जानें पति के देर तक काम करने से कैसे प्रभावित होता है पत्‍नी का स्‍वास्‍थ्‍य

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Aug 01, 2016
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • पति का ऑफिस में ज्यादा समय बिताना डाल सकता है पत्नी पर बुरा असर।
  • पति-पत्नी के बीच समय का अभाव बढ़ा सकता है दिलों में दूरियों का खतरा।  
  • पत्नियां हो जाती है संवादहीनता और असुरक्षा की भावना से परेशान।
  • माता-पिता में तालमेल के अभाव से बच्चों की परवरिश पर पड़ता है बुरा असर।

एक शोध के मुताबिक ऑफिस में ज्यादा समय गुजारने वाले पतियों की पत्नियों में तनाव और बैचेनी की शिकायत ज्यादा पायी जाती है। अस्ट्रेलिया के न्यू साउथ वेल्स यूनीवर्सिटी के सोशयोलॉजिस्ट ली क्रेग के अनुसार पुरूषों का ऑफिस में ज्यादा समय बिताना पत्नियों पर बुरा असर डालता है। हालांकि पत्नियों के ज्यादा समय ऑफिस में बिताने  से पतियों पर इसका कोई खास असर नहीं पड़ता है।शोध के अनुसार दांपत्य जीवन में पति का कम समय देना पत्नियों की सेहत पर बुरा असर डालता है। पति पत्नी के बीच समय की कमी के कारण होने वाली परेशानियों और उनसे निपटने के तरीके पढ़े।

समय की कमी के कारण होने वाली परेशानियां

  • पत्नियां अक्सर छोटे बड़े फैसलों के लिए पति की राय लेना जरूरी समझती है। पर आजकल की व्यस्त जिंदगी में पति का ऑफिस में ज्यादा समय बिताने के कारण संवाद की कमी हो जाती है। जो ना सिर्फ तनाव को बढ़ाती है। बल्कि कई बार इन कारणों से अलगाव की स्थिति आ जाती है।
  • पति का ज्यादा समय ऑफिस में बिताने के कारण संवाद की कमी के साथ साथ अविश्वास की स्थिति को भी पैदा करता है। पत्नियों को आपके जीवन में उनका महत्व कम लगने लगता है।उन्हे लगता है आप उनकी अनदेखी कर रहें। जिससे कारण पत्नियों में तनाव बढ़ जाता है। जिसके परिणाम गंभीर हो सकते है।
  • पत्नियों को अनदेखा होने का अनुभव मानसिक रूप से एक यातना के सामान होता है। तनाव उनमें कई तरह की अन्य बीमारियो को बढ़ावा देता है। कई बार वे आपसे इस बात को आपसे बांट ना पाने के कारण मानसिक रोग से भी घिर जाती है। जिसका पता कई बार देर से चलता है, जो रिश्तों के लिए बुरा हो सकता है।
  • ऑफिस में ज्यादा समय बिताने के कारण कई बार आपको पता भी नहीं चलता कि करियर के लिए आपने अपने परिवार को कितना पीछे छोड़ दिया है। जो आपसी मनमुटाव को भी बढ़ाता है। आपको छोटी सी लगने वाली बात का आपके पत्नी के लिए जरूरू हो सकती है। ऐसे में दिलों में दूरियां बढ़ने की संभावना ज्यादा रहती है।   

 

कैसे दूर करें

  • कई बार आपके ना चाहते हुए भी ऑफिस में ज्यादा समय बिताना पड़ता है। अगर ऐसी समस्या है तो अपनी पत्नी से इस बारे में खुल कर बात करें। उसे समझायें। कोशिश करें कि दिनभर में ऑफिस से उसे दो-चार बार फोन करतें रहें। जिससे आप लोगों की बीच संवाद की कमी ना रहें। ये आपकी पत्नी को सुरक्षा की भावना देता है।
  • कोशिश करें कि दिन का एक समय का खाना परिवार के साथ जरूर करे। उनसे पूरे दिन का हाल चाल लें। इससे ना सिर्फ आप घर के लोगों के बारे में जानेंगे बल्कि उन्हें भी अपना मह्तव समझ आएगा। आपकी ये छोटी सी कोशिश आपके परिवार को बांधें रखने में मदद करेगी।
  • ध्यान रहें आपकी अपनी पत्नी के प्रति बेरूखी आपके बच्चों पर भी बुरा असर डालती है। माता-पिता के बीच में तालमेल का अभाव बच्चों की अच्छी परवरिश में बाधक बन सकता है। ऐसे में अगर आप चाहते है कि आपके बच्चे पर इसका बुरा प्रभाव ना पड़े अपनी पत्नी के प्रति जिम्मेदारियों को समझें।
  • माना ऑफिस जरूरी होता है, पर कभी कभी छुट्टी लेकर पत्नी के सरप्राइज करें। पत्नी को कहीं घुमाने ले जाएं। ये फिर पूरा समय घर पर ही बितायें, उनसे बातें करे। उन्हें भावनात्मक सहयोग दें। एक पत्नी को इसकी बहुत जरूरत होती है।



 एक दूसरे के प्रति ईष्र्या व द्वेष की भावना मन में न लाएं व न ही एक दूसरे के लिए नकारात्मक सोचें क्योंकि ऐसी भावनाएं आप दोनों के बीच तनाव की स्थिति और भी मजबूती प्रदान कर सकती है।

 

Image Source-Getty
Read More Article on Relationship on Hindi

Write Comment Read ReviewDisclaimer Feedback
Is it Helpful Article?YES5 Votes 2978 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर