जानें मर्द क्‍यों करते हैं फेक ऑर्गेज्म

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Jul 04, 2016
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • ज्यादा खुश करने के लिए फेक ऑर्गेज्म करती हैं महिलाएं।
  • क्या पुरुष भी महिलाओं की तरह फेक ऑर्गेज्म करते हैं?
  • कंडोम पहनने पर फेक ऑर्गेज्म करना आसान हो जाता है।
  • पुरुषों पर अच्छा परफॉर्म करने का मानसिक दबाव बना होता है।

देखा गया है कि महिलाएं आपने साथ को ज्यादा खुश करने के लिए फेक ऑर्गेज्म का नाटक करती हैं, ताकि उनकी सेक्स लाइफ में रोमांच और उत्साह बना रहे। लेकिन क्या पुरुष भी महिलाओं की तरह ऐसा करते हैं? चलिए जानें कि क्या मर्द भी करते हैं फेक ऑर्गेज्म!  

शोध से सामने आए परिणाम

अखबार डेली मेल पर प्रकाशित खबर के अनुसार, न्यूयॉर्क के पुरुषों ने यह माना कि वे भी फेक ऑर्गेज्म का नाटक करते हैं। बकौल टाइम आउट द्वारा कराए गए शोध के, जैसे महिलाएं कई वजहों से फेक ऑर्गेज्म करती हैं, पुरुष भी ऐसे ही कारणों के चलते फेक ऑर्गेज्म करते हैं। यूनिवर्सिटी ऑफ केंसास के शोधकर्ताओं के अनुसार, महिलाएं साथी को खुश करने, पार्टनर की नाराजगी से बचने, मन ना होने पर भी सेक्स करने, समय से पहले डिस्चार्ज होने आदि वजहों के चलते फेक ऑर्गेज्म करती हैं। और लगभग यही वजहें पुरुषों के फेक ऑर्गेज्म की भी होती हैं। शोध बताते हैं कि यदि आप साथी के साथ सेक्स के दौरान चरम तक पहुंचने का नाटक कर रहे हैं तो संभवतः आप दबाव में सेक्स कर रहे हैं और आनंद लेने का सिर्प नाटक कर रहे हैं।

 

 

Men Can Fake Orgasm in Hindi

 

 

कुछ शोध बताते हैं कि पुरुष के लिए कंडोम पहनने पर फेक ऑर्गेज्म करना और भी आसान हो जाता है जबकि बिना कंडोम के ऐसा करना मुश्किल होता है। हालांकि आजकल फेक ऑर्गेज्म करना बहुत आम बात होती जा रही है।

पुरुषों के फेक ऑर्गेज्म पर किताब

हार्वर्ड यूरोलॉजी के प्रोफेसर डॉ. अब्राहम ने कुछ समय पहले इस विषय पर एक किताब प्रकाशित की थी। इस किताब को डॉ अब्राहम ने सालों तक पुरुषों की सेक्सुअल समस्याओं को सुलझाने के बाद लिखा। डॉ अब्राहम ने दावा किया कि कई पुरुष सेक्सुअली अच्छा परफॉर्म करने की कोशिश करते हैं, भले ही वे इसके लिए मूड में हों या न हों। वहीं अगर बात महिलाओं की करें तो महिलाओं के लिए कुछ मामलों में फेक ऑर्गेज्म सही है। ऐसा इसलिए क्योंकि अधिकांश मामलों में वे सेक्स करने से पहले ही बहुत थकी रहती हैं।


दरअसल, पुरुषों की छवि ऐसी बनी हुई है कि वे सेक्स के ‌लिए हमेशा तैयार रहते हैं। ऐसे में पुरुषों पर ये मानसिक दबाव बना होता है कि उन्हें अच्छा परफॉर्म करना है।


उपरोक्त शोध अमेरिका की कॉलेज जाने वाली 481 सेक्सुअली एक्टिव महिलाओं पर हुआ। जिसमें से अधिकतर का जवाब था कि वे अपने पार्टनर को दुखी नहीं करना चाहती हैं। हालांकि सेक्स थेरेपिस्ट मानते हैं कि फेक ऑर्गेज्म करने का कोई नुकसान नहीं है, लेकिन ये हमेशा नहीं किया जाना चाहिए नहीं तो आपकी सेक्स लाइफ इससे प्रभावित भी हो सकती है।


हालांकि शोध के मुताबिक, फेक ऑर्गेज्म एक बचपना मात्र है, जिसमें आप अपने पार्टनर के सामने ये साबित करने की कोशिश करते हैं कि आपने अच्छा काम किया है। गौरतलब है, ये स्टडी सेक्सुअल बिहेवियर में प्रकाशित हुई थी।

 

 

Image Source - Getty Images

Read More Articles On Sex & Relationship in Hindi.

Write a Review
Is it Helpful Article?YES64 Votes 8045 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर