प्‍यार की गाड़ी को कैसे लाएं पटरी पर

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Nov 26, 2014
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • घर के कामों को आपस में बांटना है बेहतर।
  • रिश्‍ते की बुनियाद है एक दूसरे पर भरोसा करना।
  • पैसों के मामलों में आपस मे राय जरूर करें।
  • संवादहीनता से ही शुरू होती हैं रिश्तों की परेशानियां।

रिश्‍ते की गाड़ी कभी सरपट नहीं दौड़ती। इसमें उतार-चढ़ाव आते रहते हैं। और अगर आप समय रहते अगर इन परेशानियों का सही आकलन कर लें, तो इन्‍हें आसानी से पार कर सकते हैं।

परेशानियां हर रिश्‍ते में आती हैं। और जो इनसे पार पाने का सलीका और तरीका सीख लेते हैं उनके रिश्‍ते में माधुर्य बना रहता है। वे साथ रहते हैं। परेशानियों का सामना करते हैं और समझ जाते हैं कि रोजमर्रा की परेशानियों से जूझते हुए अपने जीवन में कैसे आगे बढ़ना है। हर किसी का इससे निपटने का अपना अलग तरीका होता है। कुछ किताबों का रुख करते हैं तो कुछ सेमिनार और काउंसलिंग का तरीका अपनानते हैं। कुछ लोग कामयाब जोड़ों के जीवन पर नजर रखते हैं।

समस्‍या #1 : संवादहीनता

communication gap in hindi


संवादहीनता के कारण ही सबसे ज्‍यादा परेशानियां होती हैं। अपने फोन या टीवी पर नजर गढ़ाए रखकर आप संवाद स्‍थापित नहीं कर सकते। संवाद के लिए जरूरी है कि दो लोगों के शब्‍दों के बीच सीधा संबंध हो।

कैसे करें समाधान

  • एक दूसरे से औपचारिक मुलाकात करें। मिलें और संवाद करें कि आखिर आप दोनों के बीच क्‍या गड़बड़ चल रहा है। अगर आप विवाहित हैं और साथ रहते हैं, तो फोन बंद रखें और बच्‍चों से अलग होकर आराम से बात करें।
  • अगर आप ऊंची आवाज में बात किये बिना संवाद नहीं कर सकते, तो किसी सार्वजनिक स्‍थल पर जाएं। पार्क, लाइब्रेरी या रेस्‍तरां आदि किसी भी ऐसे स्‍थान पर जहां आपको ऊंची आवाज में बात करने में असहजता हो।
  • अपने साथी की बात न काटें। न ही कड़वी बात बोलें। इसके साथ ही अच्‍छे संवाद के लिए जरूरी है कि आप दूसरे साथी पर आरोप लगाने की शैली में बात न करें। आप दोनों मसलों को सुलझाने के लिए बैठे हैं न कि आरोप लगाने के लिए।
  • आपकी शारीरिक भाषा इस प्रकार की होनी चाहिये कि आप अपने साथी की सुन रहे हैं। अगर आप उसकी बातों को तवज्‍जो नहीं दे रहे हैं, तो फिर साथ बैठने का फायदा ही क्‍या। किसी भी बात पर त्‍वरित प्रतिक्रिया देने से बचें। अगर कोई बात समझ में न आयी हो, तो उसे दोहरकर अपने साथी से पुष्टि कर लें कि क्‍या उसने वही कहा है, जो आप समझ रहे हैं।

 

समस्‍या #2 - विश्‍वास की कमी

lack of trust in hindi

विश्‍वास किसी भी रिश्‍ते का आधार होता है। अगर रिश्‍ते में विश्‍वास की कमी है तो वह आगे नहीं बढ़ सकता। क्‍या आपको रिश्‍ते में कुछ ऐसे कारण नजर आते हैं जो आपको आगे नहीं बढ़ने देते। या फिर आप खुद दूसरों पर भरोसा करने से डरते हैं।

कैसे करें समाधान

  • वक्‍त देकर जरूर आयें। जो काम आपने करने की हामी भरी हो उसे जरूर करें।
  • अपने साथी से झूठ न बोलें। और बहस के दौरान भी गरिमा बनाये रखें।
  • दूसरों की भावनाओं का खयाल रखें। असहमति हो सकते है, लेकिन इससे अपने साथी की भावनाओं को आहत न होने दें।
  • गलत बातों पर ओवररिएक्‍ट न करें।
  • बहस के दौरान गढ़े मुर्दे न उखाड़ें।
  • ईर्ष्‍या न करें और अच्‍छे श्रोता बनें।

 

समस्‍या #3 : पैसा

money issue in hindi

रिश्‍तों के बीच पैसा आने से कई समस्‍यायें हो सकती हैं। कई बार यह समस्‍या शादी से पहले ही शुरू हो जाती है। अगर वाकई आप दोनों के रिश्‍ते के बीच पैसा अपने पैर पसार रहा है, तो बेहतर है कि आप दोनों गहरी सांस लेकर बैठें और फाइनेंस से जुड़े पहलुओं पर जरूरी चर्चा करें।

कैसे करें समाधान

 

  • अपनी मौजूदा वित्‍तीय स्थिति के प्रति ईमानदार रहें। अगर आर्थिक हालात थोड़े सख्‍त हों, तो अपने जीने के अंदाज में बदलाव लाना लाजमी है।
  • धन को लेकर गर्मागर्म बहस करने से बचें। इससे कोई नतीजा निकलने वाला नहीं है। जरूरत है कि आप अपनी वित्‍तीय नीतियों और प्राथमिकताओं के बारे में बैठकर बात करें।
  • इस तथ्‍य को स्‍वीकार करें कि एक साथी खर्च करेगा और दूसरा बचाने का काम करता है। इस बात को समझिये कि दोनों के अपने फायदे हैं। इस तथ्‍य को स्‍वीकार करें और एक दूसरे की इस आदत से सीखें।
  • अपनी कमाई और उधार आदि के बारे में अपने साथी से न छुपायें। आप दोनों को एक दूसरे के आर्थिक हालात के बारे में सही जानकारी होनी चाहिये।
  • आप दोनों साथ मिलकर अपने घर के खर्चों और बचत का बजट बनाइये।

 

समस्‍या #4 : कौन करेगा घर के काज

 

Household work in hindi

आजकल पति पत्‍नी दोनों कामकाजी होते हैं। और ऐसे में घर के छोटे मोटे काम कौन करेंगा, इस बात को लेकर भी दोनों के बीच झगड़े होते रहते हैं। आखिर इस समस्‍या से कैसे पार पाया जा सकता है।

कैसे करें समाधान

  • घर पर अपने कामों का सही प्रकार बंटवारा करें। काम को यूं ही फैलाकर न रखें। अपने कामों को लिखकर रखें और आराम से बैठकर उस पर बात करें।
  • अन्‍य विकल्‍पों का भी ध्‍यान रखें। अगर आप दोनों को घर की साफ-सफाई करना पसंद नहीं है, तो आप 'पेड सर्विस' भी रख सकते हैं। अगर किसी एक साथी को सफाई करना पसंद करना है, तो दूसरा साथी बाकी काम कर सकता है। कहने का अर्थ है कि आप दोनों को मिलजुल कर सारे काम निपटा लेने चाहिये।

 

समस्‍या #5 - प्राथमिकतायें

pririoty in hindi
अगर आप अपने जीवन में प्‍यार चाहते हैं, तो जरूरी है कि आप अपने रिश्‍ते को अहमियत दें। रिश्‍ते में अहं का कोई स्‍थान नहीं होता। मैं नहीं हम के आधार पर रिश्‍ता चलता है।

कैसे करें समाधान

  • प्‍यार को जवां बनाये रखने के लिए वही काम करें जो आप रिश्‍ते की शुरुआत में किया करते थे। एक दूसरे के प्रति आभार जतायें। एक दूसरे की तारीफ करें। एक दूसरे की बातों में रुचि दिखाना, इन सब कामों को दोहरायें।
  • अन्‍य जरूरी कामों की ही तरह साथ वक्‍त बिताने को भी अहमियत दें। याद रखिये परिवार जीवन की धुरी होता है और अगर यह धुरी बिगड़ जाए तो सारा जीवन बिगड़ जाता है।
  • एक दूसरे का सम्‍मान करें। एक दूसरे की अहमियत को समझें।

 

समस्‍या #6 - झगड़ा

 

conflict in couple in hindi

कभी-कभार झगड़ा होना आम बात है। लेकिन आप दोनों के बीच यह रोज की बात बन जाए तो वक्‍त आ गया है कि आप इस बारे में गंभीरता से सोचें। जानने का प्रयास करें कि आखिर वे कौन सेी बातें हैं जिनके कारण आप दोनों के बीच इतनी बहस होती है। रोजमर्रा की जिंदगी से ब्रेक लें।

कैसे करें समाधान

  • आप और आपका साथी संयमित तरीके से बात कर सकते हैं। अपने रिश्‍ते में संवाद का तरीका हमेशा सहज और संयमित ही रखें।
  • याद रखिये आप पीडि़त नहीं है, प्रतिक्रिया देना या न देना यह पूरी तरह आप पर ही निर्भर करता है।
  • स्‍वयं के प्रति ईमानदार रहें। जानें कि बहस के दौरान आप किस तरह के कमेंट करते हैं और उनके क्‍या नतीजे निकलते हैं।
  • अपनी गलती होने पर माफी मांग लेने में कोई बुराई नहीं। इससे आपका रिश्‍तो मजबूत ही होगा। अहं को छोड़कर अपने रिश्‍ते की मजबूती के बारे में सोचें।




रिश्‍ते में समस्‍यायें आएंगी, लेकिन अगर आप दोनों मिलकर उसका सामना करेंगे तो बेहतर रहेगा। कभी-कभार हंसी मजाक का तड़का लगायें और अपने रिश्‍ते में आनंद बनाये रखें।

 

Image Courtesy- Getty Images

Write a Review Feedback
Is it Helpful Article?YES31 Votes 6704 Views 1 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

टिप्पणियाँ
  • kamal 28 Nov 2014

    सही कह रहे हैं आप। प्‍यार की गाड़ी सही रफ्तार से दौड़ती रहे इसके लिए जरूरी है कि दोनों साथी मिलकर काम करें। आपके लेख में अच्‍छी बात यह है कि आपने केवल समस्‍याओं की ओर ध्‍यान नहीं दिलाया, जैसाकि अधिकतर लेखों में होता है। आपने उनका समाधान बल्कि मैं कहूंगा कि व्‍यावहारिक समाधान बताया है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर