ये तरीके आजमाने के बाद यकीनन छूट जायेगी आपकी धूम्रपान की लत!

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
May 09, 2017
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • धूम्रपान छोड़ने के बाद कई तरह के साइडइफैक्ट भी होते हैं।  
  • कुछ दवाओं की मदद से धूम्रपान को छोड़ा जा सकता है।
  • निकोटिन पैच छोटा, खुद से ही चिपकने वाला होता है।

स्मोकिंग (धूम्रपान) छोड़ना असंभव नहीं, लेकिन ये आसान भी नहीं है। धूम्रपान छोड़ने पर कई साइडइफैक्ट भी होते हैं, इसलिये इसके लिये दृंण इच्छा शक्ति और कई कई अन्य सहायक कारकों की भी जरूरत होती है। अगर आप बार-बार प्रयास कर भी असफल हो रहे हैं और धूम्रपान छोड़ने पर होने वाली शारीरिक और मानसिक परेशानियां को नियंत्रित करने में असफल हो रहे हैं, तो फ़ूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन (FDA) द्वारा स्वीकृत कुछ दवाओं की मदद लेकर धूम्रपान को पूरी तरह छोड़ा जा सकता है।

इसे भी पढ़ें : मुंह की बीमारियों से भी होता है ब्रेस्ट कैंसर

क्विट-स्मोकिंग दवाओं का उपयोग बहुत सफलता की संभावना को बढ़ा सकती हैं। तंबाकू छोड़ने की कोशिश करने वालों में से केवल 5 प्रतिशत लोग ही बिना क्विट-स्मोकिंग दवाओं के उपयोग के सफल हो पाते हैं। लेकिन इनका उपयोग करने पर 30 प्रतिशत से अधिक लोग धूम्रपान छोड़ने में सफल हो जाता हैं। आपके धूम्रपान छोड़ने की संभावना तब और भी बढ़ जाती है जब आप धूम्रपान छोड़ने के लिये क्विट-स्मोकिंग दवाओं के साथ बिहेवियर थेरेपी (behavior therapy) भी लेते हैं। तो चलिये आज इस जानलेवा धूम्रपान की लत को आपके जीवन से हमेशा के लिये दूर कर देते हैं।

इसे भी पढ़ें: जानिए क्या हैं हृदय रोग के लक्षण

क्विट-स्मोकिंग दवाओं के प्रकार

कुछ क्विट-स्मोकिंग दवाओं को निकोटिन रिप्लेमेंट थेरेपी के नाम से भी जाना जाता है, क्योंकि इनमें थोड़ी मात्रा में निकोटिन मौजूद होता है। इनके कई प्रकार बाज़ार में मौजूद हैं। औस ये सभी दवाएं निकोटीन की तलब व इसको छोड़ने पर होने वाले तीव्र बदलावों से निपटने में मदद करती हैं और धूम्रपान छोड़ने में सहायक सिद्ध होती हैं। हालांकि आप इन दवाओं को बिना पर्चे के भी लिया जा सकता है, लेकिन बेहतर होगा कि आप इनके उपयोग के बारे में डॉक्टर से भी एक बार सलाह ले लें। कोई एक अकेली दवा नहीं है जो सभी लोगों पर काम कर जाए। डॉक्टर से सलाह लेने पर आप इसे लेने का तरीका व इससे जुड़ी सभी जानकारी सही तरह से समझ और जान पाते हैं।  

 

Quit Smoking in Hindi

निकोटिन पैच (Nicotine patch)

निकोटिन पैच छोटा, खुद से ही चिपकने वाला होता है जोकि धीमी गति से एक निश्चित मात्रा में निकोटिन को त्वचा के माध्यम से शरीर में छोड़ता है। रोज़ एक नए निकोटिन पैच को कमर और गर्दन के बीच की त्वचा पर ऐसी जगह लगाया जाता है जहां बाल न या कम बाल हों।

 

फायदे -

निकोटिन पैच बिना डॉक्टर के पर्चे के लिया जा सकता है और इस्तेमाल में बेहद आसान होता है। एक निकोटिन पैच 24 घंटो के लिये निकोटिन की तलब को काबू करता है और इसके निकोटिन छोड़ने के तहत होने वाली प्रतिक्रियाओं को भी नियंत्रित करता है। इस पैच को अन्य क्विट-स्मोकिंग दवाओं के साथ भी इस्तेमाल किया जा सकता है।

 

ख़ामियां -

आप अचानक होने निकोटिन लेने की तीव्र इच्छा को काबू करने के दौरान निकोटीन की मात्रा समायोजित नहीं कर पाते हैं। हालांकि आप निकोटिन की तीव्र इच्छा होने पर पैच लगाने के साथ दूसरी क्विट-स्मोकिंग दवा ले सकते हैं। पैच से त्वचा में खुजली, दाने और जलन हो सकती है। पैच की वजह से नींद में ख़लल या उत्तेजक सपने भी आ सकते हैं। ऐसे में आप रात को पैच निकाल सकते हैं। संभावित त्वचा की जलन को कम करने के लिए एक से अधिक बार एक ही स्थान पर पैच लगाने से बचें और 24 घंटों के बाद इसे जरूर बदलें।  

 

एहतियात -

एक्जिमा या सोरायसिस आदि समस्या होने पर इस पैच के इस्तेमाल से त्वचा में खुजली, दाने और जलन हो सकते हैं।

 

समय सीमा -

आठ से बारह सप्ताह के लिए निकोटीन पैच का उपयोग करना थओड़ा असहज होता है। आपको धूम्रपान छोड़ने पर होने वाले लक्षणों के आधार पर इनका इस्तेमाल लंबे समय तक करना पड़ सकता है। इस संबंध में अपने डॉक्टर से परामर्श करेँ।   

 

निकोटिन गम (Nicotine gum)

निकोटिन गम में थोड़ी मात्रा में निकोटिन होता है। निर्देशानुसार गम का सेवन करने पर निकोटिन मुंह की भीतरी सतह द्वारा सोख लिया जाता है और शरीर में प्रवेश करता है।   

 

फायदे -

निकोटिन गम बिना पर्चे के दो खुराकों में उपलब्ध है। ये अचानक से उठने वाली निकोटिन की तलब और धूम्रपान छोड़ने पर होने वाले साइडइफैक्टों को तुरंत दूर कर सकती है। जब शुरुआत में आप निकोटिन गम का सेवन शुरू करते हैं तो आप हर दो से चार घंटे में एक गम खा सकते हैं (दिन में 24 गम तक)। यह कई तरह के फ्लेवर में आती है। अक्सर इसे निकोटिन पैच या अन्य क्विट-स्मोकिंग दवाओं के साथ कॉम्बिनेशन में इस्तेमाल किया जा सकता है।    

 

ख़ामियां -

निकोटिन की तलब और धूम्रपान छोड़ने पर होने वाले साइडइफैक्टों को नियंत्रित करने के लिये आपको पूरा दिन ये गम खानी पड़ती हैं। साथ ही ये स्थायी नहीं बल्कि केवल तात्कालिक तौर पर तलब को दूर करती है। इसका पूरा फायदे लेने के लिये बजाए आम च्युइंग गम को चबाने के इसे चबाने में आपको खास तकनीक का प्रयोग करना होता है, जोकि इसके निर्देशों में दिया भी गया होता है। इसके साइड इफेक्ट्स में बहुत ज्यादा चबाने से जबड़े में सूजन व दर्द, मुंह में जलन, मतली, पेट खराब होना व ज्यादा लार बनना शामिल होते हैं।

 

एहतियात -

निकोटीन गम डेन्चर या दंतों में हुए किसी और प्रकार के काम में चिपक सकती है। उपयोग के दौरान व 15 मिनट बाद तक पानी के अलावा खाने या कुछ भी पीने से बचें।

 

समय सीमा -

निकोटीन गम को 12 सप्ताह तक के लिए इस्तेमाल की सलाह दी जाती है। आप दो से चार घंटे में एक गम खाने से शुरात कर सकते हैं और निकोटिन की तलब और धूम्रपान छोड़ने पर होने वाले साइडइफैक्टों के कम होने के साथ-साथ इसका सेवन भी कम कर सकते हैं।

 

निकोटीन लोज़ेंग (Nicotine lozenge)

निकोटीन लोज़ेंग ऐसी टेबलेट्स होती हैं, जिनमें कम मात्रा में निकोटिन होता है। इन्हें मसूड़ों और गाल के बीच रख कर पीरू तरह घुल जाने तक धीरे-धीरे चूसना होता है। जिससे ले निकोटिन रक्त धारा में मिल जाता है।

 

फायदे -

निकोटीन लोज़ेंग को बिना पर्चे के कई खुराक और फ्लेवर में लिया जा सकता है। इसके एक प्रकार को मिनिलोज़ेंग (minilozenge)  होता है और यह तेज़ी से निकोटिन को रक्त धारा में घोलता है। ये अचानक और थोड़े समय के लिये होने वाली निकोटिन की तलब और धूम्रपान छोड़ने पर होने वाले साइडइफैक्टों को काबू करने के लिये होती है। आप आमतौर पर एक दिन में 20 तक लोज़ेंग इस्तेमाल कर सकते हैं। इसे निकोटिन पैच या अन्य क्विट-स्मोकिंग दवाओं के साथ कॉम्बिनेशन में इस्तेमाल किया जा सकता है।  

 

ख़ामियां -

आपको निकोटिन की तलब और धूम्रपान छोड़ने पर होने वाले साइडइफैक्ट्स को काबू करने के निकोटीन लोज़ेंग का इस्तेमाल पूरे दिन करना होता है। इसके सेवन से कई बार मतली, अपच, हार्टबर्न, गले में जलन या हिचकियों आदि का सामना करना पड़ सकता है।  

 

एहतियात -

पानी को छोड़कर इसके सेवन के दौरान या 15 मिनट पहले तक कुछ भी खाने या पीने से बचें। निकोटीन लोज़ेंग को 12 सप्ताह तक के लिए इस्तेमाल की सलाह दी जाती है। निकोटिन की तलब और धूम्रपान छोड़ने पर होने वाले साइडइफैक्टों के कम होने के साथ-साथ इसका सेवन भी कम कर सकते हैं।

निकोटिन इनहेलर (Nicotine inhaler)

इसके अलावा निकोटिन इनहेलर (Nicotine inhaler) का भी उपयोग किया जाता है। ये आम इनेहलर की ही तरह होता है (अस्थमा के पंप की तरह)  और मुंह  और गले के माध्यम से निकोटिन की थोड़ी सी मात्रा को रक्त धारा में प्रवेश करता है। इसे अपने फेफड़ों में नहीं लेना चाहिये। इसका अपयोग और लक्ष्य भी बाकी क्विट-स्मोकिंग माध्यमों की ही तरह होता है। लेकिन इसे केवल डॉक्डर की सलाह पर पर्चा दिखा कर ही लिया जा सकता है। कई बार इसके इस्तेमाल से खांसी और मुंह या गले में जलन की समस्या हो सकती है। फेफड़ों के रोग जैसे, अस्थमा होने पर केवल ड़क्टर की सलाह पर ही इसका इस्तेमाल करें। इसका 12 हफ्तों तक और छह से 16 कार्टलेज एक दिन में इस्तेमाल करने की सलाह दी जाती है।


धूम्रपान छोड़ने के लिये क्विट-स्मोकिंग दवाओं के प्रकार में एक प्रकार निकोटिन नेज़ल स्प्रे (Nicotine nasal spray) भी है। जिसे नाक के माध्यम से लिये जाता है। इसके अलावा केवल डॉक्डर की सलाह पर पर्चा दिखा कर ही ली जा सकने वाली दावाओं में बूप्रोपिओन (Bupropion) व वरेनिक्लिन (Varenicline) भी शामिल हैं। लेकिन इनको सिर्फ और सिर्फ डॉक्टर की ही सलाह पर लेना चाहिये।


ऐसे अन्य स्टोरीज के लिए डाउनलोड करें: ओनलीमायहेल्थ ऐप

Fact Source - mayoclinic
Image Source - Getty Images
Read More Articles On Healthy Living In Hindi

Write a Review Feedback
Is it Helpful Article?YES25 Votes 8657 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर