अंतरंग रिश्तों में सुधार लाने के तरीके

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Aug 26, 2011
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

How to Build Intimacy in Relationship हर रिश्ता प्यार और अंतरंगता को बनाये रखने द्वारा कायम रहता हैं। एक मजबूत रिश्ता अपने आप नही बनता, उसे बनाना पडता है, यह समझना जरुरी हैं। निम्नलिखित युक्तियों के साथ, आप एक लगभग कमजोर हो चुके रिश्ते को मजबूती प्रदान कर सकते हैं।

  • अंतरंगता के स्तर में सुधार लाने के लिए, आपको स्वीकार करना और जिम्मेदारियों को पूरा करना सीखना चाहिए। यह दैनिक कामकाज से लेकर, जीवन में बड़ा निर्णय लेने तक विभिन्न हो सकते हैं। यह दूसरे साथी को  रिश्ते में विश्वास करने में मदद करता है। अगर यह हासिल किया, तो एक रिश्ते में अंतरंगता बनाए रखने में यह एक लंबे अवधि का निवेश साबित होगा।

[इसे भी पढ़ें- हंसी मजाक से ला सकते हैं मैरेज में मिठास]

  • अपने साथी को खुश करे। प्रासंगिक सहानुभूति और प्रेम की बरसात जैसे गले लगना या एक चुंबन जैसे बुनियादी इशारें दिखाये जा सकते है। इस चाल को शानदार ढंग से काम करने के लिए, जब आप एक लड़ाई के बीच में होते है, यह करने की कोशिश करे! यह निश्चित रूप से आपके साथी को आश्चर्यचकित करेगा और अंतरंगता के स्तर में वृद्धि होगी। यह ना करे अगर एक नाजुक मुद्दे पर लडाई हो रही है, क्योंकि इससे आपके साथी को लग सकता है कि आप स्थिति को गंभीरता से नहीं ले रहे हैं।
  • आलोचनात्मक ना बने। यह अक्सर आपके साथी के मन में अस्वीकृति की भावनाओं को भर देता है, और एक अंतरंग संबंध के लिए काफी नुकसानात्मक साबित हो सकता है।

[इसे भी पढें- पारस्परिक संबंधों को कैसे मधुर बनायें]

  • एक दुसरे की रुचि का अन्वेषण करें। अपने साथी की पसंद और नापसंद पता करने की कोशिश करे। इससे आपको साथ समय बिताने में भी मदद होगी। याद करे की आपको पहली बार अपने साथी की कौनसी बात पर प्यार हुआ था, फिल्में या तस्वीरों को देखने के माध्यम से खुशी के पल को नवीनीकृत करने का प्रयास करें।

 

  • आपको जैसे व्यवहार की अपेक्षा है, वैसा व्यवहार उसे करे। एक अंतरंग रिश्ते में कोई भी सरल चाल नही होती।
  • अशिष्ट व्यवहार पूर्ण रुप से बंद करे। अशिष्ट होना या अनावश्यक बहस से अक्सर दोनों के बीच अनावश्यक चुप्पी हो सकती हैं। इस सूचना को लागू करने से पहले, पहिले अपने आप को जांचे, क्योंकि आप भी ऐसे हो सकते है!

[इसे भी पढें- अंतरंग संबंधों का क्या मतलब है?]

  • अनावश्यक शिकायत करने और सताने से बचें। इससे आपका रिश्ता सुधार से परे हो सकता है।
  • अंतरंगता आमतौर पर आलिंगन के सत्र या चुटकुला सुनाने के दौरान अधिक पनपती है। अपने व्यस्त कार्यक्रम के चलते ज्यादातर दंपती अपने विनोदी पक्ष भूल जाते हैं।

 
इसके अलावा, अगर रिश्ते में समझ, अंतरंगता, और प्यार की अभी भी कमी हैं, तो जोड़ों को परामर्श के रूप में अतिरिक्त मदद लेनी चाहिए।

 

Read More Articles on Sex and Relationship in hindi

Write Comment Read ReviewDisclaimer Feedback
Is it Helpful Article?YES13 Votes 44619 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर