हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

अब रक्त शर्करा परीक्षण को बनाएं कम दर्द भरा

By:Rahul Sharma, Onlymyhealth Editorial Team,Date:Nov 21, 2014
रक्त शर्करा की जांच करने के लिए पिन लगाकर उंगली से एक बूंद खून का नमूना लिया जाता है, जिसमें दर्द होता है, लेकिन यह प्रक्रिया कम दर्द वाली भी हो सकती है।
  • 1

    रक्त शर्करा परीक्षण के दर्द करें कम

    हर बार रक्त शर्करा परीक्षण (ब्लड-शुगर टेस्ट) एक पीड़ादायक अहसास होता है। फिलहाल सही तरह से रक्त शर्करा की जांच करने के लिए एक ही रास्ता है, जिसके अंतर्गत (शूल से) उंगली से एक बूंद खून का नमूना लिया जाता है और फिर ग्लूकोज के लिएरक्त की जांच की जाती है। इस दौरान जब नुकीला शूल त्वचा में प्रवेश करता है तो काफी दर्द होता है। लेकिन अब आप इस दर्द को कम कर सकते हैं ,चलिये जानते हैं कैसे -
    Images courtesy: © Getty Images

    रक्त शर्करा परीक्षण के दर्द करें कम
  • 2

    हाथों को अच्छे से धोएं

    साबुन और गर्म पानी से अपने हाथ धो लें। इससे टेस्ट की जगह साफ व कोमल हो जाती है तथा रक्त का प्रवाह बढ़ाने के लिए उंगलियों में रक्त वाहिकाओं को फैलाने में मदद मिलती है।
    Images courtesy: © Getty Images

    हाथों को अच्छे से धोएं
  • 3

    मसाज करें

    अपनी उंगली के टिप पर नीचे की ओर मालिश करें। इस तरह से मसाज करने पर उंगली के सिरे की ओर रक्त का प्रवाह बढ़ जाता है। और फिर जब आप रक्त की बूंद लेने के लिए पिन चुभाते हैं, तो रक्त आराम से बाहर आ जाता है।  
    Images courtesy: © Getty Images

    मसाज करें
  • 4

    अपने लेंसिंग डिवाइस को सेट करें

    लेंसिंग उपकरणों में अलग-अलग गहराई में त्वचा भेधन करने के लिए विभिन्न सेटिंग्स होती हैं। यदि आप इन अनुच्छेद में सुझावों का उपयोग करते हैं, तो सेटिंग बदल कर आप सबसे कम दर्द वाले मोड पर टेस्ट कर पाएंगे।
    Images courtesy: © Getty Images

    अपने लेंसिंग डिवाइस को सेट करें
  • 5

    सही मीटर का चयन करें

    विभिन्न रक्त ग्लूकोज मीटरों को रक्त ग्लूकोज परीक्षण के लिए रक्त की अलग-अलग मात्रा की आवश्यकता होती है। तो ऐसे में कम रक्त की जरूरत होगी तो परिक्षण का दर्द भी उतना ही कम हो जाएगा। तो ऐसे मीटर का चयन करें जिसे जांच के लिे कम से कम रक्त की जरूरत होती है।  
    Images courtesy: © Getty Images

    सही मीटर का चयन करें
  • 6

    लेज़र टॉर्च से जांच

    जल्‍द ही एक ऐसी तकनीक आने वाली है, जिससे बिना रक्‍त निकाले ब्‍लड शुगर की जांच हो जायेगी। बस फर्क सिर्फ इतना होगा कि इस टॉर्च में पोलराइज्ड यानी ध्रुवीकृत लेज़र किरणें होंगी, जो नुकसान नहीं पहुंचाती हैं। पोलराइज्ड किरणों को त्‍वचा के ऊपर डाला जायेगा और शरीर से निकलने के बाद किरणों में कितना ध्रुवीकरण हुआ, उसके आधार पर ब्‍लड शुगर मापा जायेगा।
    Images courtesy: © Getty Images

    लेज़र टॉर्च से जांच
  • 7

    अपनी उंगलियों को बदलते रहें

    हर बार परिक्षण के लिए एक ही उंगली का प्रयोग न करें। सामान्य इंसान के पास आठ उंगलियां होती हैं, तो इन सभी का इस्तेमाल करें। ऐसा करने से टेस्ट भी आसान हो जाएगा और दर्द भी कम होगा।     
    Images courtesy: © Getty Images

    अपनी उंगलियों को बदलते रहें
  • 8

    अपनी उंगलियों को मोस्चुराइज करें

    लगातार परिक्षण करने से उंगली की त्वचा कठोर हो जाती है और उनमें रक्त प्रवाह भी कम हो जाता है। तो उंगलियों को मोस्चुराइज करें और आपकी त्वचा की मरम्मत और अपनी उंगलियों को ठीक होने का मौका दें। हर बार नई सूई का प्रयोग करें।  
    Images courtesy: © Getty Images

    अपनी उंगलियों को मोस्चुराइज करें
Load More
X
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर