घुटने में गठिया के दर्द को दूर करने के घरेलू नुस्खे

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Dec 10, 2013
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • उम्र बढ़ने के साथ हो सकती है अर्थराइटिस की समस्या।
  • पानी ज्‍यादा पीने से गठिया के दर्द में होता है आराम।
  • गठिया रोग में लहसुन व बथुए का सेवन है लाभकारी।
  • योग से भी मिलती है गठिया के दर्द से काफी राहत।

गठिया अर्थात अर्थराइटिस एक आम समस्या है। उम्र बढ़ने लोगों को अक्‍सर गठिया की शिकायत हो जाती है। शरीर में यूरिक एसिड बढ़ने से गठिया की समस्‍या होती है। यूरिक एसिड ज्‍यादा होने पर यह शरीर के जोड़ो में क्रिस्‍टलों के रूप में जमा होने लगता है, और जोड़ो में असहनीय दर्द और ऐंठन की समस्या हो जाती है। घरेलू नुस्‍खों की मदद से गठिया के दर्द में आराम मिल सकता है। इस लेख को पढ़ें और जानें घर पर घुटने में गठिया का दर्द होने पर इसे कैसे दूर किया जाए।

Arthritis Pain in Knee

उम्र बढ़ने पर गठिया रोग लोगों को अपनी चपेट में ले लेता है। आमतौर पर 50 साल या इससे ज्‍यादा की उम्र में लोगों को हड्डियों और जोड़ों का दर्द परेशान करने लगता है। ऐसे में सीढिया चढ़ना और ज्‍यादा देर बैठने के बाद उठना मुश्किल होता है। गठिया के दर्द से पीड़ित लोग न सीढ़ी चढ़ पाते हैं और न ज्यादा दूर तक बिना के चल पाते हैं। गठिया की शुरुआत घुटनों में हल्के दर्द के साथ होती है। इसके बाद धीरे-धीरे दर्द हाथों की अंगुलियों (जोड़ों) में भी आ जाता है।

 

हिलने पर इस दर्द में परेशानी बढ़ती है। गठिया के दर्द का कोई स्‍थायी इलाज नहीं होता। गठिया में सबसे पहले शरीर में निर्बलता और भारीपन जैसे लक्षण दिखाई देते हैं। शरीर के जोड़ों में होने वाले दर्द से व्‍यक्ति का हिलाना तक मुश्किल हो जाता है। यह दर्द सुबह के समय काफी बढ़ जाता है। ऐसे में शरीर गर्म हो जाता है, और लाल चकत्ते पड़ जाते हैं। जलन की शिकायत भी हो सकती है। गठिया के कारण जोड़ों में होने वाले इस दर्द से कुछ घरेलू नुस्खों की मदद से राहत पाई जा सकती है।


अधिक पिएं पानी

गठिया रोग से ग्रस्त होने पर पानी ज्‍यादा मात्रा में पीना चाहिए। पानी ज्‍यादा पीने से शुरुआत में आपको अधिक पेशाब आने से असहज महसूस होगा, लेकिन कुछ समय में आपको इसकी आदत हो जाएगी। पानी का ज्‍यादा सेवन गठिया में फायदेमंद है।


बथुए का जूस

गठिया में बथुए का सेवन बहुत फायदेमंद होता है। प्रतिदिन इसके पत्तों का 15 ग्राम ताजा रस पिएं। इसका स्‍वाद कसैला होता है, लेकिन दवा के रूप में इसे पीना ही हितकर है। इसे खाली पेट पीने से जल्द ही बेहतर परिणाम सामने आते हैं। लगातार तीन महीने बथुए का जूस पीने से गठिया की समस्‍या में आराम मिलता है।


नियमित खाएं लहसुन

गठिया के रोग में लहसुन का सेवन भी लाभकारी है। नियमित लहसुन खाने से गठिया रोग में आराम मिलता है। हो सकता है आपको भी लहसुन खाना पसंद न हो। ऐसे में आप तड़के में इसका उपयोग कर सकते हैं। सुबह उठने के बाद खाली पेट लहसुन की कलियां भी आप खा सकते हैं।


अरंडी के तेल की मालिश और स्टीम बाथ

गठिया का दर्द असहनीय होने पर जोड़ों पर अरंडी के तेल की मालिश करने से आराम मिलता है। तेल की मालिश करने से दर्द के साथ ही सूजन भी कम कम होती है। मालिश करने के बाद स्‍टीम बाथ ले सकते हैं। स्टीम बाथ को  मालिश से पहले या बाद में भी लिया जा सकता है। जैतून का तेल भी काफी फायदेमंद होता है।

 

कुछ अन्य घरेलू नुस्खे

अदरक जोड़ों के दर्द को ठीक करने के लिए उपयोगी होता है। प्रतिदिन दो बार अदरक खाने से दर्द में राहत मिलती है। इसके अलावा फूल गोभी का रस पीने से भी जोड़ों के दर्द में आराम मिलता है। आप सौंठ का सेवन भी कर सकते हैं। रात को सोने से पहले एक चम्मच सौंठ पाउडर दूध के साथ लेने पर गठिया के दर्द में आराम होता है। दर्द होने पर आप सनबाथ ले सकते हैं या 5 से 10 ग्राम मेथी के दानों का चूर्ण बना कर सुबह पानी के लेने से भी गठिया का दर्द ठीक होता है। 4 से 5 लहसुन की पुति लेकर 250 ग्राम दूध में उबाल कर पीयें। लहसुन के रस को कपूर में मिला कर मालिश करने से भी दर्द ठीक होता है।

 

योग से भी गठिया के दर्द से काफी हद तक राहत मिलती है। इसके लिए आप सूर्य नमस्‍कार, वज्रासन ताड़, गोमुखआसन, आसन, सेतुबंध आसन तथा सुखआसन व वीरभद्र आसन आदि योग आसन कर सकते हैं।

Write a Review Feedback
Is it Helpful Article?YES89 Votes 8003 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर