जल जाने पर ऐसे करें लैवेंडर तेल का प्रयोग

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Apr 06, 2016
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • लैवेंडर तेल सभी आवश्‍यक तेलों में सबसे बहुमुखी है।
  • इसकी खुशबू शान्तिदायक और आरामदायक होती है।
  • तेल में एंटीसेप्टिक और एंटीबायोटिक गुण मौजूद है।
  • ज्‍यादा जलने पर तुरंत चिकित्‍सक से संपर्क करें।

अद्भुत खूशबू वाला लैवेंडर तेल सभी आवश्‍यक तेलों में सबसे बहुमुखी है। इसका प्रयोग परफ्यूम और बॉथ प्रोडक्‍ट में किया जाता है। इसकी खुशबू शान्तिदायक, आरामदायक और संतुलनदायक होती है। कई लोग औषधीय प्रयोजनों के कारण किचन में लैवेंडर की छोटी सी बोतल रखते हैं, खासतौर पर मामूली जलने या घाव के लिए तो इसका प्रयोग किया जाता है। लैवेंडर ऑयल घाव को साफ करने, चोट और त्वचा खुजलाहट के लिये भी उपयोगी होता है।   

lavender oil for burns in hindi

जलने पर लैवेंडर तेल का प्रयोग  

त्‍वचा के जल जाने पर आपका सबसे पहला कदम कम से कम दस मिनट तक त्‍वचा को पानी के नीचे रखना होता है। लेकिन कभी भी त्‍वचा पर बर्फ का उपयोग नहीं करना चाहिए, क्‍योंकि इससे आपकी त्‍वचा को नुकसान हो सकता है। अगर आपके घर में ऐलोवेरा का पौधा है, तो इसकी मोटी पत्‍ती को काटकर आधा कप जैल निकालकर उसमें 10 बूंदे लैवेंडर ऑयल की मिलायें। यह एक अद्भुत चिकित्सा मिश्रण है, क्योंकि लैवेंडर, आपकी तंत्रिकाओं को असंवेदनशील करके दर्द से छुटकारा पाने और जल्‍द ठीक करने में मदद करती है। जबकि ऐलोवेरा त्वचा पर ठंडा होता है, नमी को सील और त्वचा में लैवेंडर को जाने में मदद करता है। लेकिन अधिक गंभीर बर्न्स - दूसरे या तीसरे डिग्री के बर्न्‍स - के लिए तुरंत चिकित्सक से संपर्क करें ।


क्‍या जलने के लिए लैवेंडर तेल अच्छा है?

लैवेंडर तेल में मौजूद एंटीसेप्टिक, एंटीबायोटिक और सर्कुलेटरी उत्तेजक गुण, इसे त्वचा के लिए मामूली जलने के उपचार के लिए आदर्श आवश्यक तेल बनती है। स्‍कॉर और इंफेक्‍शन बैक्टीरिया और कीटाणुओं का सीधा परिणाम हैं, इसलिए जलने के लिए लैवेंडर तेल का उपयोग से इसे रोकने में मदद मिलती है और आप तेजी से अच्‍छे होते हैं।


जलने के इलाज के लिए लैवेंडर तेल के उपयोग का इतिहास

1900 के शुरू में रेने गटफोस्से नाम के व्‍यक्ति ने आवश्‍यक तेलों की खोज की और एक दिन प्रयोगशाला मे काम के दौरान उनका हाथ जल गया। जलन को शांत करने के लिए उसने बहुत ज्‍यादा मात्रा में लैवेंडर आवश्‍यक तेल को अपने हाथ पर डाल लिया, ऐसा करने से उसका हाथ इंफेक्‍शन और स्‍कॉर के बिना बहुत जल्‍दी ठीक हो गया।


लैवेंडर तेल और बर्न्स - क्या फायदे हैं?

लैवेंडर तेल के उपयोग करने का मुख्‍य लाभ, प्राकृतिक रूप से त्‍वचा के जलने का उपचार है। हालांकि बाजार में कई तरह की बर्न क्रीम मिलती है, लेकिन उनमें से ज्‍यादातर में हानिकारक केमिकल मौजूद होते हैं। अगर आप अपने स्‍वास्‍थ्‍य और भलाई की परवाह करते हैं तो आवश्‍यक तेल जैसे लैवेंडर त्‍वचा के जलने के उपचार के लिए एक बढि़या घरेलू उपाय हो सकता है।

 

जलने पर लैवेंडर आवश्यक तेल का उपयोग

जलने पर जलन और दर्द को कम करने के लिए जली हुई त्वचा पर 2-3 बूंद लैवेंडर तेल को लगायें। इस उपाय को दिन में 2-3 बार करें। यह उपाय छोटे हिस्‍से में वास्‍तव में अच्‍छी तरह से काम करता है। हाल ही में मेरे हाथ जलने पर मैंने लैवेंडर तेल लगाया। ऐसा करने से लालिमा या जलन नहीं हुई। साथ ही जलने का कोई निशान भी नहीं बना।
आप जलने पर लैवेंडर ऑयल स्‍प्रे का इस्‍तेमाल भी कर सकते हैं। एक कप शुद्ध पानी में 10 बूंदे लैवेंडर ऑयल की मिलाकर अपना खुद का स्‍प्रे बना लें। फिर इसे स्‍प्रे बोतल में रखें, त्‍वचा पर स्‍प्रे करने से पहले बोतल को अच्‍छे से हिला लें।
लैवेंडर तेल के साथ ऐलोवेरा जैल भी जले के लिए बहुत फायदेमंद होता है। लैवेंडर तेल में लगभग 10 बूंदें ऐलोवेरा जैल की मिलाये। आप इस मिश्रण को अपनी जली त्‍वचा पर लगाये। अगर दर्द को कम करने की जरूरत हो तो हर दो घंटे के बाद इस उपाय को अपनाये - लैवेंडर और ऐलोवेरा एक अद्भुत चिकित्सा संयोजन है।

जलने पर इंफेक्‍शन से हमेशा सावधान रहना चाहिए- लैवेंडर तेल में प्राकृतिक एंटीबायोटिक गुणों की मौजूदगी के कारण- घर में जलने के उपचार के लिए लैवेंडर तेल का चयन एक और बड़ा कारण है। अगर बर्न का उपचार ठीक से नहीं हो रहा है, तो आगे के इलाज के लिए अपने डॉक्‍टर की सलाह जरूर लेनी चाहिए।

इस लेख से संबंधित किसी प्रकार के सवाल या सुझाव के लिए आप यहां पोस्‍ट/कमेंट कर सकते है।  

Image Source : Getty

Read More Articles on Home Remedies in Hindi

Write Comment Read ReviewDisclaimer Feedback
Is it Helpful Article?YES3 Votes 1896 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर