कैंसर के खतरे को कम करने के उपाय

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Jul 30, 2013
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • कुछ चीजों के गलत प्रयोग से इनफेक्‍शन होने का खतरा रहता है।
  • अल्‍कोहल के ज्‍यादा सेवन से भी कैंसर का खतरा होता है।
  • मोटापे से भी कैंसर का खतरा बना रहता है।
  • सूरज की यूवी किरणों के असर से स्किन कैंसर होने का खतरा बना रहता है।

कैंसर सबसे खतरनाक बीमारी है। यह शरीर की कोशिकाओं में तेजी से फैलने वाला रोग है। कैंसर के शुरूआती चरण में ही इसका उपचार संभव है। यदि य‍ह दूसरे चरण में पहुंच जाता है तो इसका उपचार मुश्किल होता है। क्षतिग्रस्‍त कोशिकाओं के ऊतकों तक फैलने पर कैंसर जानलेवा भी साबित हो सकता है।

कैंसर की जानकारी ही इस रोग का बचाव है। इस लेख के जरिए हम आपको बता रहे हैं कैंसर के खतरे को कम करने वाले कुछ उपाय। इन उपयों के जरिए आप उम्र बढ़ने पर भी बीमारियों रहित जीवन जी सकते हैं।

 

तम्‍बाकू के इस्‍तेमाल से बचें
तम्‍बाकू का सेवन करने वालों को कैंसर का खतरा ज्‍यादा होता है। धूम्रपान करने वालों को कई प्रकार के कैंसर जैसे फेफड़ों में कैंसर, ब्‍लैडर कैंसर, गर्भाश्‍य कैंसर और किडनी कैंसर आदि होने की आशंका रहती है। यदि आप गुटखे का सेवन करते हैं तो मुंह में और पाचक ग्रंथि में कैंसर हो सकता है। यदि आप स्‍मोकिंग नहीं भी करते, लेकिन धूम्रपान करने वालों के संपर्क में रहते हैं तो आपके फेफड़ों में कैंसर होने की आशंका बनी रहती है। इसलिए तम्‍बाकू के सेवन से बचना चाहिए। यदि आप गुटखा या सिगरेट नहीं छोड़ पा रहे हैं तो इसके लिए चिकित्‍सक से संपर्क कर सकते हैं।

cancer cells

पौष्टिक भोजन का सेवन करें
भोजन में पौष्टिक आहार का सेवन करना चाहिए। किराना स्‍टोर पर घरेलू सामान खरीदने जाएं तो चीजों का सोच समझकर चुनाव करें। वहीं चीजें खरीदकर लाएं जो आपके शरीर के लिए जरूरी पौष्टिक तत्‍वों को पूरा करती हों। फल और हरी सब्जियों को भोजन में शामिल करें। गेहूं और बीन्‍स का सेवन भी कैंसर के खतरे को कम करता है। जिन चीजों में फैट कम हो, उनका सेवन करें। ज्‍यादा फैट वाले पदार्थों में कैलोरी की मात्रा ज्‍यादा होती है। कैलोरी के ज्‍यादा सेवन से आपका वजन बढ़ सकता है। मोटापे से भी कैंसर का खतरा बना रहता है।


शारीरिक रूप से सक्रिय रहें
शारीरिक रूप से सक्रिय रहने पर आपका वजन नियंत्रित रहता है। वजन कम होने से ब्रेस्‍ट कैंसर, प्रोस्‍टेट कैंसर, फेफड़ों का कैंसर, मलाशय कैंसर और किडनी कैंसर होने का खतरा भी कम रहता है। सप्‍ताह में कम से कम 150 मिनट यानी ढाई घंटे शारीरिक व्‍यायाम करने की कोशिश करें। यदि आप स्‍वस्‍थ रहना चाहते हैं तो प्रतिदिन 30 मिनट व्‍यायाम करने की आदत अपनी दिनचर्या में शामिल कर लें।

सूरज की किरणों से बचाव करें
स्किन कैंसर आम कैंसर है। सूरज की यूवी किरणों के असर से स्किन कैंसर होने का खतरा बना रहता है। सुबह 10 बजे से लेकर शाम 4 बजे तक बाहर निकलने से परहेज करें। इस दौरान सूरज की किरणों का सबसे ज्‍यादा असर होता है। बाहर होने पर कोशिश करें कि छाया वाले स्‍थान पर खड़ें हो, साथ ही ऐसे में सनग्‍लास और टोपी का इस्‍तेमाल करें। ढीले कपड़ें पहनें, ताकि आपकी त्‍वचा ज्‍यादा से ज्‍यादा कवर हो सकें। तेज धूप में गहरे रंग वाले कपड़ें न पहनें।

consumption of alchohal

 

अल्‍कोहल का सेवन कम करें
अल्‍कोहल के ज्‍यादा सेवन से भी कैंसर का खतरा होता है। यदि आप कैंसर की आशंका से बचना चाहते हैं तो अल्‍कोहल का सेवन कम करें। यदि आप लंबे समय तक ज्‍यादा मात्रा में अल्‍कोहल लेते हैं तो आपको ब्रेस्‍ट कैंसर, गुदा कैंसर, फेफड़ों का कैंसर और लिवर कैंसर हो सकता है।

 

इनफेक्‍शन से बचाव
कुछ चीजों के गलत प्रयोग से आपको इनफेक्‍शन होने का खतरा रहता है। इनफेक्‍शन बढ़ने से कैंसर होने का आशंका रहती है। उदाहरण के लिए सुरक्षित सेक्‍स करें। आप ज्‍यादा लोगों से शारीरिक संबंध न बनाएं और सेक्‍स करते समय कंडोम का इस्‍तेमाल करें। यदि आप ज्‍यादा लोगों से शारीरिक संबंध बनाते हैं तो आपके एचआईवी पॉजिटिव होने का खतरा बना रहता है। एचआईवी पॉजिटिव लोगों में गुदा कैंसर, योनी कैंसर और गले के कैंसर की शिकायत ज्‍यादा होती है। इसके साथ ही एक बार इस्‍तेमाल की गई सीरिंज को दोबारा यूज न करें।

 

Read More Article On Cancer In Hindi

 

 

 

 

Write a Review
Is it Helpful Article?YES11 Votes 4567 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर