हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

आपकी सेहत से जुड़े कई राज खोलता है स्‍तंभन (इरेक्शन)

By:Rahul Sharma, Onlymyhealth Editorial Team,Date:May 10, 2014
किशोरावस्था के शुरु होने के साथ ही सुबह उठने पर लिंग में उत्तेजना का एहसास होने लगता है, जिसे इरेक्शन कहा जाता है, इसका स्वास्थ्य पर काफी प्रभाव पड़ाता है।
  • 1

    इरेक्शन (स्‍तंभन)

    किशोरावस्था के शुरु होने के साथ ही सुबह उठने पर लिंग में उत्तेजना का एहसास होने लगता है। कुछ लोग मानते हैं कि पेट का भोजन बिना पचा रह जाए तो लिंग उत्तेजित हो जाता है, लेकिन यह पूरी तरह सत्य नहीं है। लिंग उत्तेजना दो तरह से होती है। एक सेक्स की भावनाओं के कारण दूसरी नींद रैपिड आई मूवमेंट (आरईएम) के दौरान या गहन स्वप्न की अवस्था में। स्‍तंभन का आपकी सेहत से जुड़ा होता है और इससे सेहत के बारे में कई संकेत मिलते हैं।
    courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

    इरेक्शन (स्‍तंभन)
  • 2

    रैपिड आई मूवमेंट लिंग उत्तेजना

    पुरुषों को अक्सर रैपिड आई मूवमेंट से संबंधित इरेक्शन होता है। इस प्रकार का इरेक्शन दिमाग के जिस हिस्से के सक्रिय होने के कारण सामने आता है, वह सेक्सुअल इरेक्शन के समय पर निष्क्रिय रहता है। मनोवैज्ञानिक दृष्टिकोण से देखें तो दोनों इरेक्शनों में ये ही एक अकेली समानता है।
    courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

    रैपिड आई मूवमेंट लिंग उत्तेजना
  • 3

    मॉर्निंग वुड

    सुबह की उत्तेजना में सेक्स की भावना का अभाव होने के बावजूद यह सेक्स के दौरान होने वाली उत्तेजना से कहीं सख्त एवं प्रभावशाली होता है। मनोवैज्ञानिक इसे 'मॉर्निंग वुड' कहते हैं। इस अवस्था में सेक्स करना भावना विहीन प्रतीत होता है। अधिकांश पुरुषों का मानना है कि यह आसानी से शिथिल भी नहीं होता।
    courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

    मॉर्निंग वुड
  • 4

    कैसे आती है उत्तेजना

    लिंग में इरेक्शन विचार और स्पर्श आदि से होता है। दरअसल दिमाग में एक सेक्स सेंटर है। जब वह उत्तेजित होता है तो संदेश लिंग की तरफ जाता है। और बदन में रक्त का प्रवाह तेज हो जाता है और पूरे शरीर में लिंग में यह प्रवाह सबसे तेज होता है। इसी वजह से लिंग में उत्तेजना होती है।
    courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

    कैसे आती है उत्तेजना
  • 5

    इरेक्शन से समस्या

    कहा जाता है कि ब्लेडर खाली करने पर उत्तेजना कम होने लगती है और लिंग शिथिल हो जाता है लेकिन कई पुरुषों इस बात से इत्तफ़ाक नहीं रखते। कुछ पुरुषों को सुबह उठने पर ब्लेडर फुल होने पर भी लिंग में उत्तेजना नहीं होती वहीं कुछ पुरुषों के लिए यह एक दुखदाई एहसास होता है क्योंकि सुबह- सुबह इस लिंग की उत्तेजना से कोई सेक्सुअल सुख तो नहीं होता बल्कि परेशानी ही होती है।  
    courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

    इरेक्शन से समस्या
  • 6

    इरेक्टाइल डिस्फंक्शन

    सेक्स के दौरान या उससे पहले लिंग में इरेक्शन के ख़त्म हो जाने को इरेक्टाइल डिस्फंक्शन कहा जाता है। यह कई प्रकार का हो सकता है। हो सकता है कि कुछ लोगों को बिल्कुल इरेक्शन न हो, जबकि कुछ लोगों को मात्र सेक्स के बारे में सोच कर ही इरेक्शन हो जाता है, लेकिन जब सेक्स करने की बारी आती है, तो लिंग में ढीलापन आ जाता है।
    courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

    इरेक्टाइल डिस्फंक्शन
  • 7

    बढ़ती उम्र है और इरेक्‍शन

    आमतौर पर लोग मानते हैं कि बढ़ने के साथ पुरुषों के लिंग में इरेक्‍शन की समस्या होने लगती है। लिंग या तो इरेक्ट नहीं होता या फिर सेक्स से पहले ही इरेक्शन खत्म हो जाता है। लेकिन एक शोध में इसके बिल्कुल उलट परिणाम आए हैं। शोध के अनुसार उम्र बढ़ने का मतलब यह नहीं होता कि सेक्स जीवन समाप्त हो जाए।
    courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

    बढ़ती उम्र है और इरेक्‍शन
  • 8

    साथी से खराब संबंध

    अपके अपने के साथ संबंधों में परेशानी और तनाव इरेक्शन की समस्या का कारण बन सकते हैं। यदि साथी से अक्‍सर आपका झगड़ा होता है या आपके विचार उनसे नहीं मिलते तो भी आपको यह समस्या हो सकती है।
    courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

    साथी से खराब संबंध
  • 9

    तनाव

    इस समस्या से जूझ रहे कुछ पुरुषों को नींद में इरेक्शन होता है। विशेषज्ञ बताते हैं कि इरेक्शन की समस्या की वजह तनाव, डिप्रेशन या इससे मिलती - जुलती समस्याएं हो सकती हैं। अगर नींद में आपको इरेकशन नहीं होता तो इसके पीछे कोई शारीरिक वजह हो सकती है।
    courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

    तनाव
  • 10

    कम टेस्टोस्टेरोन लेवल

    इरेक्शन की समस्या वाले पुरुषों की सेक्स के प्रति रूचि कम होने लगती है। हो सकता है कि इसकी वजह आपका टेस्टोस्टेरोन लेवल कम होना हो। आपको इसकी जानकारी खून की जांच से मिल सकती है। इरेक्शन की समस्या वाले अधइकतर पुरुषों का टेस्टोस्टेरोन लेवल कम होता है।
    courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

    कम टेस्टोस्टेरोन लेवल
Load More
X
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर