हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

आप खुद से बोलते हैं सेहत से जुड़े ये 7 झूठ

By:Bharat Malhotra, Onlymyhealth Editorial Team,Date:Jan 12, 2015
कहते हैं इनसान सबसे झूठ बोल सकता है, लेकिन खुद से नहीं। लेकिन, बात जब सेहत की आती है, तो इसमें हम खुद से अकसर झूठ बोल ही जाते हैं।
  • 1

    कैसे दिखते हैं आप

    क्‍या आप खुद को आईने में देखना पसंद करते हैं, या नहीं। आप फिट हैं, तो आप उन खास लोगों में से हैं, जो वजन बढ़ने की चिंता किये बिना कुछ भी खा सकते हैं। और आपको पसंद है हैम्‍बर्गर, पित्‍जा या कुछ भी ऐसा जो सेहत के लिहाज से अच्‍छा नहीं। और जब तक आप खुद को आईने में देखकर अच्‍छा महसूस करते हैं, आपको घबराने या चिंता करने की जरूरत नहीं।
    Image Courtesy : Getty Images

    कैसे दिखते हैं आप
  • 2

    जीन्‍स में नहीं है मोटापा

    हम कहते हैं कि मोटापा हमारे जीन्‍स यानी गुणसूत्रों में होता है। जबकि यह बात सही नहीं है। 64 फीसदी पुरुषों में पतले होने के गुणसूत्र होते हैं। और इसी प्रकार के गुणसूत्र हमारे अवयवों के इर्द-गिर्द जमाकर हमें मोटा बनाने का काम करते हैं। इन्‍हीं जीन्‍स के कारण ही हृदय रोग और अन्‍य प्रकार के अवयवों को होने वाले नुकसान भी होते हैं। हार्वर्ड से जुड़े इंस्‍टीट्यूट ऑफ एजिंग रिसर्च के शोध में यह बात सामने आयी है। तो खुद से झूठ बोलना बंद करें। चाहे वह सिगरेट हो या स्‍टेरॉयड, बुरा खानपान, इस सबसे आपको काफी नुकसान हो सकता है, भले ही आप बाहर से देखने पर भले नजर आते हों। इसके अलावा कई ऐसे झूठ हैं, जो खुद से बोलते हैं, लेकिन वे आपकी सेहत के लिए काफी नुकसानदेह होते हैं।
    Image Courtesy : Getty Images

    जीन्‍स में नहीं है मोटापा
  • 3

    पूरे हफ्ता तो पीता नहीं, वीकएंड पर चलता है

    टैक्‍सास यूनिवर्सिटी ने पाया कि मध्‍यम आयु-वर्ग के पुरुष जो महीने में एक बार बहुत ज्‍यादा शराब पीते हैं, वे दो घंटे के भीतर ही चार-पांच ड्रिंक पी लेते हैं। ऐसे लोगों की मौत की आशंका रोज कम मात्रा में शराब पीने वालों से दोगुनी होती है। 20 वर्ष तक चले शोध में यह बात सामने आई है। एक अन्‍य हालिया शोध में युवा पुरुषों में अधिक शराब पीने का संबंध मस्तिष्‍क की कार्यक्षमता और अधिक उम्र में सेहत पर पड़ने वाले बुरे असर से पाया गया है। बेशक आप रोज थोड़ी शराब पीते रहें, इससे आपकी सेहत पर कम असर पड़ता है, लेकिन अगर आप वीकएंड पर ज्‍यादा शराब पीते हैं, तो असल में आप अपनी सेहत को नुकसान पहुंचाते हैं।
    Image Courtesy : Getty Images

    पूरे हफ्ता तो पीता नहीं, वीकएंड पर चलता है
  • 4

    दिन में खाया सलाद, तो बाद में कुछ भी खाने की आजादी

    नार्थवेस्‍टर्न यूनिवर्सिटी के शब्‍दों में इसे 'लाइसेसिंग इफेक्‍ट' कहा जाता है। अतीत में अपने आहार की बुरी आदतों को याद रखें। इससे आप भविष्‍य में उन्‍हें अपनाने से बचेंगे। लेकिन, इस बात का भी खयाल रखें कि कैलरी का सेवन न करना और कैलरी खर्च करना दोनों अलग-अलग बातें हैं। और दिन में अगर आप बर्गर नहीं खाते हैं, तो इसका अर्थ यह नहीं कि रात में आपको बर्थडे केक खाने की छूट मिल जाती है। बेहतर है कि खानपान की अच्‍छी आदतों को हमेशा अपनाया जाए।
    Image Courtesy : Getty Images

    दिन में खाया सलाद, तो बाद में कुछ भी खाने की आजादी
  • 5

    मैं फिट हूं मुझे एक्सरसाइज की जरूरत नहीं

    आप फिट नजर आते हैं और इसलिए आप सोचते हैं कि आपको व्यायाम करने की जरूरत नहीं है। लेकिन ऐसा नहीं है। कई अध्ययन इस बात को साबित कर चुके हैं कि रोजाना कम से कम 30 मिनट का व्यायाम जरूर करना चाहिये। इससे आप कई  बीमारियों से बचे रहते हैं। जरूरी नहीं कि आप कड़ा व्यायाम ही करें। पैदल चलना, जॉगिंग, तैराकी और साइकल चलाने जैसे सामान्य व्यायाम भी मददगार साबित होते हैं।
    Image Courtesy : Getty Images

    मैं फिट हूं मुझे एक्सरसाइज की जरूरत नहीं
  • 6

    कभी-कभार सिगरेट पीने में कोई बुराई नहीं

    मुश्किल से पांच में से एक स्‍मोकर दिन में एक से भी कम सिगरेट पीता है। लेकिन, अगर आप सिर्फ वी‍कएंड पर सिगरेट पीते हैं, तो भी यह आपकी सेहत के लिए अच्‍छा नहीं। इससे पूरे सप्‍ताह आपकी धमनियां और रक्‍त प्रवाह सुचारू नहीं रह पाता। यूनिवर्सिअी ऑफ जॉर्जिया ने यह शोध किया। इसलिए कभी-कभार सिगरेट पीने वालों को भी अन्‍य नियमित धूम्रपान करने वालों की ही तरह स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍यायें होती हैं।
    Image Courtesy : Getty Images

    कभी-कभार सिगरेट पीने में कोई बुराई नहीं
  • 7

    मेरे लिए छह घंटे की नींद काफी है

    हो सकता है कि आप सोचते हों कि पांच छह घंटे की नींद काफी है। लेकिन, आपकी यह सोच गलत है। पेन्‍सेलवेनिया यूनिवर्सिटी के मुताबिक जो लोग दो हफ्ते तक छह घंटे या उससे भी कम सोते हैं, याद्दाश्‍त के स्‍तर पर उनका प्रदर्शन उन लोगों के बराबर रहा, जो बीती रात नहीं सोये थे। इसी शोध के अगले चरण में पाया गया कि आठ घंटे या उससे कम सोने वालों को मोटापा, हृदय रोग और कैंसर होने का खतरा बढ़ जाता है। और तो और इससे वर्किंग मेमोरी पर भी बुरा असर पड़ता है। नींद की कमी से फैसला लेने की क्षमता पर भी बुरा असर पड़ता है। शोध यह प्रमाणित कर चुके हैं कि सेहतमंद रहने के लिए आपको आठ घंटे जरूर सोना चाहिये।
    Image Courtesy : Getty Images

    मेरे लिए छह घंटे की नींद काफी है
  • 8

    मैं कॉफी नहीं पीता, तो रोजाना एक सोडा तो चलता है

    कई शोध इस बात को प्रमाणित कर चुके हैं कि ब्‍लैक कॉफी बहुत स्‍वास्‍थ्‍यवर्द्धक होती है। यह डायबिटीज का खतरा कम करती है और साथ ही मस्तिष्‍क की कार्यक्षमता को भी बढ़ाती है। लेकिन, इसके बावजूद कई लोग सोचते हैं कैफीन आखिर कैफीन है। और इसलिए हमें इसका सेवन नहीं करना चाहिये। यूनिवर्सिटी ऑफ मियामी का दावा है कि रोज एक सोडा पीना हमारे दिल की बीमारियों का खतरा 43 फीसदी तक बढ़ा देता है। और इसके साथ ही यह बात भी समझने की जरूरत है कि इससे मोटापा भी बढ़ता है।
    Image Courtesy : Getty Images

    मैं कॉफी नहीं पीता, तो रोजाना एक सोडा तो चलता है
Load More
X
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर