हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

एक्सरसाइज बंद करने पर स्वास्थ्य को होते हैं ये 6 नुकसान

By:Rahul Sharma, Onlymyhealth Editorial Team,Date:Apr 26, 2016
एक बेहतर ट्रेनिंग प्रोग्राम अपना कर कमाल की फिटनेस और फिजीक पाई जा सकती है, लेकिन अचानक से वर्कआउट छोड़ देने पर इसके विपरीत परिणाम भी झेलने पड़ते हैं, कभी-कभी तो जल्द ही।
  • 1

    वर्कआउट बंद करने के नुकसान

    एक बेहतर ट्रेनिंग प्रोग्राम अपना कर कमाल की फिटनेस और फिजीक पाई जा सकती है, लेकिन अचानक से वर्कआउट छोड़ देने पर इसके विपरीत परिणाम भी झेलने पड़ सकते हैं, कभी कभी तो तत्काल प्रभाव से भी। विशेषज्ञों इसे "डिट्रेनिंग" कहते हैं। इसके कारण आपका मोटापा काफी बढ़ सकता है। लेकिन अच्छी बात तो ये है कि दौबारा जिम जाना शुरू कर इस समस्या से निपटा जा सकता है। तो चलिये जानते हैं कि अचानक वर्कआउट बंद कर देने के शारीर पर क्या प्रभाव पड़ते हैं और इन प्रभावों से उबरने में कितना समय लग सकता है।   
    Images courtesy: © Getty Images

    वर्कआउट बंद करने के नुकसान
  • 2

    रक्तचाप बढ़ जाता है

    एक्सरसाइज करने के दिनों के मुकाबले एक्सरसाइज न करने के दिनों में ब्लड प्रेशर बढ़ जाता है। एक्सरसाइज छोड़ने के मात्र दो हफ्ते बाद से ही रक्त वाहिकाएं गतिहीन जीवन शैली के अनुकूल हो जाती हैं और रक्त का प्रवाह धीमा करने लगती हैं। हालांकि दोबार एक्सरसाइज शुरू करने के कुछ समय बाद से रक्त प्रवाह ठीक होने लगता है।
    Images courtesy: © Getty Images

    रक्तचाप बढ़ जाता है
  • 3

    ब्लड शुगर बढ़ जाता है

    साधारतः ब्लड ग्लूकोज़ भोजन करने के बाद बढ़ता है, और फिर मांसपेशियों और अन्य ऊतकों के द्वारा ऊर्जा के लिए शुगर का अवशोषण किये जाने के बाद स्तर गिर जाता है। स्पोर्ट्स एंड एक्सरसाइज मेडिसिन एंड साइंस के जर्नल की एक शोध के अनुसार लेकिन एक्सरसाइज छोड़ने के 5 दिनों के बाद भोजन के बाद भी रक्त शर्करा का स्तर ऊंचा ही रहता है। हालांकि एक हफ्ते एक्सरसाइज करने के बाद इसमें सुधार आने लगता है।
    Images courtesy: © Getty Images

    ब्लड शुगर बढ़ जाता है
  • 4

    जल्दी थकान होना

    जिम जाना छोड़ने के दो हफ्तों के भीतर ही कुछ सीड़ियां चढ़ने में ही सांस फूलने लगती है। एक्सरसाइज फिजियोलॉजिस्ट स्टेसी सिम्स के अनुसार आपका VO2 ( फिटनेस का एक ऐसा माप जिससे मांसपेशियों द्वारा उपयोग की जा रही ऑक्सीजन का आंकलन किया जाता है) 20 प्रतिशत तक कम हो जाता है। ऐसा माइटोकॉन्ड्रिया में कमी आजा ने के कारण होता है। हालांकि आप उन माइटोकॉन्ड्रिया का पुनर्निर्माण कर सकते हैं, लेकिन यह कम होने में ल गे समय की तुलना में पुनर्निर्माण में अधिक समय लेगें।
    Images courtesy: © Getty Images

    जल्दी थकान होना
  • 5

    मांसपेशियों कमज़ोर होना

    एक बार एक्सरसाइज बंद कर देने के बाद शक्ति सहनशक्ति कम हो जाती है। लेकिन यह इस बात पर निर्भर करता है कि आप कितने आलसी बने हैं। एक्सरसाइज छोड़ने के थोड़े समय बाद से ही आपके बाइसेप्स आदि सिकुड़ने लगते हैं।
    Images courtesy: © Getty Images

    मांसपेशियों कमज़ोर होना
  • 6

    मोटे होने लगते हैं

    एक्सरसाइज छोड़ने के एक सप्ताह के भीतर ही मोटापा भी बढ़ने लगता है। आपकी मांसपेशियों की वसा जलने की क्षमता का कम होने लगती है और चयापचय धीमा भी धीमा होने लगता है। हालांकि खान-पान पर थोड़ा नियंत्रण कर व एक्सरसाइज दोबारा आरम्भ कर इस पर काबू पाया जा सकता है।  
    Images courtesy: © Getty Images

    मोटे होने लगते हैं
  • 7

    मस्तिष्क पर प्रभाव

    एक्सरसाइज छोड़ने के दो हफ्ते बाद से ही थकान आदि अधिक होते हैं और तनाव भी अधिक महसूस होता है। एक्सरासइज से दिमाग काफी हद तक स्वस्थ बना रहता है। एक्सरसाइज की मदद से डिप्रेशन से लड़ा जा सकता है।
    Images courtesy: © Getty Images

    मस्तिष्क पर प्रभाव
  • 8

    अन्य कई रोगों का जोख़िम

    ब्रिटिश स्वास्थ्य पत्रिका लैन्सेट में छपे एक शोध के मुताबिक एक्सरसाइज ना करने से दिल का दौरा, मधुमेह और कोलोन कैंसर जैसी बीमारियां हो सकती हैं। रिपोर्ट में विश्व स्वास्थ्य संगठन डब्ल्यूएचओ ने कहा कि एक्सरसाइज ना करने और आलस्यपूर्ण जीवन शैली के कारण दुनिया भर में हर साल लगभग 50 लाख लोगों की मौत होती है।
    Images courtesy: © Getty Images

    अन्य कई रोगों का जोख़िम
Load More
X
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर