रूप से काम करना, नली में रुकावट, शरीर के हिसाब से नली का छोटा पड़ जाना, दिमाग में खून का थक्का बनना व पेट से संबंधित समस्याएं होना।

इसे भी पढ़ें: अंधेरे में यूज करते हैं स्मार्टफोन, तो हो सकती है ये बीमारी

नई पद्धति से इलाज   

  • आजकल दूरबीन विधि से दिमाग के अंदर ही एक रास्ता बना देने वाली पद्धति काफी प्रचलित है।
  • इस पद्धति को थर्ड वैन्ट्रिकुलोस्टॅमी कहते हैं।
  • इससे पारंपरिक सर्जरी की समस्याओं से बचा जा सकता है।

हाइड्रोसेफेलस से जुड़ें कुछ तथ्‍य

हाइड्रोसेफेलस बच्‍चों और वयस्क दोनों रोगियों को प्रभावित करता है। एनआईएच (NIH) वेबसाइट के अनुसार अनुमानतः 700,000 बच्चे और वयस्क हाइड्रोसेफेलस के साथ जी रहे हैं। बाल जलशीर्ष प्रत्येक 500 जीवित जन्मों में एक को प्रभावित करता है, जो सामान्य विकास विकलांगता को जन्मजात विकृति या बहरेपन से अधिक आम बना रहा है। यह संयुक्त राज्य अमेरिका में बच्चों के लिए मस्तिष्क शल्य चिकित्सा के प्रमुख कारणों में से एक है। इस स्थिति के 180 से अधिक अलग-अलग कारण हैं, यह समय से पहले जन्म के साथ जुड़े मस्तिष्क रक्तस्राव के सबसे आम अधिगृहित कारणों में से एक है। बाल जलशीर्ष एक आनुवंशिक स्थिति भी हो सकती है और यह मुख्य रूप से पुरुषों को प्रभावित करता है। जलशीर्ष का पता जन्म के पूर्व अल्ट्रासाउंड परीक्षणों से लगाया जा सकता है।

ऐसे अन्य स्टोरीज के लिए डाउनलोड करें: ओनलीमायहेल्थ ऐप

Read More Articles On Mental Health In Hindi

Loading...
Write Comment Read ReviewDisclaimer
Is it Helpful Article?YES843 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर