होली की मस्ती में नशे पर लगाम जरूरी

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Mar 01, 2012
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!


होली के दिन मौज और मस्ती में भांग और शराब पीना आम बात है। लोग होली पर ठंडई के नाम पर भांग और शराब का ज्यादा मात्रा में सेवन कर लेते हैं। ठंडई, दूध, आइसक्रीम, मिठाई और चॉकलेट में भांग मिलाकर लोग इसका सेवन करते हैं। भांग के अलावा कुछ लोग होली के मौके पर एलकोहलयुक्त पेय भी लेते हैं। मस्ती के इस त्योहार में नशे वाले पेय-पदार्थ अगर ज्यादा मात्रा में लिया जाए तो इससे आपकी सेहत पर बुरा प्रभाव पड़ सकता है। कई लोग तो ज्यादा नशा करके सडक पर हुडदंग करते हैं, जिससे और लोगों को दिक्कत होती है। नशे का सबसे बुरा प्रभाव लीवर से लेकर दिमाग तक पडता है। होली के त्‍यौहार पर ज्यादा नशा करने से सोचने-समझने की शक्ति कम हो जाती है। इसके अलावा एल्कोहल दिल के बीमारियों को भी बढाता है।

 

होली में नशा करने से नुकसान –


होली की मस्ती और नशे के सुरूर में लोग दूसरों के बारे में भूल जाते हैं। कुछ लोग तो पहली बार नशीले पदार्थों का सेवन करते हैं और नशे के हैंगओवर को बर्दाश्त  नहीं कर पाते हैं। कई लोग तो इतना ज्यादा नशा कर लेते हैं कि जमीन पर लोटने लगते हैं। नशे में होली खेलने के दौरान किस प्रकार का रंग प्रयोग कर रहे हैं इस बात का भी एहसास नहीं हो पाता है।

 

भांग के नुकसान -

होली पर ठंडई के रूप में भांग का सबसे ज्यादा सेवन होता है। लोग भांग का प्रयोग ठंडई और मिठाई में करते हैं। लेकिन भांग का साइड इफेक्ट होता है जिसका असर दिमाग पर पडता है। भांग के रासायनिक यौगिक आंख, कान, त्वचा और पेट को प्रभावित करते हैं। त्योहारों पर भांग का सेवन करने से चिडचिडापन, भूख न आना, नींद में दिक्कत होना, बेचैनी, क्रोध बढना आदि समस्याएं आती हैं जो आपके त्योहार का मजा बिगाड सकती हैं।

 


शराब के नुकसान -

भांग के अलावा होली की मस्तीं में लोग शराब का ज्यादा मात्रा में सेवन करते हैं। शराब ज्यादा पीने से लीवर को नुकसान होता है और कैंसर होने की संभावना बढ जाती है। ब्लडप्रेशर, डायबिटीज, हार्ट या लीवर के मरीजों को त्योहार पर बिलकुल ही नशा नहीं करना चाहिए। दिल के मरीजों को ज्यादा शराब पीने से दिल की धडकन तेज हो सकती है जिससे हार्ट अटैक का खतरा बढ जाता है। शुगर के पेशेंट को एल्कोहल पीने से इंसुलिन की सेंसिटिविटी बढ जाती है। त्योहार के मौके पर शराब पीने वाली महिलाओं का लीवर पुरूष के मुकाबले ज्यादा खराब हो सकता है।

 

Read More Articles On Tyohar Special In Hindi

Write a Review
Is it Helpful Article?YES1 Vote 11107 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर