तनाव का स्‍तर कम करने में कैसे मददगार है ग्रीन टी

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Jun 03, 2015
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • बदलती लाइफस्टाइल के कारण तनाव होना सामान्य है।
  • तनाव कम करने में ग्रीन टी मददगार हो सकती है।
  • ग्रीन टी में मौजूद थिनाइन तनाव के खिलाफ अस्‍त्र है।
  • स्ट्रेस हार्मोंन कोर्टिसोल का स्तर बहुत कम रहता है

आजकल की बदलती लाइफस्टाइल के कारण तनाव होना सामान्य है। लोगों के जीवन में ऐसे कई कारण हैं जिससे तनाव हो ही जाता है। लेकिन इसे अनदेखा करना गंभीर स्वास्थ्य समस्याओं को पैदा कर सकता है। इसलिए तनाव को कम करना बहुत जरूरी है। एक नए शोध के अनुसार तनाव के स्‍तर को कम करने में ग्रीन टी आपके लिए मददगार हो सकती है।

green tea for stress in hindi

शोध के अनुसार

तनाव को दूर करने के लिए वैज्ञानिकों ने ग्रीन टी में मौजूद एल-थिनाइन पर परीक्षण किया और पाया कि यह स्‍वस्‍थ और युवा वयस्‍कों में तनाव और कोर्टिसोल के स्‍तर को काफी हद तक कम करने में मदद करता है। मनोवैज्ञानिक विज्ञान सम्मेलन एसोसिएशन में एक संगोष्ठी के दौरान, ऑस्ट्रेलिया में स्विनबर्न विश्वविद्यालय से विश्व प्रसिद्ध शोधकर्ताओं ने विदेशी परीक्षण के परिणामों की घोषणा के दौरान कहा कि इस पेय से तनाव को दूर करने में मदद मिलती है।


परीक्षण के परिणाम

परीक्षण के सांख्यिकीय महत्वपूर्ण परिणामों में शामिल हैं:

  • तनाव में भारी कमी
  • कोर्टिसोल के स्तर में कमी

अल्फा स्पेक्ट्रम के लिए मस्तिष्क तरंगों का बदलने की एमईजी द्वारा पुष्टि की गई। अल्फा स्‍पेक्‍ट्रम मस्तिष्क तरंगों को ध्यान केंद्रित करने और एकाग्रता के साथ जोड़ा गया। ग्रीन टी आपका दवाब और स्ट्रेस लेवल को कम करने में मदद करती है। साथ ही ग्रीन टी में मौजूद थिनाइन की मौजूदगी, जो एक विशिष्ठ अमीनो-एसिड है, तनाव के खिलाफ एक कारगर अस्त्र है। यूनिवर्सिटी कॉलेज ऑफ लन्दन के एपी डेमियो लोजी एंड पब्लिक हेल्थ डिपार्टमेंट के अनुसार जो लोग ग्रीन टी का सेवन करते हैं, उनमें स्ट्रेस हार्मोंन कोर्टिसोल का स्तर बहुत कम रहता है और स्ट्रेस भी इसी अनुपात में कम रहता है।

stress in hindi


क्‍या है थिनाइन

थिनाइन एक प्रकार का एमीनो एसिड है जो ग्रीन टी की पत्तियों में पाया जाता है। यह मस्तिष्क में तनाव उत्पन्न करने वाले केमिकल्स को रोकता है। इससे चिंता दूर होती है और आपको एकाग्र करने में मदद मिलती है। जापानी शोधकर्ताओं ने इस बात की पुष्टि की है। जर्नल ऑफ न्यूरोफारमाकोलॉजी में छपे एक लेख के अनुसार ग्रीन टी में पाया जाने वाला कैफीन थकान को दूर रखकर आपको जागृत और एकाग्र रखता है।

अन्‍य अध्‍ययन

मनोवैज्ञानिक समस्याएं कम करने के लिए ग्रीन टी की उपयोगिता कई अध्ययनों में साबित हो चुकी है और अब तोहोकू यूनिवर्सिटी के डाक्‍टर कैजन निउ और उनके सहयोगियों ने एक शोध में पाया कि दिन भर में चार कप ग्रीन टी लेने से 70 वर्ष या इससे अधिक की आयु वाले पुरुषों और महिलाओं में तनाव के लक्षण अन्य लोगों के मुकाबले 44 फीसदी कम देखे जा सकते हैं।

ग्रीन टी में पाया जाने वाला अमीनो एसिड नामक तत्व और एल-थिनाइन दिमाग पर गहरा असर डालता है। इसका तनाव दूर करने में अहम योगदान होता है। हालांकि अनुसंधानकर्ताओं का कहना है कि अभी इस बात की पुष्टि करने के लिए और भी अध्ययन करने की जरूरत है कि अधिक मात्रा में ग्रीन टी की चुस्की लेने से तनाव दूर होता है।

Image Source : Getty

Read More Articles on Mental Health in Hindi

Write a Review Feedback
Is it Helpful Article?YES5 Votes 2207 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर