ईयर वैक्‍स निकालने के लिए कैसे करें बेबी ऑयल का प्रयोग

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Aug 05, 2015
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • कानों मे मैल की समस्या हो सकती है गंभीर।
  • बेबी ऑयल से साफ कर सकते है ईयर वैक्स।
  • बल्ब सिरींज मे पानी भरकर साफ करते है कान।
  • अदरक, नींबू और जैतून का तेल भी लाभदायक।

कानों में जमा होने वाला मैल यानी ईयर वैक्‍स ना सिर्फ परेशान करता है बल्कि ये आपके लिए कोई किसी गंभीर समस्या भी खड़ी कर सकता है। इसलिए जब भी कानों में मैल की समस्या हो इसे तुंरत साफ कर लें। कानों में मैल साफ करने में बेबी ऑयल का प्रयोग कारगर होता है। ये आसानी से आपके कानों के मैल को पिघला कर बाहर निकाल देता है। इसके बारे में अधिक जानने के लिए यह लेख पढ़ें।
Baby Oil In Hindi

मैल को पिघला देता है बेबी ऑयल

1-2 टेबलस्पून चम्मच बेबी तेल को शारीरिक तापमान के अनुसार गर्म करें। एक शोध के अनुसार कोई द्रव आपके शरीर के तापमान से ज्यादा गर्म या ठंडा होता है वो आपके कानों मे परेशानी कर सकता है। इसलिए तेल को शारीरिक तापमान पर ही गर्म करें। अपने सिर को छत की तरफ मोंड़े। कान के बाहरी हिस्से को पकड़ कार खींचे। इससे आपको कानों की कैनल साफ हो जाएगी और बेबी ऑयल आसानी से कानों मे जा सकेगा। आईड्रॉपर की मदद से कानों मे बेबी ऑयल की कुछ बूंदें डालें। ड्रॉपर को कान के बाहर ही रखें। थोड़ी देर के लिए सिर को ऐसे ही रखें।

 

पानी से करें साफ  

कानों के प्रभावित हिस्से पर साफ तौलिया या पेपर रोल रखें और गर्दन को धीरे से कंधे की ओर झुकायें। तौलिया कानों से बाहर आने वाले बेबी ऑयल को सोक लेता है। इससे ये आपके शरीर का बाकी हिस्सा गंदा नहीं होगा। इस प्रक्रिया को कुछ दिनो तक लगातार दोहराते रहें। ये तरीका आप सुबह नहाने से पहले और शाम में बिस्तर पर जाने से पहले अपनायें तो बेहतर रहेगा। अब बल्ब सीरिज मे गर्म पानी को भर कर आप कान को साफ कर सकते है। बेबी ऑयल से कान का मैल पिघल चुका होता है। कान को साफ करने के बाद आप एल्कोहल की कुछ बूंदे उसमे डाल दें। ये आपकी कान की ग्रंथि को सुखाकर बैक्टीरियल इफेंक्शन से बचाता है। अगर इस तरीके को अपनाकर आपके कानों मे दर्द का अनुभव होता हो तो एक बार डॉक्टर की सलाह जरूर लें।
Ear Wax in Hindi

अन्य तरीके भी आजमायें

अदरक के रस में नींबू का रस मिलाएं और इकसी 4 बूंदें कान में डालें। आधे घंटे के बाद कान को रूई से साफ कर दें।जैतून का तेल हल्‍का सा गरम कर के कानों में डालने से राहत मिलती है।प्‍याज को बारीक काट कर माइक्रोवेव में डाल कर कुछ मिनट पकाएं। अब उसमें से रस निचोड़ कर उसे कान में डालें।तुलसी की पत्‍ती से रस निकाल कर कान में 4-5 बूंद टपका लीजिये। आप चाहें तो तुलसी की पत्‍तियों को नारियल तेल में उबाल कर भी कान में डाल सकते हैं। इसे दिन में दो बार डालें।


जब भी आपके कानों मे मैल जमा होने की समस्या हो तो ये प्रक्रिया अपना लें। अगर लंबे समय तक कान से मैल ना जा रहा हो तो एक बार डॉक्टर को दिखा लें।

 

Image Source-Getty

Read More Article on Ear Problem in Hindi

 

Write a Review
Is it Helpful Article?YES78 Votes 7368 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर