स्‍वप्‍नदोष को कैसे रोकें

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Nov 12, 2014
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • किशोरों में सामान्‍य होती है स्‍वप्‍नदोष की समस्‍या।
  • महीने में दो तीन बार स्‍वप्‍नदोष को माना जाता है सामान्‍य।
  • स्‍वप्‍नदोष रोकने के लिए कुदरती उपाय अपनाये जा सकते हैं।
  • अधिक समस्‍या होने पर करें योग्‍य चिकित्‍सक से संपर्क।

युवाओं में स्‍वप्‍नदोष एक सामान्‍य समस्‍या है। यह हर उम्र के पुरुषों में देखने को मिलती है। इसमें कुछ भी असामान्‍य नहीं है। हालांकि, अगर आपको नियमित रूप से इस समस्‍या का सामना करना पड़ रहा है, तो आपको सचेत होने की जरूरत है। इससे सेहत पर तो असर पड़ता ही है साथ ही मानसिक रूप से भी दबाव काफी बढ़ जाता है। कई पुरुषों को इस बात को लेकर संशय रहता है कि आखिर वे स्‍वप्‍नदोष की इस समस्‍या से कैसे बचें। हालांकि इस बात के कोई पुख्‍ता सबूत नहीं हैं, लेकिन स्‍वप्‍नदोष से थकान, अंडकोष में दर्द, कमजोर स्‍खलन और शीघ्रपतन जैसी समस्‍यायें हो सकती हैं।

विशेषज्ञ अभी तक स्‍वप्‍नदोष के कारणों को लेकर आश्‍वस्‍त नहीं हैं। हालांकि, हस्‍तमैथुन और कामुक विचारों को इसके लिए उत्‍तरदायी माना जाता है। कई लोग स्‍वप्‍नदोष से बचने के लिए हस्‍तमैथुन कम करने की सलाह दी जाती है। इसके साथ ही कुछ घरेलू उपाय भी हैं, जिनसे इस समस्‍या को नियंत्रित करने का दावा किया जाता है। कुदरती उपायों का आमतौर पर आपके शरीर पर कोई बुरा असर नहीं होता और इनका असर भी प्रभावी होता है।

nightfall in hindi

महीने में दो या तीन बार स्‍वप्‍न दोष होना सामान्‍य है। लेकिन, अगर यह समस्‍या इससे ज्‍यादा बार होती है, तो कुछ गड़बड़ होने की आशंका है।
शीघ्र पतन को भी स्‍वप्‍नदोष की समस्‍या से जोड़कर देखा जा सकता है।

कुछ गंभीर मामलों में स्‍वप्‍नदोष से पीडि़त लोगों को संभोग के दौरान लिंग निष्‍क्रिय होने की समस्‍या हो सकती है। हालांकि अभी तक इस समस्‍या से जुड़ी कोई पुख्‍ता जानकारी नहीं है। लेकिन, अधिकतर जानकार इसके पीछे अधिक कामुक विचारों को ही जिम्‍मेदार मानते हैं।
जब कई दिन तक लगातार ऑर्गेज्‍म हो जाए और लिंग को आराम करने का मौका न मिले, तो स्‍वप्‍नदोष हो सकता है।

स्‍वप्‍नदोष से कैसे बचें

  • कई जानकार मानते हैं कि सोने से पहले हस्‍तमैथुन करने से भी स्‍वप्‍नदोष से बचा जा सकता है। हालांकि, इस बात को लेकर विशेषज्ञों में एकराय नहीं है।
  • रोजाना व्‍यायाम करने से भी शारीरिक ऊर्जा का सही इस्‍तेमाल होता है और आप स्‍वप्‍नदोष से बच सकते हैं।
  • हालांकि, इस टिप को ज्‍यादातर विशेषज्ञ नकारते हैं, लेकिन सेक्‍स के बारे में न सोचकर और हस्‍तमैथुन की संख्‍या कम करके भी इस समस्‍या से बचा जा सकता है।
  • इसके साथ ही आपको सही आहार भी लेना चाहिये। विटामिन बी से भरपूर आहार लेने से भी आप इस समस्‍या से बच सकते हैं।
  • अपने सोने और उठने का समय भी निर्धारित करें।
  • अपने मन को शांत रखिये और किताबें पढ़कर, संगीत सुनकर और दोस्‍तों से बातें कीजिये और स्‍वयं को व्‍यस्‍त रखें।

 

night fall in hindi

स्‍वप्‍नदोष से बचने के कुदरती उपाय

  • रोजाना आंवले का मुरब्बा खायें और उसके ऊपर से गाजर का रस पिएं।
  • तुलसी की जड़ के टुकड़े को पीसकर पानी के साथ पियें। इससे लाभ होगा।
  • अगर जड़ नहीं मिले तो बीज 2 चम्मच शाम के समय लें।
  • काली तुलसी के पत्ते 10-12 रात में जल के साथ लें।
  • लहसुन की दो कली कुचल कर निगल जाएं। थोड़ी देर बाद गाजर का रस पिएं।
  • मुलहठी का चूर्ण आधा चम्मच और आक की छाल का चूर्ण एक चम्मच दूध के साथ लें।
  • रात को एक लीटर पानी में त्रिफला चूर्ण भिगा दें सुबह मथकर महीन कपड़े से छानकर पीने से भी लाभ होता है।
  • अदरक रस 2 चम्मच, प्याज रस 3 चम्मच, शहद 2 चम्मच, गाय का घी 2 चम्मच, सबको मिलाकर सेवन करने से स्वप्नदोष तो ठीक होगा ही साथ मर्दाना ताकत भी बढ़ती है।
Write Comment Read ReviewDisclaimer Feedback
Is it Helpful Article?YES714 Votes 53330 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर