एक्यूप्रेशर से पाचन शक्ति कैसे बढ़ाएं

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Aug 12, 2014
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • पाचन शक्ति बढ़ाने के लिए एक्यूप्रेशर की मदद लेना फायदेमंद है।
  • संबंधित समस्या से जुडे प्वाइंट की जानकारी होना जरूरी है।
  • एक्यूप्रेशर की प्रक्रिया के बारे में पहले किसी विशेषज्ञ की सलाह लें। 
  • इससे पाचन से जुड़ी समस्याओं पर भी काबू पा सकते हैं।

एक्यूप्रेशर तकनीक शरीर के कई रोगों से निजात दिलाता है जिसमें पाचन से जुड़ी समस्याएं भी शामिल हैं। अगर आप पाचन शक्ति को मजबूत बनाना चाहते हैं या इससे जुड़ी किसी समस्या से जूझ रहे हैं तो एक्यूप्रेशर की मदद लेना अच्छा हो सकता है।

 

शरीर में कई एक्यूप्रेशर प्वाइंट होते हैं जिन्हें दबाने से अलग-अलग बीमारियों में फायदा मिलता है। लेकिन इन प्वाइंट की सही जानकारी होना बहुत जरूरी है। अगर आपको पाचन से जुड़ी कोई समस्या है तो इससे शरीर का मेटाबॉलिज्म पर भी असर पड़ता है। आइए जानें जो लोग पाचन शक्ति बढाना चाहते हैं या इससे जुड़ी समस्या से जूझ रहें हैं वो किस तरह एक्यप्रेशर की मदद ले सकते हैं।

acuepressure for digestion

पेट के ऊपरी हिस्से में

अपनी मध्य अंगुली से पेट के ऊपरी हिस्से (Rn12) पर तीस बार मालिश करें। उसके बाद उस जगह को अपनी हथेली से पहले क्लॉकलाइस और फिर एंटी क्लॉकवाइस रगड़ें। इस प्रक्रिया को भी तीस बार करें।


पेट के ऊपरी हिस्से के मध्य में  

मध्य अंगुली की मदद से को पेट के ऊपरी हिस्से की बीच की लाइन में दबाएं और फिर छोड़ें। इस प्रक्रिया को तीस बार करें।


नाभि के दोनों तरफ

नाभि के दोनों तरफ वाली जगह को अपने दोनों हाथों की अंगुलियों से दबाएं फिर पेट के निचले हिस्से तक उसे रगड़े। इस प्रक्रिया को भी तीस बार करें।


बैक में

अपने पीठ के दोनों तरफ दो एक्यूप्रेशर प्वाइंट होते हैं जो पाचन शक्ति बढ़ाते हैं। अपने हाथों से पीठ के इन प्वाइंट जिसे (BI20,21) कहा जाता है, उन्हें दबाएं।

acuepressure for digestion

दोनों हाथों की कलाइयों में 

अपने दोनों हाथों की कलाइयों के बीचों-बीच में भी एक प्वाइंट होता है जिसे (Pc6) कहा जाता है। दोनों हाथों की कलाइयों के इस प्वाइंट को तीस बार दबाएं। 


दोनों पैरो में


दोनों पैरों के घुटने के नीचे ही (St36) नामक एक प्वाइंट है इसे रोज तीस बीर दबाएं। यह आपकी पाचन शक्ति को मजबूत बनाकर इससे जुड़ी समस्याओं को दूर करेगा।
 


इन एक्यूप्रेशर प्वाइंट की मदद  से आप पाचन शक्ति बढ़ाने के साथ कब्ज, गैस और पेट से जुड़ी सभी समस्याओं पक काबू पा सकते हैं। जब आप एक्यूप्रेशर की प्रक्रिया को अपनाते हैं तो जो दबाव आप प्वाइंट्स पर लगाते हैं उससे संवेदनशून्यता और पीड़ महसूस होती है जबकि रगड़ने से गर्माहट का एहसास होना चाहिए।

 

 

 

Write a Review Feedback
Is it Helpful Article?YES57 Votes 9609 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर