आदतें जिनसे बढ़ेगी आपकी याद्दाश्‍त

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Jun 07, 2011
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • शरीर में शर्करा की ज्यादा मात्रा दिमाग की क्षमता को कम कर देती है।
  • यद्दाश्त के लिए ओमेगा-3 फैटी एसिड काफी लाभदायक होता है।
  • विटामिन बी12 के संवन से भी एकाग्रता बढ़ती है और याद्दाश्त तेज होती है।
  • याद्दाश्त कमजोर करने वाले कारणों के बारे में भी जानकारी होनी चाहिये।

 

करियर से लेकर घरेलू संबंधों तक हमारी याद्दाश्त बहुत ही महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। इसलिये इसका तेज होना बेहद जरूरी होता है। लेकिन जिन लोगों की यद्दाश्त कमजोर हो जाती है वे भी अब खुश हो सकते हैं क्योंकि कुछ टिप्स की मदद से आप अपनी याद्दाश्त को तेज बना सकते हैं और हर बात से लिये रिमांइडर लगाने से बच सकते हैं। लेकिन इससे पहले याद्दाश्त कमजोर करने वाले कारणों के बारे में भी जानकारी होनी चाहिये।

 

 

5 ऐसी आदतें बतायेंगे, जो दिमाग को कमजोर बनाती है- 

  • नाश्ता नहीं लेना। ऑफिस या स्कूल पहुंचने, जल्दी-जल्दी काम निपटाने के चक्कर में नाश्ता नहीं करने की आदत से दिमाग को गंभीर नुकसान पहुंचता है।
  • जरूरत से ज्यादा खाना। जरूरत से ज्यादा खाने की आदत मस्तिष्क को भी कमजोर बनाती है।
  • धूम्रपान करना। धूम्रपान से दिमाग की नसें सिकुड़ने लगती है। यह आगे चलकर अल्जाइमर का खतरा बढ़ा देता है।
  • ज्यादा मीठा खाना। शरीर में शर्करा की ज्यादा मात्रा दिमाग की क्षमता को कम कर देती है।
  • पर्याप्त नींद न लेना। पर्याप्त नींद ना लेने से मस्तिष्क की कोशिकाओं के नष्ट होने की प्रक्रिया तेज हो जाती है।

 

बादाम का सेवन

4 से 5 बादाम रात को भिगोकर सुबह उनके छिलके उतार कर बारीक पीस लें। अब इस पेस्ट को लगभग 250 ग्राम दूध में घोलकर कुछ देर तक धीमी आंच पर उबालें और फिर ठंडा कर पीएं। इसके सेवन से दिमाग की क्षमता में काफी वृद्धि होती है।

 


शंखपुष्पी

एक चाय के बड़े चम्मच शंखपुष्पी का चूर्ण को दूध या मिश्री के साथ रोजाना तीन से चार हफ्ते तक लें। इसके सेवन से सिर का दर्द, आंखों की कमजोरी, आंखों से पानी आना, आंखों में दर्द होने व यद्दाश्त कमजोर होने जैसी कई समस्याएं ठीक होती हैं।


ओमेगा-3 फैटी एसिड

दिमाग और यद्दाश्त के लिए ओमेगा-3 फैटी एसिड काफी लाभदायक होता है। शरीर में फ्लेवोनॉइड की मात्रा बढ़ाने के लिए लाल अंगूर, प्याज, सेब, ग्रीन-टी, ब्लैक-टी आदि का सेवन बढ़ाना चाहिए। इसे मछली, सरसों के तेल, सोयाबीन, अखरोट, फ्लैकसीड आदि का सेवन कर भी प्राप्त किया जा सकता है।


इसके अलावा विटामिन बी12 के संवन से भी एकाग्रता बढ़ती है और याद्दाश्त तेज होती है। शरीर में आयरन की कमी से भी दिमाग की परफॉर्मेंस पर असर पड़ता है। इसके लिए मीट, मछली, लेनटिल और बीन्स आदि का सेवन करना चाहिए।

 

Write a Review
Is it Helpful Article?YES53 Votes 14440 Views 1 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

टिप्पणियाँ
  • Dnyaneshwar Jaiswal26 Mar 2013

    Hi My Name Is Dnyaneshwar Jaiswal My Brain Memory Is Low Please Tell me How To Brain Memory is Fast Working

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर