घर पर सही क्रम से पैरों में आयुर्वेदिक मसाज करने के टिप्‍स

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Jun 16, 2015
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • लगातार कई घंटों तक जूते पहनने से पैर थक जाते हैं।
  • जूते पहनना आप छोड़ नहीं सकते, पैरों के लिए दूसरे उपाय की मदद लें।
  • आयुर्वेदिक पैरों की मसाज से आपके पैरों को आराम महसूस होता हैं।
  • अच्‍छे परिणाम पाने के लिए अपने पैरों की नियमित मसाज करें।

क्‍या आपने कभी सोचा है कि पूरा दिन चमड़े के जूते पहनने के बाद आपके पैर का क्‍या हाल होता होगा? खैर, आप सोच सकते हैं कि पूरा दिन काम करने के बाद आपके पैर कैसा महसूस करते होगें। हालांकि इस समस्‍या से बचने के लिए पैरों की मसाज का ख्‍याल आपके मन में कई बार आय होगा लेकिन हर बार अपनी पॉकेट के बारे में सोचकर आपने खुद को रोक लिया होगा। लेकिन आप घबराइए नहीं क्‍योंकि घर पर सही क्रम से पैरों की आयुर्वेदिक मसाज की मदद से आप अपने पैरों को आराम दे सकते हैं।

foot massage in hindi

मसाज पैरों की कैसे मदद करती है?

विशेषज्ञों के अनुसार, नियमित रूप से पैरों में मसाज करने से पैरों का ब्‍लड सर्कुलेशन बढ़ता है। इससे थकान को दूर करने, स्‍ट्रेथ को बढ़ाना और मसल्‍स को टोन करने में मदद मिलती है। क्‍योंकि सभी शरीर के सभी एक्‍यूप्रेशर अंक पैरों में उपस्थित होते हैं, और पैरों की मसाज करने से आइस्ट्रेन और स्‍ट्रेस से अच्‍छी तरह से राहत मिलती है। साथ ही सात चक्रों में ऊर्जा संतुलन में मदद करता है। और तो और पैरों में नियमित रूप से तेल लगाने से त्‍वचा के आम रोग जैसे फटी एडि़यां और दूसरे बैक्‍टीरियल और फंगल इंफेक्‍शन को रोकने में भी मदद मिलती है।
 

घर पर आयुर्वेदिक मसाज के उपाय  

 

स्‍टेप 1 : आवश्यक चीजें

घर पर पैरों की आयुर्वेदिक मसाज करने के लिए आपको गर्म पानी के एक टब, थोड़ी सी अदरक और नमक, पैरों को पौने के लिए एक तौलिये ओर आपके मनपंसद मसाज ऑयल (नारियल तेल, तिल या सरसों के तेल) की जरूरत होती है। लेकिन गर्मियों में तिल के तेल का इस्‍तेमाल न करने की सलाह दी जाती है, क्‍योंकि यह शरीर में गर्मी पैदा करता है।

materials for massage in hindi

स्‍टेप 2: पैर को पानी डूबोकर रिलैक्‍स करें

गर्म पानी के टब में थोड़ी सी कुचली अदरक और एक चम्‍मच समुद्री नमक की मिला लें। अब अपने पैरों को टब में डूबोकर 20 से 30 मिनट के लिए रिलैक्‍स करें। आप अपनी पीठ को आराम से कुर्सी पर और अपने सिर के समर्थन के लिए तकिये का उपयोग करें। थकान बहुत ज्‍यादा महसूस होने पर आप टब में गुलाब की कुछ पंखुडि़या भी मिला सकते हैं। इसकी अरोमा आपको रिलैक्‍स और तनाव को जल्‍द कम करने में मदद मिलती है।   

स्‍टेप 3: अपने पैरों को बाहर निकालकर तेल लगाये

अपने पैरों को टब से बाहर निकालकर उसे सूखा लें। अब अपने पैरों पर थोड़ा सा तेल लगाकर अपने हाथों और पैरों के बीच बहुत कम घर्षण के साथ मसाज करें।

foot massage in hindi

स्‍टेप 4: पैरों की मसाज

प्रत्‍येक पैर में 15 से 20 मिनट तक मसाज करें। एड़ियों के आसपास सर्कुलर मोशन से अपनी उंगलियों द्वारा मसाज शुरू करे। मसाज पैरों के नाखूनों से शुरू करें। फिर पैरों की उंगलियों के बीच में खाली जगह पर मसाज करें। नाखूनों को हलके से दबाएं। घुटनों के नीचे हलके से रगड़ें। उसके बाद अपनी उंगलियों और अंगूठे की मदद से अपनी पिण्‍डली से एड़ी के बीच के मसल्‍स को नीचे की तरफ दबाये। फिर टखने के नीचे की मसाज करें और पैरों की उंगलियों की दिशा की ओर दबाये। आप पैरों के अंगूठे के बीच अपनी तर्जनी और अंगूठे की मदद से मसाज करें। अब अपने अंगूठे को पैर के बीच में लाकर नीचे की ओर मसाज करें। हथेली की मदद से एड़ी के नीचे सर्कुलर मोशन में प्रेस का उपयोग कर एड़ी की मसाज करें।
    
इस तरह से आप आसानी से घर में ही सही स्‍टेप की मदद से अपने पैरों में होने वाले दर्द को पैरों की आयुर्वेंदिक मसाज से आसानी से दूर कर सकते हैं।
 
Image Source : Getty

Read More Articles on Ayurveda in Hindi

Write Comment Read ReviewDisclaimer Feedback
Is it Helpful Article?YES23 Votes 3543 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर