माइग्रेन से बचाने के 10 प्रभावशाली उपाय

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Dec 09, 2013
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • माइग्रेन रोगी के लिए जंक फूड का सेवन है नुकसानदेह।
  • मछली के तेल की मालिश करने से मिलता है आराम।
  • गहरी नींद लेने से मिलती है माइग्रेन रोगी को राहत।
  • माइग्रेन में सिर पर ठंडे पानी की पट्टी रखना फायदेमंद।

जीवनशैली में बदलाव के कारण लोगों में माइग्रेन की समस्‍या बढ़ रही है। माइग्रेन एक मस्तिष्क विकार है, जिसमें रोगी के सिर में भयानक दर्द होता है। पुरुषों के मुकाबले महिलाएं माइग्रेन से ज्‍यादा ग्रस्‍त होती हैं। यह दर्द कई बार अचानक शुरू हो जाता है और फिर ठीक भी हो जाता है।

treating migraine
माइग्रेन का शिकार व्‍यक्ति उम्र के किसी भी पड़ाव में हो सकता है। इसमें होने वाले तेज दर्द का कोई समय निश्‍चित नहीं होता, सुबह और शाम के समय यह ज्‍यादा महसूस होता है। अमेरिका में होने वाली यह आम समस्‍या है। इसका असर आंखों की रोशनी पर भी पड़ता है।

 

महिलाओं में यह समस्‍या माहवारी के समय ज्‍यादा होती है। हालांकि इसके अलावा माइग्रेन अल्‍कोहल के सेवन, मौसम में बदलाव, तनाव, आहार में परिवर्तन और कम सोने के कारण भी हो सकता है। इस लेख के जरिए हम आपको बताते हैं माइग्रेन से बचाव के कुछ अचूक उपाय।

पानी पिएं

विशेषज्ञों के मुताबिक डिहाइड्रेशन भी माइग्रेन का कारण होता है। इसलिए माइग्रेन की समस्‍या में आपको ज्‍यादा से ज्‍यादा पानी पीना चाहिए। साथ ही ठंडे पानी की पट्टी सिर पर रखने से भी राहत मिलती है। ऐसा करने से धमनियां फैलकर अपनी पूर्व स्थिति में आ जाती हैं।

हैडबैंड लगाएं

हैडबैंड लगाने से भी माइग्रेन से होने वाले दर्द में आराम मिलता है। दर्द से राहत के लिए हैडबैंड का प्रयोग  लोग पहले ज्‍यादा करते थे, लेकिन अब इसका चलन कम हो गया है।

मछली का तेल

दर्द होने पर मछली के तेल की सिर में मालिश करने से काफी आराम मिलता है। मालिश करने से सिकुड़ी हुई धमनियां फैल जाती हैं। मछली का सेवन भी माइग्रेन की आशंका को कम करता है। इसमें पाया जाने वाला ओमेगा 3 फैटी एसिड दर्द से राहत देता है।

भूखे न रहें

भूखे रहने पर भी यह दर्द बढ़ सकता है। इसलिए ज्‍यादा देर तक भूखे न रहें, थोड़ी-थोड़ी देर में कुछ न कुछ खाते रहें। हरी पत्तेदार सब्जियों का सेवन फायदेमंद रहता है। गाजर और खीरा भी लाभदायक है। मैग्निशियम से भरपूर आहार माइग्रेन में फायदेमंद होता है।


तेज रोशनी से रहे दूर

ध्‍यान रखें कि आपके काम करने वाली जगह पर तेज रोशनी, तेज धूप या तेज गंध न हो। इन सभी चीजों से भी माइग्रेन के रोगी को परेशानी होती है। सोते समय अंधेरे कमरे में सोने की कोशिश करें। साथ ही कोशिश करें कि घर से बाहर निकलने पर छाता लें और सूरज की सीधी रोशनी से बचें।


जंक फूड है नुकसानदेह

माइग्रेन से ग्रस्‍त रोगी को जंक फूड और डिब्‍बा बंद आहार से परहेज करना चाहिए। पनीर, चॉकलेट, चीज, नूडल्स और केले में ऐसे रासायनिक तत्व पाए जाते हैं जो माइग्रेन को बढ़ा सकते हैं।


पिपरमेंट ऑयल

माइग्रेन की परेशानी होने पर सिर के दर्द वाले हिस्‍से में पिपरमेंट ऑयल की मालिश करने से राहत मिलती है। साहित्‍य में भी पिपरमेंट के तेल से होने वाले फायदों का जिक्र किया गया है।


अदरक का सेवन

आयुर्वेद के अनुसार अदरक सिर दर्द में राहत पहुंचाता है। यदि आपको अदरक खाने में परेशानी होती है, तो आप अदरक के कैप्‍सूल का भी सेवन कर सकते हैं। अदरक या इसके कैप्‍सूल के सेवन से मितली की समस्‍या से छुटकारा मिलता है।


ज्‍यादा नींद लें

माइग्रेन में आराम करना चाहिए और ज्‍यादा नींद लेने की कोशिश करें। नींद लेने से माइग्रेन रोगियों को राहत मिलती है। गहरी नींद लेने के लिए आप शोर युक्‍त वातावरण से दूर रहने के साथ ही अंधेरे कमरे में सोने की कोशिश करें।


व्‍यायाम करें

अधिकतर रोगों में व्‍यायाम फायदेमंद होता है। माइग्रेन की समस्‍या का एक कारण तनाव भी होता है। नियमित रूप से व्यायाम, योग और मेडिटेशन करने से दिमाग तनाव मुक्‍त रहता है और आप माइग्रेन का शिकार होने से भी बचे रहते हैं।

समय पर माइग्रेन का उपचार न करना परेशानी का कारण बन सकता है। ऐसी परेशानी होने पर आपको खानपान का ध्‍यान रखने के साथ ही दिनचर्या में भी सुधार करना होता है।

 

 

 

Read More Articles on Migraine in Hindi

Write a Review
Is it Helpful Article?YES105 Votes 22842 Views 1 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

टिप्पणियाँ
  • vineet Kumar singh03 Jul 2012

    Acha Medicin ky hi Magenen Khatam karne ka.Gharelu nukese ka detail de. vineet

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर