दिल के मरीज़ रहें पटाखों से दूर

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Nov 02, 2013
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • पटाखों का शोर दिल के लिए नहीं होता अच्‍छा।
  • अपने आहार पर दें पूरा ध्‍यान।
  • व्‍यायाम और योग का सहारा लें।
  • तबीयत बिगड़ते ही करें डॉक्‍टर से संपर्क।

दिल की बीमारी आजकल काफी सामान्‍य हो चली है। दिल की बीमारी अब किसी भी उम्र में हो सकती है। दिवाली ऐसा त्‍योहार है जिसमें काफी शोर होता है। और ऐसे लोग जिनका दिल थोड़ा कमजोर है अथवा जो किसी हृदय रोग से जूझ रहे हैं, उन्‍हें खास सावधानी बरतनी चाहिए। उदाहरण के लिए ऐसे लोग जो एंग्‍जीना से पीडि़त हैं, उन्‍हें दिवाली के दौरान हृदयाघात होने का खतरा अधिक होता है। एंग्‍जीना वह रोग होता है जिसमें रक्‍तवाहिनियों में रक्‍त प्रवाह कम होने के कारण छाती में दर्द होने लगता है। अचानक होने वाला शोर उच्‍च रक्‍तचाप और एंग्‍जीना से पीडि़त लोगों के लिए अच्‍छा नहीं होता।

दिवाली के मरीजों के लिए दिवालीहृदय रोगियों को लो कैलोरी आहार पर‍ टिके रहना चाहिए। दिवाली के दौरान आपके सामने मिठाई का भंडार हो सकता है, लेकिन इस दौरान आपके लिए जरूरी है कि आप अपनी जुबान पर लगाम लगाएं और अपनी सेहत का खयाल रखें। बेशक, त्‍योहार के मौसम में मीठे से दूर रहना आसान नहीं, लेकिन फिर भी आपको बिल्‍कुल लापरवाह नहीं होना चाहिए।

जरा सी सावधानी बरतकर आप अपने त्‍योहार को आनंदमय और स्‍वस्‍थ तरीके से मना सकते हैं। दिवाली आपके जीवन में रोशनी लाने का दिन है। आइए जानते हैं कि कैसे कुछ खास टिप्‍स आजमाकर हृदय रोगी एक सुरक्षित दिवाली मना सकते हैं।


हालांकि, हृदय रोगियों को लो कैलोरी आहार पर‍ टिके रहना चाहिए। दिवाली के दौरान आपके सामने मिठाई का भंडार हो सकता है, लेकिन इस दौरान आपके लिए जरूरी है कि आप अपनी जुबान पर लगाम लगाएं और अपनी सेहत का खयाल रखें। बेशक, त्‍योहार के मौसम में मीठे से दूर रहना आसान नहीं, लेकिन फिर भी आपको बिल्‍कुल लापरवाह नहीं होना चाहिए।

शोर रहित दिवाली मनाएं

दिवाली रोशनी का त्‍योहार है और अपनी सोसासटी के लोगों को इसके लिए राजी कर आप इस तरह की दिवाली मना सकते हैं। आप ऐसे पटाखों का इस्‍तेमाल करें जिनमें आवाज कम हो। आप रोशनी वाले पटाखों का इस्‍तेमाल कर सकते हैं।

अपनी डायट न छोड़ें

दिवाली वह मौका है, जब आप अपनी नियमित आहार योजना को छोड़कर ऑयली और अधिक मीठा भोजन करने लगते हैं। ऐसे भोजन में काफी उच्‍च मात्रा में कैलोरी होता है। इस बात का ध्‍यान रखें कि आप ऐसा भोजन न करें जिसमें काफी तेल हो क्‍योंकि यह आपके दिल की सेहत के लिए अच्‍छा नहीं होता।

दवायें पूरी लें

अपनी दवाओं को मिस न करें। दिवाली में अपने दिल की सेहत को फिट रखने का यह एक आसान तरीका है। दिल के मरीजों को इस बात का पूरा ध्‍यान रखना चाहिए कि त्‍योहार के दिनों में आप अपनी दवाओं को लेकर कोताही न बरतें।

तनाव मुक्‍त रहें

योग आपको इस मौसम में तनाव से दूर रखने में मदद करता है। इससे आपका तन, मन और आत्‍मा तनावमुक्‍त रहती है। योग से आपका रक्‍तचाप भी नियंत्रित रहता है, जो आपके दिल के लिए काफी अच्‍छा होता है।

ईसीजी करवाएं

ईसीजी के जरिये आप अपना रक्‍तचाप और कोलेस्‍ट्रोल का स्‍तर जांच सकते हैं। दिवाली से पहले ही ऐसा करवा लेना अच्‍छा रहेगा। इससे आपको दिवाली के लिए खुद को तैयार करने में काफी मदद मिलेगी। उदाहरण के लिए अगर आपका बीपी हार्इ है तो आपको अपने आहार और भावनाओं पर नियंत्रण रखने की जरूरत है।

व्‍यायाम करें

व्‍यायाम आपके शरीर में रक्‍त प्रवाह सुचारू करने में मदद करता है। इससे आपका दिल भी सेहतमंद रहता है। दिवाली के दौरान भी व्‍यायाम का अपना नियम न तोड़ें। व्‍यायाम इन दिनों में आपके लिए और भी जरूरी हो जाता है क्‍यों‍कि इन दिनों में आपके दिल पर अन्‍य दिनों के मुकाबले अधिक जोर पड़ता है।

सोने का समय तय करें

हालांकि यह जरा मुश्किल है, लेकिन अपने सोने का समय तय रखें। हो सकता है कि आप थक गए हों, लेकिन फिर भी रात में सोने से कम से कम दो तीन घंटे पहले अपना भोजन जरूर कर लें।

 

Read More Article on Festival-Special in hindi.

 

Write Comment Read ReviewDisclaimer Feedback
Is it Helpful Article?YES1 Vote 11844 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर