शरीर को कैसे प्रभावित करती हैं थायराइड समस्‍यायें

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Oct 31, 2012
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • थायराइड ग्रंथि के कारण शरीर को मिलती है ऊर्जा।
  • ओवर और अंडर एक्टिव होने पर होती है समस्‍या।
  • थकान, अनिद्रा, वजन घटना आदि हैं प्रमुख लक्षण।
  • यह दिमाग की प्रतिक्रिया को भी प्रभावित करता है।

थायराइड ग्रंथि गले के अगले-निचले हिस्‍से में होती है। थायराइड ग्रंथि दो प्रकार(टी3 और टी4) के हार्मोन का स्राव करती है। ये शरीर के मेटाबॉलिज्‍म को संचालित करते हैं। ये दोनों हार्मोन शरीर में कोशिकाओं को उकसाते हैं, जिससे शरीर में ऊर्जा का स्‍तर बना रहता है। इसके अलावा थायराइड ग्रंथि हमारे दिल की धड़कन, याद्दाश्‍त, पाचन शक्ति और हड्डियों में कैल्सियम की मात्रा को नियंत्रित करता है। जब थायराइड ग्रंथि अंडर-एक्टिव होती है तब हाइपोथायराइडिज्‍म और जब ओवर-एक्टिव होती है तब हाइपरथायराइडिज्‍म की समस्‍या होती है। इ‍सलिए थायराइड समस्‍यायें हमारे शरीर को बहुत प्रभावित करती हैं। आइए जाने थायराइड समस्‍या होने पर शरीर को क्‍या–क्‍या दिक्‍कतें होती हैं। 

Thyroid Problems in Hindi

थायराइड समस्‍यायें और उनका प्रभाव

  • इस स्थिति में शारीरिक व मानसिक विकास धीमा हो जाता है।
  • इसकी कमी से बच्चों में क्रेटिनिज्म (इससे बच्‍चों का मानसिक और शरीरिक विकास रूक जाता है)  नामक रोग हो जाता है |
  • अगर यह छोटे बच्‍चों (लगभग 12 से 14 साल) के बच्‍चे को हो जाए तो बच्चे की शारीरिक वृद्धि रुक जाती है और वह अपने उम्र से कम (4 से 6 साल) का दिखने लगता है।
  • इससे शरीर का वजन बढ़ने लगता है एवं शरीर में सूजन भी आ जाती है |
  • इससे दिमाग अच्‍छे से काम नहीं करता जिसके कारण सोचने व बोलने की  क्रिया धीमी हो जाती है।
  • शरीर का ताप कम हो जाता है, जिसके कारण बाल झड़ने लगते हैं तथा गंजेपन  की स्थिति आ जाती है |


हाइपरथायरायडिज्म में शारीरिक समस्‍यायें

  • शरीर का ताप सामान्य से अधिक हो जाता है |
  • नींद नहीं आती, हमेशा उत्‍तेजना बनी रहती है और घबराहट जैसे लक्षण उत्पन्न हो जाते हैं |
  • इसमें शरीर का वजन कम होने लगता है |
  • कई लोगों की हाथ-पैर की अंगुलियों में कम्पन होने लगता है।
  • ऐसी स्थिति में मधुमेह रोग होने की संभावना बढ़ जाती है।
  • घेंघा रोग हो जाता है।
  • शरीर में आयोडीन की कमी हो जाती है |

Thyroid Problems Affect Body in Hindi

थायरायड ग्रंथि का कार्य

  • बच्चों के विकास में थायराइड ग्रंथि का विशेष योगदान होता है |
  • थायराइड ग्रंथि शरीर में कैल्शियम एवं फास्फोरस को पचाने में मदद करता है।
  • इसके द्वारा शरीर के ताप को नियंत्रित किया जाता है।
  • शरीर से दूषित पदार्थों को बाहर निकालने में सहायक होता है।

 

हमारे शरीरिक विकास के लिए थायराइड फंक्‍शन का सुचारू तरीके से काम करना बहुत जरूरी होता है। अगर थायराइड की समस्‍या हो जाए तो कई शारीरिक समस्‍यायें शुरू हो जाती हैं। इसलिए अगर आपको लगे कि आपकी थायराइड ग्रंथि अच्‍छे से काम नही कर रही है तो इस बारे में चिकित्‍सक से सलाह अवश्‍य लीजिए।

 

Image Source - Getty Images

Read MOre Articles on Thyroid Problems in Hindi

Write a Review Feedback
Is it Helpful Article?YES59 Votes 17122 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर