इस तरह खतरनाक हो सकता है गर्भनिरोधक

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Sep 16, 2011
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • गर्भनिरोधक गोलियों से हो सकता है हाई ब्लड प्रेशर हो सकता है।
  • गर्भनिरोधक से बढ़ता है रक्त वाहिनियों में डीप ब्रेन थ्रोम्बोसिस।
  • गर्भनिरोध दिल से जुड़ी बीमारियों के लिए खतरनाक।
  • इससे शिराओं में थ्रॉम्बोसिस तथा पल्मोनरी एम्बोलिजम होता है।

महिलाएं गर्भावस्था से बचने के लिए गर्भनिरोधक गोलियां लेती हैं, लेकिन वे ये नहीं जानती कि ये गर्भनिरोधक गोलियां उन्हें गर्भावस्था से तो बचाती हैं लेकिन उसके बदले उन्हें कई बीमारियों का शिकार बना देती है। इन गोलियों से हाई ब्लड प्रेशर हो सकता है। आपातकालीन गर्भनिरोधक से होने वाले अतिरिक्त प्रभाव स्वास्थ्य के लिए अंततः हानिकारक ही होते है। आइए जानें गर्भनिरोधक खतरनाक कैसे हो सकते हैं।

 Contraception pill

 

  • एक तरफ आपातकालीन गर्भनिरोधक से जहां गर्भधारण ये बचा जा सकता हैं वहीं महिलाएं अपने लिए नई समस्याएं खड़ी कर रही हैं।
  • शोधों में भी ये बात साफ हो चुकी है कि गर्भनिरोधक से महिलाओं की रक्त वाहिनियों में डीप ब्रेन थ्रोम्बोसिस के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं। इस बीमारी में नसों में खून के थक्के जमने लगते हैं।
  • गर्भनिरोध और भी कई बड़ी समस्याओं जैसे दिल के लिए, दिल से जुड़ी बीमारियों के लिए खतरनाक हो सकती है।
  • दरअसल, गर्भनिरोधक गोलियों में मौजूद एस्ट्रोजन (हार्मोन) की अतिरिक्त मात्रा डीवीटी का कारण बनती है। महिलाओं के शरीर में इस्ट्रोजन की थोड़ी सी भी अनावश्यक मात्रा उनके लिए हानिकारक हो सकती है।
  • गर्भनिरोधक गोलियों से डीवीटी होने से महिलाओं को सूजन और दर्द की शिकायत भी होने लगती है।
  • गर्भनिरोधक गोलियों को खाने से पैर या हाथ की गहरी शिरा में थ्रॉम्बोसिस तथा पल्मोनरी एम्बोलिजम हो सकता है। पल्मोनरी एम्बोलिजम के कारण फेफड़ों में ब्लड की आपूर्ति बाधित होती है और यह स्थिति कई बार खतरनाक भी हो सकती है।
  • गर्भनिरोधक गोलियों के कारण ही उच्च रक्तचाप की शिकायत हो सकती है। और उच्च रक्तचाप दिल के दौरे व मस्तिष्काघात की वजह बन सकता है।
  • गर्भधारण को रोकने के खाई जाने वाली गर्भनिरोधक गोलियों को खाने से महिलाओं में तनाव की समस्या भी हो सकती है।
  • इतना ही नहीं गर्भनिरोधक लगातार लेने से महिलाओं को सिरदर्द की शिकायत रहने लगती है। पांच वर्ष से अधिक समय तक इन गोलियों के इस्तेमाल से स्तन और गर्भाशय कैंसर का खतरा बढ़ जाता है।
  • इन पिल्स से डायबिटीज का खतरा भी बना रहता है।
  • इन कारणों को देखकर यह कहा जा सकता है कि वाकई गर्भनिरोधक गोलियां महिलाओं के स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है लेकिन फिर भी जो महिलाएं गर्भनिरोधक गोलियां का इस्तेमाल करें, एक बार डॉक्टर की परामर्श जरूर लें। ताकि वह इनसे होने वाले अतिरिक्त प्रभावों से बच सकें। 
Write a Review
Is it Helpful Article?YES33 Votes 47526 Views 1 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

टिप्पणियाँ
  • i am arif alam13 Feb 2013

    may ye janna chahta hun ke female nasbandi jo bina chre keya jata hai wo kaise keya usmay koi nuksan hai

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर