हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

इन कारणों से जानें अंतर्मुखी बिस्‍तर पर क्‍यों होते हैं बेहतर

By:Devendra Tiwari , Onlymyhealth Editorial Team,Date:Jul 05, 2016
अंतर्मुखी लोग बिस्‍तर पर साथी के साथ बेहतर तालमेल बिठाते हैं और प्‍यार करने के अंदाज से भी पार्टनर को प्रभावित करते हैं। उनके प्‍यार करने के तरीके में चरम सुख अंतर्निहित होता है। वे जो भी करते हैं वह परफेक्‍ट होता है।
  • 1

    प्‍यार जताने के तरीके


    प्‍यार ऐसा शब्‍द है जिसकी परिभाषा भी कई है और इसे जताने का तरीका भी अलग-अलग है। सामान्‍तया ऐसा माना जाता है कि बहिर्मुखी बिस्‍तर पर प्‍यार करने में अधिक माहिर होते हैं। लेकिन अगर बात अंतर्मुखी की जाये तो वे बिस्‍तर पर उनसे कहीं अधिक बेहतर होते हैं और उनका प्‍यार जताने का तरीका भी अलग होता है। अंतर्मुखी लोग बिस्‍तर पर साथी के साथ बेहतर तालमेल बिठाते हैं और प्‍यार करने के अंदाज से भी पार्टनर को प्रभावित करते हैं। उनके प्‍यार करने के तरीके में चरम सुख अंतर्निहित होता है। वे जो भी करते हैं वह परफेक्‍ट होता है। इसके अलावा इस स्‍लाइडशो में यह जानते हैं कि किन कारणों से अंतर्मुखी बिस्‍तर पर बेहतर होते हैं।

    प्‍यार जताने के तरीके
  • 2

    आराम और इत्मिनान के साथ


    बिस्‍तर पर सेक्‍स के दौरान जल्‍दबाजी करना मुर्खता हो सकती है, क्‍योंकि ये वो पल हैं जब पार्टनर को चरम सुख मिलता है, शायद यह दुनिया का सबसे खूबसूरत क्षण होता है। ऐसे में जल्‍दबाजी करना बेवकूफी होती है। अंतर्मुखी लोग इसी प्रतिभा के धनी माने जाते हैं। बिस्‍तर पर प्‍यार जताने के दौरान वे आराम और इत्मिनान से काम करते हैं। इससे पार्टनर को और अधिक आनंद आता है। सेक्‍स से पहले फोरप्‍ले के दौरान वे पार्टनर का दिल जीतते हैं जिससे पार्टनर भी उस क्षण के मजे उठाता है और मजा दोगुना हो जाता है।

    आराम और इत्मिनान के साथ
  • 3

    भरोसा कायम रखना


    प्‍यार और भरोसा ये दो शब्‍द एक-दूसरे के पूरक हो सकते हैं। लेकिन बिस्‍तर पर प्‍यार के दौरान अगर हद पार कर दी जाये तो भरोसा टूट सकता है। ऐसे में अंतर्मुखी लोग भरोसा कायम रखते हैं, वे ऐसा कोई काम नहीं करते जिससे पार्टनर को असहज महसूस हो और उसका भरोसा टूटे। इसलिए अगर आप ऐसे इंसान के सा‍थ बिस्‍तर पर अपने जीवन के हसीन पल गुजार रहे हैं तो निश्चिंत हो जायें, क्‍योंकि आपका भरोसा कायम रहेगा।

    भरोसा कायम रखना
  • 4

    क्‍या करना ये उनको पता है


    किसी काम में पूर्णता तभी आती है जब उसके बारे में सही जानकारी हो। ये कहानी बिस्‍तर पर भी लागू होती है, क्‍योंकि यौन क्रिया के दौरान अगर आपके पास सही जानकारी नहीं है और आपसे गलती हो जाये तो इससे पार्टनर का मूड भी बिगड़ सकता है। जबकि अंतर्मुखी लोग काम को पूर्णता के साथ करते हैं। बिस्‍तर पर कब क्‍या और कैसे करना है इसकी जानकारी उनको होती है। इसके कारण ही वे अपने पार्टनर को सहज महसूस कराते हैं और बिस्‍तर पर चरम का आनंद दोगुना कर देते हैं।

    क्‍या करना ये उनको पता है
  • 5

    केवल पार्टनर पर ध्‍यान देना


    प्‍यार के उन हसीन पलों में अगर आपके दिमाग में दूसरी बातें चल रही हैं तो बात बिगड़ सकती है। लेकिन अगर आपका पार्टनर अंतर्मुखी है तो आपको तनाव लेने की जरूरत नहीं है। क्‍योंकि ऐसे लोगों का ध्‍यान बिस्‍तर पर केवल आपके ऊपर होता है। उनका पूरा ध्‍यान आपके ऊपर और आपकी हरकतों पर होता है, ताकि वे आपके साथ बेहतर तालमेल बिठायें और परिणाम सबसे अच्‍छा मिले।

     केवल पार्टनर पर ध्‍यान देना
  • 6

    उनको पता है कब शांत होना है



    बिस्‍तर पर यौन संबंध के दौरान अगर ऑर्गाज्‍म की बात आती है तो पुरुष उसमें पिछड़े ही नजर आते हैं। क्‍योंकि महिलाओं का ऑर्गाज्‍म का समय पुरुषों की तुलना में ज्‍यादा देर तक के लिए होता है। ऐसे में अंतर्मुखी पार्टनर के मन को पढ़ते हैं और उनके अनुसार ही खुद को शांत भी करते हैं। इससे महिला को चरम सुख की प्राप्ति होती है। यानी अंतर्मुखी व्‍यक्तित्‍व वाले बिस्‍तर पर पार्टनर के लिए बेहतर होते हैं।

    उनको पता है कब शांत होना है
Load More
X
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर