होम्योपैथी से इस तरह दूर करें मोटापा

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Jan 28, 2016
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • मोटापा कम करने में प्रभावी होती है होम्योपैथी।
  • कार्बोनिका, कोफिया क्रूडा आदि आम उपचार।
  • होम्योपैथिक चिकित्सक की सलाह पर लें दवा।
  • दवा के साथ जरूरी है डाइट और एक्सरसाइज।

होम्योपैथिक चिकित्सा मोटापा एवं उसके विभिन्न पहलुओं का उपचार करता है। होम्योपैथी में भी वजन कम करने के लिए दवाओं के अलावा डाइट कंट्रोल और एक्सरसाइज पर पूरा जोर दिया जाता है।  इन दवाओं से पाचन क्रिया सुदृढ़ होती है, चयापचय की क्रिया अच्छी होती है जिसकी वजह से मोटापा कम होता है। यह सभी उम्र के लोगों के लिए कारगर एवं उपयुक्त होता है क्योकि ये बहुत ही कोमल और पतले होते हैं और आमतौर पर इनका शरीर पर कुप्रभाव नहीं होता।

  • वजन घटाने से पूर्व एक महत्वपूर्ण बात पर विचार अवश्य कर लेना चाहिए कि आप कितने मोटे हैं तथा आपको कितना वजन घटाने की जरूरत है। होम्योपैथी में वैसे तो मोटापे के लिये 189 दवाएँ है। दवाओं का चुनाव रोग के अनुसार रोग के इतिहास के अनुसार मरीज को देखकर किया जाता है एंटीमोनिअम  क्रूडम, अर्जेन्टम नाईत्रीकम, केलकेरिया कार्बोनिका, कोफिया क्रूडा, केपसिकम आदि वजन घटाने के लिए कुछ सबसे आम और प्रभावी उपचार होते हैं। 

  • खाना खाने के बाद दिन में तीन बार 10-15 बूंदें फायटोलका क्यू (Phytolacca Q) या फ्यूकस वेस क्यू (Fucus Ves Q) चौथाई कप पानी में लें। कैल्केरिया कार्ब (Calcarea Carb.) की 4-5 गोलियां भी दिन में तीन बार ले सकते हैं। ये दवाएं फैट कम करती हैं और नियमित लेने पर दो-तीन महीने में असर दिखने लगता है।
  • दिनभर खाने के बाद भी पेट न भरना, खाने से संतुष्टि ना होना और ज्यादा भूख की शिकायत वालों को आयोडियम (30 पोटेंसी) देते हैं। मोटापे के साथ, अनियमित माहवारी व कब्ज की शिकायत हो तो ऎसी महिलाओं को ग्रेफाइटिस (30 पोटेंसी) दवा दी जाती है।
  • इसके लिए आपको होम्योपैथिक चिकित्सक से मिलकर वजन कम करने के सबसे अच्छे विकल्प का परामर्श लेना चाहिए साथ हीं उपचार शुरू करने से पूर्व आपको यह भी जान लेना चाहिए कि आपको अपने जीवन शैली में क्या क्या बदलाव लाना है।

 
आप वजन घटाने के लिए यदि कोई अन्य प्राकृतिक पूरक या उपचार ले रहे हैं।तो भी आप होम्योपैथिक दवाइयां ले सकते हैं क्योंकि यह दूसरे उपचार में न तो अवरोध पैदा करता है न हीं बुरा प्रभाव डालता है।

 

Image Source-Getty

Read More Article on Homyopathic Treatment in Hindi

Write Comment Read ReviewDisclaimer Feedback
Is it Helpful Article?YES99 Votes 24392 Views 18 Comments
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर