हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

आपकी सेक्‍स लाइफ को बेहतर बनायें ये योगासन

By:Pooja Sinha, Onlymyhealth Editorial Team,Date:Apr 21, 2014
बहुत से ऐसे योगासन है जिनको अपनाकर आप अपनी सेक्‍स लाइफ को पहले से बेहतर बना सकते हैं। आइए ऐसे ही कुछ योगासन के बारे में जाने।
  • 1

    बेहतर सेक्‍स लाइफ के लिए योग

    योग स्‍वस्‍थ रहने के लिए बहुत कारगर साबित होता है। यह आपको फिर से जीवंत, मूड को ताजा और आपको अधिक सक्रिय बना सकता हैं। इतने सारे स्‍वास्‍थ्‍य लाभों के अलावा योग से आप अपने सेक्‍स जीवन में भी सुधार कर सकते हैं। जर्नल ऑफ सेक्सुअल मेडिसिन के शोध के अनुसार, सेक्स लाइफ को बेहतर बनाने में योग बहुत प्रभावी और सुर‌क्षित तरीका है। इससे न सिर्फ शरीर ऊर्जावान रहता है बल्कि यह रक्त संचार में सुधार कर आपका स्टैमिना बढ़ाता है।

    बेहतर सेक्‍स लाइफ के लिए योग
  • 2

    बितिलासन या काऊ पोज

    बितिलासन आपके लचीलेपन में सुधार करने और पीठ को मजबूत बनाने के लिए बहुत अच्‍छा आसन है। यह आपके यौन जीवन अधिक प्रभावी और सक्रिय होने में मदद करता हैं। इस आसान को काऊ पोज के नाम से भी जाना जाता है। इसे  करने के लिए पैर और हाथ को जमीन के सहारे टिका दीजिए, आपका पूरा शरीर सीधा होना चाहिए।

    बितिलासन या काऊ पोज
  • 3

    तितली आसन

    यह आसन मूड को बढ़ाने और जननांग प्रणाली में सुधार करने के लिए काम करता है। इसे करने के लिए तितली आसन में दोनों पैरों को सामने की ओर फैला लें। अब दोनों पैरों को घुटनों से मोड़ें और दोनों तलवों को आपस में मिला लें। इस स्थिति में हाथों से पैरों की अंगुलियों को उसके पास से पकड़ें और एड़ी को ज्‍याद से ज्‍यादा शरीर के करीब लाने का प्रयास करें।

    तितली आसन
  • 4

    उष्ट्रासन

    उष्ट्रासन को ऊंट के रूप में भी जाना जाता है। यह आसन आपके पैरों, विशेष रूप से घुटनों को मजबूत बनाने के बहुत फायदेमंद होता है। इसे करने के लिए अपने घुटनों को धीरे-धीरे पीछे की ओर मोड़कर अपने हथेलियों से पैरों के तलवों को पकड़ें।  उष्ट्रासन आपके महत्‍वपूर्ण अंगों में रक्त परिसंचरण में सुधार कर आपकी सेक्‍स लाइफ में सुधार करने में मदद करता है।

    उष्ट्रासन
  • 5

    सेतु आसन

    सेतु आसन को पुल मुद्रा आसन के नाम से भी जाना जाता है। इस आसन को करते समय पीठ के बल लेटकर घुटनों को मोड़कर तलवों को जमीन पर टिकाएं। शरीर के दोनों तरफ बांहों को भूमि से लगाकर रखें। इस अवस्था में हथेलियां जमीन पर टिकी होनी चाहिए। इसके बाद सांस छोड़ते हुए रीढ़ की हड्डियों को खींचे और कमर को जमीन की ओर धीरे से दबाएं। यह आसन न केवल आपकी कामेच्‍छा में सुधार करता है बल्कि आप इससे ज्‍यादा एक्टिव महसूस करते हैं।

    सेतु आसन
  • 6

    कपोत आसन

    यह योग मुद्रा आपके शारीरिक स्‍वास्‍थ्‍य के साथ-साथ यौन स्‍वास्‍थ्‍य के लिए भी बहुत उपयोगी होता हैं। इसे करने के लिए अपने घुटनों और हथेलियों के सहारे मेज की मु्द्रा में बैठ जाएं। अब अपने दाएं घुटने को मोड़ कर शरीर के बीच में लाने की कोशिश करें। फिर दाएं पैर को बायीं दिशा में ले जाएं और बाएं पैर को धीरे धीरे पीछे ले जाएं। इस अवस्था में बाएं पैर का ऊपरी हिस्सा जमीन से लगा होना चाहिए। इस मुद्रा से आप अपनी कामेच्छा और प्रदर्शन में सुधार की उम्मीद कर सकते हैं। और साथ ही आपको दिन भर में अधिक एक्टिव महसूस होगा।

    कपोत आसन
  • 7

    धनुरासन

    सेक्‍स इच्‍छा में कमी होने पर धनुरासन करना चाहिए। इसको करने से लिंग में अधिक तनाव और योनि में अधिक कसाव आने से कामेच्‍छा जाग्रत होती है और सेक्‍स के दौरान आर्गेज्‍म की प्राप्ति भी होती है। इसे करने के लिए पेट के बल लेटकर श्वास को छोड़ते हुए दोनों घुटनों को एक साथ मोड़कर एडियों को पीठ की ओर बढ़ाएं और अपनी बांहों को पीछे की ओर ले जाएं। फिर बाएं हाथ से बाएं टखने को एवं दायें हाथ से दायें टखने को पकड़ लें।

    धनुरासन
  • 8

    पद्मासन

    यह आसन मन शांत करने के साथ सेक्‍स लाइफ को भी बेहतर बनाता है। इसके साथ ही शरीर के जोड़ों में मजबूती लाने के लिए इस आसन को करना चाहिए। पद्मासन के जरिए ना सिर्फ आपके ज्वॉइंट मजबूत होते हैं बल्कि आपका शरीर भी लचीला होता है। जिससे आपमें अधिक उत्तेजना का संचार होता है। इसे करने के लिए जमीन पर बैठकर बाएं पैर की एड़ी को दाईं जंघा पर इस प्रकार रखें कि एड़ी नाभि के पास आ जाएं। इसके बाद दाएं पांव को उठाकर बाईं जंघा पर इस प्रकार रखें कि दोनों एड़ियां नाभि के पास आपस में मिल जाएं।

    पद्मासन
  • 9

    सर्वांगासन

    यदि सेक्स के नाम सुनते ही आपको निराशा घेर लेती हैं और आप आत्मग्लानि या कमजोरी महसूस करने लगते हैं तो आपको सर्वांगासन करना चाहिए। इस आसन के जरिए आप कई सेक्स समस्याओं से निजात पा सकते हैं। इसे करने के लिए पीठ के बल सीधा लेटकर अपने पैर मिला लें और दोनों हाथों को बगल में सटाकर हथेलियां जमीन की ओर रखें। इसके बाद श्वास को  अन्दर भरते हुए आवश्यकतानुसार हाथों की सहायता से पैरों को धीरे-धीरे 30 डिग्री, फिर 60 डिग्री और अन्त में 90 डिग्री तक उठाएं।

    सर्वांगासन
  • 10

    भुजंगासन

    इस आसन में शरीर की आकृति फन उठाए हुए सर्प जैसी बनती है इसीलिए इसको भुजंगासन या सर्पासन कहा जाता है। भुजंगासन के दौरान प्रेम से संबंधित हार्मोन सक्रिय होते हैं जिससे सेक्स लाइफ बेहतर हो जाती है। इस आसन को करने के लिए पेट के बल सीधा लेट जाएं और दोनों हाथों को माथे के नीचे टिकाएं। फिर दोनों पैरों के पंजों को साथ रखें। अब माथे को सामने की ओर उठाएं और दोनों बाजुओं को कंधों के समानांतर रखें जिससे शरीर का भार बाजुओं पर पड़े। अब शरीर के अग्रभाग को बाजुओं के सहारे उठाएं। शरीर को स्ट्रेच करें और लंबी सांस लें।

    भुजंगासन
  • 11

    अधोमुख स्वानासन

    अधोमुख स्वानासन को नियमित रूप से करने से शरीर लचीला होता है। यह शरीर में रक्त संचार को तेज करता है और यह सेक्स के लिए वार्मअप का भी काम करता है। इस आसन को करने के लिए जमीन पर पेट के बल सीधे लेट जाएं। फिर दोनों पैरों के बीच में थोड़ा अंतर रखें और हथेलियों को कंधों के समानांतर जमीन पर रखें। अब सांस भरते हुए शरीर के मध्य भाग को ऊपर उठाएं। कम से कम 30 सेकंड तक इस अवस्था में रहने के बाद सामान्य अवस्था में आ जाएं।

    अधोमुख स्वानासन
Load More
X