यूं करें दांतों की देखभाल

By  ,  दैनिक जागरण
Sep 26, 2012
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • मोती जैसे दांत आपकी हंसी में चार चांद लगा देगा।
  • दांत सुंदरता के साथ स्वास्थ्य की भी गवाही देते हैं।
  • दूध में मौजूद विटामिन डी और कैल्शियम, दांत बनाए मजबूत।
  • लौंग में मौजूद यूजेनाल दांत दर्द के लिए रामबाण है।

हंसी तो वह है, जिसमें आपके दांतों का स्वास्थ्य भी झलके। मतलब साफ है कि दांतों का नाता केवल खूबसूरती से ही नहीं होता। मजबूत और साफ दांतों के बिना जिंदगी मुश्किल हो जाती है।

Brushing

अत: कुछ महत्पूर्ण बातों को जानना और अमल में लाना जरूरी है। जैसे :

  • दूध में विटामिन डी और कैल्शियम की पर्याप्त मात्रा होती है, जो दांतों की मजबूती के लिए आवश्यक है। लेकिन रात को सोने से एक घंटा पहले दूध न पिएं। इससे दांतों की केविटी पर असर पड़ता है।
  • लौंग दांत दर्द के लिए लाभकारी है। लौंग में मौजूद यूजेनाल दांत दर्द के लिए रामबाण है। लौंग को दर्द हो रहे दांत के बगल वाले दांत पर रखें।
  • अकसर लोग मानते हैं कि लेमन जूस पीने से दांतों में चमक आती है। लेकिन इसमें मौजूद साइट्रिक एसिड नुकसानदायक है।
  • माउथवाश का प्रयोग कम से कम करें। इसमें मौजूद अल्कोहल से दांतों में पीलापन आता है।
  • लोग अकसर खाना खाने के बाद भी ब्रश करते हैं। यह नुकसानदायक है। खाने के बाद पानी पीना या केवल कुल्ला करना ही पर्याप्त है।
  • काली मिर्च के पाउडर और नमक का मिश्रण बनाकर रखें। नियमित रूप से इसका सेवन केविटी, मंुह से बदबू और दांतों के दर्द में लाभदायक होता है।
  • लहसुन की एक कली को पीनट बटर के साथ पीसकर दांतों में लगाएं। दर्द में राहत मिलेगी।

 

Read More Article On Teeth Care in Hindi

 

Write a Review
Is it Helpful Article?YES52 Votes 21418 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर