कितना सही है रोजाना बाल धोना

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Aug 11, 2014
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • हफ्ते में तीन चार बार से ज्‍यादा बाल धोना अच्‍छा नहीं।
  • स्‍कैल्‍प से ज्‍यादा तेल निकलता हो करें पाउडर का इस्‍तेमाल।
  • रोजाना बाल धोने से निकल जाता है कुदरती ऑयल।
  • बालों की कोई समस्‍या होने पर करें विशेषज्ञ से संपर्क।

बाजार में मिलने वाला हर शैंपू आपके बालों को सभी समस्‍याओं से निजात दिलाने का वादा करता है। ऐसा लगता है कि जैसे हर दुख की बस यही एक दवा है। इन दावों पर यकीन कर आप अपने बालों को शैंपू करना शुरू कर देते हैं। कई बार रोजाना शैंपू करने लग जाते हैं। लेकिन, संभव है कि आप अपने बालों को जरूरत से ज्‍यादा बार धो रहे हों।

कई लोग अपने बालों में रोजाना शैंपू करते हैं। उन्‍हें लगता है कि अगर वे ऐसा नहीं करेंगे तो उनके बाल मैले रहेंगे। लेकिन ऐसा नहीं है। हकीकत तो यह है कि सप्‍ताह में तीन-चार बार से ज्‍यादा शैंपू करने से आपके बालों को नुकसान पहुंचता है।

Washing your hair daily in hindi

आप कब शैंपू करना चाहते हैं या आपकी पसंद पर निर्भर करता है। यह आपके स्‍कैल्‍प और बालों के प्रकार पर निर्भर करता है। संभव है कि आप शैंपू का झाग कम बनायें।

 

क्‍या रोजाना शैंपू करना सही है

डरमेटोलॉजिस्‍ट और स्‍टाइलिस्‍ट मानते हैं कि रोजाना शैंपू करने के बहुत कारण हैं। जानकारों की राय है कि 'बाल फाइबर हैं। एक प्रकार का वूल फाइबर। आप जिसे इतना धोएंगे यह उतना बुरा नजर आएगा। अपने बालों को रोजाना धोने की जरूरत नहीं है। आपके बाल धोने के बीच में ही अधिक लंबे, मोटे और कर्ली होते हैं।

 

इसलिए नजर हैं बाल रूखे

यूनिवर्सिटी ऑफ मियामी के इथेनिक स्किन केयर के निदेशक और प्रबंध निदेशक हीथर वूले-लॉयड, का कहना है कि तेल बालों की जड़ों और स्‍कैल्‍प में बहुत तेजी से नहीं जाता। इसलिए बाल रूखे नजर आते हैं, लेकिन उन्‍हें ज्‍यादा शैंपू की जरूरत नहीं होती। यहां तक कि असंसाधित, छोटे, पतले और सीधे बालों को भी रोजाना शैंपू करने की जरूरत नहीं होती।


कब होती है रोजाना शैंपू की जरूरत

जानकार कहते हैं कि रोजाना शैंपू की जरूरत तभी पड़ती है, जब स्‍कैल्‍प से अधिक मात्रा में तेल निकलता हो। कई जानकार यह भी मानते हैं कि रोजाना शैंपू की जरूरत केवल खुशबू के लिए ही होती है। और अगर आप रोजाना शैंपू करना ही चाहते हैं तो हल्‍का शैंपू इस्‍तेमाल करें। इन हल्‍के शैंपू में अन्‍य शैंपू के मुकाबले कम डिटर्जेंट होता है।

shampoo in hindi

पाउडर का इस्‍तेमाल

पाउडर और ड्राइ शैंपू बालों को धोने के बीच के दौरान अतिरिक्‍त तेल सोख लेता है। आप चाहें तो बालों में शैंपू के स्‍थान पर कभी-कभी टेलकम पाउडर भी इस्‍तेमाल कर सकते हैं। यह  तरीका उन लोगों के लिए खासतौर पर मददगार होता है, जिनके स्‍कैल्‍प से काफी मात्रा में तेल निकलता है। हालांकि पाउडर शैंपू को पूरी तरह स्‍थानांतरित नहीं कर सकता।

कई महिलायें अपने बालों को कम शैंपू करती हैं। कइयों को सप्‍ताह में एक बार से ज्‍यादा शैंपू करना पसंद नहीं होता।

 

Image Source - Getty Images

Read More Articles on Beauty in Hindi

Write a Review Feedback
Is it Helpful Article?YES454 Votes 34860 Views 1 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

टिप्पणियाँ
  • Rohan04 Nov 2014

    रोज बाल धोने से कुदरती तेल निकल जाता है। लेकिन रोज बाल नहीं धोएंगे तो सिर पर जो गंदगी जमा है उसे कैसे निकालेंगे। यह भी दिक्‍कत है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर