होली को बदरंग कर सकते हैं कृत्रिम रंग

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Mar 03, 2012
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

holi me badrang kar sakte hai kritrim rang

होली पर सेहत का ध्यान रखना बहुत जरूरी होता है लेकिन इसके साथ ही जरूरी होता है रंगों के इस्तेमाल में सावधानी। क्या आप जानते हैं कृत्रि‍म रंग आपकी होली को बर्बाद कर सकते हैं, ऐसे में आपको रंगों के प्रति खासतौर पर सावधानी बरतनी चाहिए। लेकिन सवाल ये उठता है कि ऐसे कौन से उपाय अपनाएं जाएं जिससे कृत्रि‍म रंग आपकी होली को बदरंग ना कर सकें। तो आइए जानें उन दुष्प्रभावों को जिनसे कृत्रि‍म रंगों से होली बदरंग हो सकती है। यानी कैसे होली को बदरंग कर सकते हैं कृत्रि‍म रंग।

  • होली बिना रंगों के रूखी है लेकिन इस बात को भी नकारा नहीं जा सकता कि होली के रंगों में मौजूद केमिकल्स हमारी त्वचा और बालों के लिए हानिकारक साबित हो सकते हैं।
  • दरअसल रंगों के निर्माण में लेड ऑक्साइड, कॉपर सल्फेर और माइका जैसे हानिकारक केमिकल्स का इस्तेमाल किया जाता हैं। यानी केमिकल इंडस्ट्री में इस्तेमाल किए जाने वाले सिन्थेंटिक डाइज से बने होली के रंग त्वचा और बालों के लिए अच्छे नहीं होते।
  • जिन लोगों की त्वचा बहुत सेंसंटिव या संवेदनशील होती है उन्हें त्वचा संबंधी कई समस्याएं हो सकती हैं। इन समस्याओं में  एक्ने की समस्या, एलर्जी की समस्या, डर्मैटाइटिस या फिर एक्जिमा की समस्या हो सकती हैं। इतना ही नहीं कई लोगों को त्वचा पर रैशेज पड़ना, त्वचा पर दाने निकलना जैसी समस्या भी हो सकती हैं।
  • कुछ लोगों की स्किन इतनी ज्यादा सेंसंटिव होती है कि होली के बाद उनको त्वचा कैंसर भी हो जाता है।
  • क्या आप जानते हैं होली के रंगों से होने वाली त्वचा संबंधी समस्याएं कई बार होली के रंगो को छुड़ाने के दौरान भी हो जाती हैं। यह इस बात पर निर्भर करता है कि आप होली के रंग किस तरह से छुड़ा रहे हैं और त्वचा की देखभाल कितनी कर रहे हैं।
  • कुछ लोग होली के रंगों को रगड़-रगड़ कर छुटाते हैं जिनसे उनको त्वचा संबंधी समस्याएं बढ़ जाती हैं।
  • होली के कृत्रि‍म रंगों से आपके नाखून भी कमजोर हो सकते हैं। इतना ही नहीं कमजोर नाखून जल्दी से बढ़ नहीं पाते या फिर कुछ समय बढ़कर बीच में से टूटने लगते हैं। कई बार नाखूनों पर चढ़ा रंग महीनों तक निकल नहीं पाता। कई बार तो नाखूनों के किनारों पर और खाल में अंदर भी रंग चला जाता है जिससे आपके नाखून और हाथ बहुत ही भद्दे दिखाई देते हैं।
  • होली के कृत्रि‍म रंगों से आपके बाल रूखे हो सकते हैं। कई बार बाल कमजोर हो जाते हैं और बाल टूटने लगते हैं। कई आपको डेंड्रफ की समस्या भी हो जाती है तो कई बार बालों में एलर्जी भी हो सकती है। आपको स्कॉल्प  में खुजली होने लगती है या‍ फिर स्कॉंप्ल में दाने निकलने लगते हैं, इससे आपके बाल अनहैल्दी हो सकते हैं।
  • होली के कृत्रि‍म रंगों से आंखों पर भी दुष्प्रभाव पड़ता है। केमिकल से बने रंगों से आपको आंखों संबंधी समस्‍याएं जैसे आंख में सूजन आना, आंख में एलर्जी होना भी हो सकता है। कई बार तो रंगों के आंखों में बहुत अधिक जाने से अंधता का खतरा भी बढ़ जाता है।
  • आपकी होली बदरंग ना हो, इसके लिए आपको चाहिए कि आप सावधानी से होली खेले और उन उपायों को अपनाएं जिससे आप त्वचा और बालों जैसी समस्याओं से बच सकें।

Read More Articles On Festival Special In Hindi

Write a Review
Is it Helpful Article?YES4 Votes 11475 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर