बालों के गिरने की ना करें अनदेखी

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Sep 16, 2011
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • बालों का प्रभाव सम्पूर्ण व्यक्तित्व पर पड़ता है।
  • बालों का झड़ना एक बहुत ही आम प्रक्रिया है।
  • बालों में केमिकल के इस्‍तेमाल से झड़ते है बाल।
  • अधिक समय तक हैलमेट का प्रयोग करना।

सौन्दर्य का व्याख्यान करते समय सदियों से कवि बालों की महत्वपूर्ण भूमिका को मानते आये हैं। बात चाहे पुरूष वर्ग की करें या महिला वर्ग की बालों का सौंदर्य हम सभी के लिए बहुत महत्वपूर्ण है।
 
चाहे खूबसूरती या फिटनेस की बात करें, बालों का प्रभाव हमारे सम्पूर्ण व्यक्तित्व पर पड़ता है। आपकी पहली छाप के अलावा आपके बाल आपकी स्टाइल स्टेटमेंट होते हैं। बालों का गिरना एक स्वाभाविक प्रक्रिया है और यह अलग–अलग लोगों को अलग–अलग प्रकार से प्रभावित करती है।

बालों का झड़ना

बालों का गिरना

आज कई कारणों से पुरूषों और महिलाओं में बालों का झड़ना एक बहुत ही आम प्रक्रिया हो गयी है। महिलाओं में बालों का गिरना एक कहर की तरह होता है और कई बार तो इसके परिणाम डिप्रेशन या साइकालाजिकल समस्याओं को भी जन्म देते हैं। हमारी खूबसूरती हमारे लिए बहुत ही महत्वपूर्ण है। यहां तक कि ऐसा भी माना गया है कि खूबसूरत बाल आत्मविश्वास बढ़ाने में भी सहायक होते हैं।

 

बालों के गिरने के कुछ खास कारण

  • अधिक समय तक धूप या प्रदूषण का सामना करना।
  • बालों पर अधिक मात्रा में रसायन का प्रयोग करना।
  • आधुनिक उपकरणों का प्रयोग।
  • कुपोषण या अस्वस्‍‍थ खान पान की आदतें।
  • आनुवांशिक गंजापन या हार्मोन में असंतुलन।
  • अधिक समय तक हैलमेट का प्रयोग करना।


सिर पर बालों के ना होने से व्यक्ति की सम्‍पूर्ण खूबसूरती प्रभावित होती है और इसी कारण से व्यक्ति में डिप्रेशन और असुरक्षा की भावना जन्म लेने लगती है। पुरूषों और महिलाओं में बालों के गिरने का समय भी अलग अलग होता है। पुरूषों के बाल 40 वर्ष की उम्र से पहले ही गिरने शुरू हो जाते हैं और महिलाओं के बाल अकसर 40 वर्ष की उम्र के बाद गिरने शुरू होते हैं।

बालों का झड़ना

गंजेपन में कारगर कुछ आधुनिक तरीके

  • दवाओं का प्रयोग।
  • लेजर चिकित्सा, जैसे लेजर कांब।
  • क्लीनिकल उपचार जैसे खोपड़ी की चिकित्सा, अल्ट्रावायलेट और इन्फ्रारेड लाइट थेरेपी, लेजर मसाज।
  • डाइरेक्ट हेयर इम्लांट (डी एच आई)।


इन थेरेपीज में से कुछ के साइड इफेक्ट भी पाये गये हैं और कुछ दर्दरहित हैं जैसे डी एच आई। चिकित्सा से पहले व्यक्ति को चिकित्सा के खर्च और साइड इफेक्ट के बारे में पूरी तरह से जानकारियां इकट्ठी कर लेनी चाहिए।

Image Source : Getty

Read More Articles on Hair Loss in Hindi

Write a Review
Is it Helpful Article?YES129 Votes 30314 Views 3 Comments
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

टिप्पणियाँ
  • meeta12 Sep 2012

    baalo ke girne ke ache karan bataye hai is article me.....thanx

  • kailash parmar10 Sep 2012

    i want to know full information about laser thetrepy

  • shivprakash06 Sep 2011

    i want to know full information about laser thetrepy

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर