Health Videos »

लो ब्‍लड शुगर के इन लक्षणों को जानें

Onlymyhealth Editorial Team, Date:2016-07-21

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

खून में शुगर की अधिकता होने से मधुमेह होता हैं, पर अगर खून में शुगर की कमी हो जाती है तो उसे ‘हाइपोग्लाइसीमिया’ कहते हैं।अगर खून में शुगर की मात्रा 70 मिलीग्राम से कम है तो हाइपोग्लाइसेमिया और 50 मिलीग्राम से भी कम है तो ये सीवियर हाइपोग्लाइसीमिया के श्रेणी में आता है।हाइपोग्लाइसीमिया होने की सबसे बड़ी वजह मधुमेह पीड़ितों की लापरवाही या जागरूकता का अभाव है। अकसर देखा गया है कि मरीज अपने मन से दवा लेते और छोड़ते हैं। इससे इंसुलिन की मात्रा घट-बढ़ जाती है। हाइपोग्लाइसीमिया से बचना है तो जरूरी है कि इस बीमारी के बारे में ठीक से समझने की और सावधानी बरतने की। इंसुलिन या दवाई लेने के पश्चात भोजन न कर पाना। इंसुलिन या दवाई की मात्रा आवश्यकता से अधिक लेने या भूलवश दोबारा दवाई लेने पर। वश्यकता से अधिक शारीरिक श्रम या कसरत, बच्चों से अधिक खेलकूद। अत्यधिक शराब का सेवन व भोजन नहीं कर पाने पर। इंसुलिन को त्वचा के नीचे (सबक्युटेनियस) लगाने के बजाए नस में (इंट्रावीनस) लगा लेने आदि के कारण हाइपोग्लाइसीमिया की स्थिति आती है। छाती में दर्द, सांस फूलना, अनियमित धड़कनें, तेज बुखार, गर्दन का अकड़ जाना, अगर ज्यादा लंबे समय तक लो ब्लड प्रेशर की समस्या हो तो उल्टी और डायरिया भी हो सकती है, बेहोशी, अत्यधिक थकान, कुछ समय के लिए धुंधला या कुछ दिखाई न देना आदि लो ब्लडप्रेशर के लक्षण हो सकते है। इससे बचने के लिए जरूरी है कि आप अपनी जीवनशैली को सुधारें।
Related Videos
Post Comment

प्रतिक्रिया दें

Disclaimer +

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।