सेक्‍स और संबंध videos

  • गर्भनिरोधक गोलियां लेने का आपके शरीर पर क्या असर पड़ता है?

    गर्भनिरोधक गोलियां लेने का आपके शरीर पर क्या असर पड़ता है?

    कॉन्ट्रासेप्शन के कई तरीके होते हैं। उन में से एक असरदार तरीका पिल्स लेना है। लेकिन ये ज़रूरी है की आप जानें कि ये कितना सुरक्षित है। अपोलो अस्पताल की डॉ. सुष्मा सिन्हा से जानें।

  • समलैंगिकता को कैसे स्वीकारें

    समलैंगिकता को कैसे स्वीकारें

  • गर्भनिरोधन के उपाय कितने सफल हैं

    गर्भनिरोधन के उपाय कितने सफल हैं

    गर्भावस्था से बचने के विभिन्न साधन उपलब्ध हैं। ये मूल रूप से दो प्रकार के हैं- स्थायी और अस्थायी। अस्थायी प्रकार हैं गर्भनिरोधक गोलियां, इंजेक्शन, कॉपर टी व कंडोम। इन में से सबसे फायदेमंद है गर्भनिरोधक गोलयां हैं।

  • गर्भनिरोधक के प्रकार और कार्यविधि

    गर्भनिरोधक के प्रकार और कार्यविधि

    लगभग हर बार सेक्‍स के बाद गर्भधारण की संभावना होती है। हमारे देश की आबादी बहुत अधिक है और इसलिए समय की मांग है कि हम गर्भनिरोध के तरीके अवश्‍य अपनाएं। गर्भनिरोधक कई प्रकार के हो सकते हैं।बैरियर मैथर्ड, जैसे कण्‍डोम, जिनमें पुरुष और महिला दोनों प्रकार के कण्‍डोम मौजूद हैं।

  • गर्भनिरोधक कैसे काम करते हैं

    गर्भनिरोधक कैसे काम करते हैं

    हर गर्भनिरोधक की कार्यप्रणाली अलग होती है। इनका मकसद भी अलग होता है। कोई ओविलेशन को रोकता है, कोई अण्‍डाणुओं और वीर्य के मिलने में बाधा उत्‍पन्‍न करता है और कोई वे दोनों मिल भी जाएं, तो वह उन्‍हें यूट्राइन केविटी में स्‍थापित नहीं होने देते।

  • यौन शिथिलता के कारण

    यौन शिथिलता के कारण

    यौन शिथिलता के कई कारण हो सकते हैं। यह हर व्‍यक्ति के लिए अलग हो सकता है। यह शारीरिक भी हो सकता है और मनोवैज्ञानिक भी हो सकता है। इसके साथ ही यह शारीरिक, मनोवैज्ञानिक और सामाजिक दिक्‍कतों का संयोजन भी हो सकता है।

  • यौन रोगों का इलाज कैसे होता है

    यौन रोगों का इलाज कैसे होता है

    अधिकतर यौन रोगों का इलाज हो सकता है। यौन रोगों का इलाज उनके कारणों पर निर्भर करता है। अधिकतर यौन रोग, चाहे वे जैविक कारणों से हों अथवा मानसिक कारणों से उनका इलाज किया जा सकता है। महत्त्‍वपूर्ण बात यह है कि इनका इलाज दो प्रकार से किया जाता है।

  • यौन रोगों से कैसे बचा जा सकता है

    यौन रोगों से कैसे बचा जा सकता है

    यौन रोगों से बिलकुल बचा जा सकता है। खासतौर पर अगर आपको यौन विषयों और रोगों के बारे जानकारी हो। इसके साथ ही आप एक स्‍वस्‍थ जीवनशैली अपनाएं और अपने यौन संबंधों में वफ़ादार रहें।

  • खतना और यौन आनंद

    खतना और यौन आनंद

    खतने का यौन सुख पर कोई नकारात्‍मक प्रभाव नहीं पड़ता, बल्कि इससे यौन सुख में इजाफा होता है। ऐसा देखा गया है कि जिन पुरुषों ने खतना करवाया है, वे और उनकी महिला साथी दोनों को अधिक यौन सुख प्राप्‍त होता है।

  • लुब्रिकेंट्स कितने सुरक्षित हैं

    लुब्रिकेंट्स कितने सुरक्षित हैं

    संभोग के लिए लुब्रिकेशन की जरूरत होती है। संभोग के दौरान प्राकृतिक रूप से लुब्रिकेशन हो जाता है। उत्तेजना से ही लुब्रिकेशन हो जाता है। कई बार महिलाओं में प्राकृतिक रूप से लुब्रिकेशन नहीं होता। इसके कई कारण हो सकते हैं।

Next » RESULTS:1 - 10 of 35