ब्रेस्ट कैंसर से रहें जरा बचकर

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Oct 21, 2011
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

breast cancer se rahe zara bachkar in hindi

एक समय था जब ब्रेस्ट कैंसर जैसी गंभीर बीमारी 40 साल की उम्र के बाद ही हुआ करती थी। लेकिन आज के समय में ब्रेस्ट कैंसर आज के समय में एक आम समस्या बन गई है और अब यह समस्या किसी भी उम्र में हो सकता है। हालांकि ब्रेस्ट कैंसर से बचने के लिए महिलाओं को जागरूक करने के लिए जगह-जगह कैंप लगाए जाते है। ब्रेस्ट कैंसर के कई कारण है लेकिन ऐसा नहीं कि ब्रेस्ट कैंसर का इलाज संभव नहीं। इसका पुख्ता इलाज भी है। लेकिन कहते हैं ना बचाव ही समझदारी है। तो आप भी ब्रेस्ट कैंसर से रहें जरा बचकर। आइए जानें ब्रेस्ट कैंसर से बचाव के लिए कौन-कौन से उपाय अपनाने चाहिए।

 

  • ब्रेस्ट कैंसर से बचने के लिए साल में कम से कम एक बार चेकअप जरूर करवाना चाहिए। इससे आने वाले खतरे को समय से पहले टाला जा सकता है।
  • बदलते समय में ब्रेस्ट कैंसर तेजी से फैल रहा है, हालांकि इसको शुरूआती स्टेज में पहचानना मुश्किल है, लेकिन ब्रेस्ट में दर्द होने पर चेकअप जरूर करवाएं।
  • कहते हैं कि यदि ब्रेस्ट कैंसर का शुरूआती समय में ही पता चल जाएं, तो इस पर समय रहते काफी हद तक काबू पाया जा सकता हैं। ऐसे में बढ़ती उम्र की लड़कियों को खास सावधानी बरतने की जरूरत है।
  • कई बार लड़कियों और महिलाओं को ब्रेस्ट में दर्द की शिकायत होती है तो वे पीरियड के दौरान आने वाले दर्द या फिर सामान्य दर्द समझकर इसे नजरअंदाज कर देती है। जबकि ऐसे में एक बार गायनोक्लोंजिस्ट को जरूर दिखाना चाहिए।
  • यदि आपकी अकसर बदन दर्द रहता है या फिर आप 40 की उम्र पार कर चुकी है या करने वाली हैं तो आपको डॉक्टर की सलाहानुसार ब्रेस्ट का एक्सरे करवाना चाहिए यदि कोई गड़बढ़ निकलती है तो आपको और भी कुछ टेस्ट करवाने के लिए कह सकते हैं।
  • ब्रेस्‍ट कैंसर की शुरूआत ब्रेस्ट में पड़ने वाली छोटी-छोटी गांठों यानी लंप से होती है, इसीलिए आपके यदि गांठे है और दर्द की शिकायत है तो बिना देर किए डॉक्टर के पास जाना चाहिए।
  • ब्रेस्ट कैंसर आनुवांशिक भी होती है यदि आपके घर में पहले से ही किसी लड़की की मम्मी को ब्रेस्ट कैंसर की शिकायत थी तो आपको अधिक सावधान रहने की जरूरत है, ऐसे में आप समय-समय पर अपनी जांच करवाते रहें।
  • शुरूआती समय में ब्रेस्ट कैंसर को दवाओं के माध्यम से दूर किया जा सकता है। 
  • अगर आपको ब्रेस्ट हार्ड महसूस हो रहा हो और सूजन की वजह से आप असहज महसूस कर रही हों, तो ऐसी स्थिति में तुरंत एक्सरे करवाएं।
  • जो महिलाएं प्रेग्नेंट हैं या ब्रेस्ट फीडिंग करवाती हैं, उनको भी ब्रेस्ट से जुड़े टेस्ट करवाते रहने चाहिए।
  • अगर आपके रहन-सहन में सिगरेट, स्मोकिंग, पान मसाला जैसी चीजें शामिल हैं, तो ब्रेस्ट कैंसर होने के चांस ज्यादा हो जाते हैं। इसलिए आपको जल्दी से जल्दी ब्रेस्ट एक्स-रे करवाना शुरू कर देना चाहिए।
  • ब्रेस्ट कैंसर का इलाज इस बात पर निर्भर पर डिपेंड करता है कि कैंसर किस हद तक बढ़ गया है। ज्यादा गंभीर स्थिति में ब्रेस्ट को रिमूव तक करना पड़ सकता है।
Write a Review
Is it Helpful Article?YES14 Votes 13795 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर