हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

दोस्‍त को ऐसे समझायें कि कहीं हालात बिगड़ न जाएं

By:Rahul Sharma, Onlymyhealth Editorial Team,Date:Sep 26, 2014
दोस्ती का रिश्ता कमाल का होता है, दोस्त वो समझ सकता है जो कोई और नहीं समझ सकता। लेकिन जब आपका दोस्त परेशानी में हो तो कुछ बातों का विशेष ध्यान रखना पड़ता है।
  • 1

    दोस्‍त को कैसे समझायें

    कहते हैं कि दोस्ती का रिश्ता कमाल का होता है, जो बातें आपका सच्चा दोस्त समझ सकता है, वो कोई और नहीं। पति-पत्नी या लवर से अलग दोस्तों की जरूरत केवल वही पूरी कर सकते हैं। जब आप परेशान होते हैं, तो आपका दोस्त भी परेशान होता है, और चाहता है कि आप जल्द इस परेशानी से बाहर आएं। वो इसके लिए पूरी कोशिश करता है। लेकिन दोस्ती के रिश्ते में संभाल कर भी रहना पड़ता है, खासतौर पर जब आपका दोस्त परेशानी में हो। ऐसे में आपको कुछ बातों का ख्याल रखना चाहिए, ताकि इस खूबसूरत रिश्ते में कोई दरार पड़े बिना ही परेशानी में उसकी मदद की जा सके।
    Image courtesy: © Getty Images

    दोस्‍त को कैसे समझायें
  • 2

    दोस्त को खास महसूस कराएं

    परेशानी के समय अपने दोस्त को खआस होने का अहसास कराएं। उसे महसूस कराएं कि आपकी जिंदगी में उनकी बहुत अहमियत है। उसे प्यारा सा हग दें और उसके सिर पर हाथ रख कर बोलें कि आप साथ में हर परेशानी का सामना कर सकते हैं।
    Image courtesy: © Getty Images

    दोस्त को खास महसूस कराएं
  • 3

    उसे सुने, सुनाएं नहीं

    दूसरी चीज आप ये कर सकते हैं कि अपने दोस्ते से आई कॉन्टेक्ट बनाएं और ध्यान से उसे सुनें। केवल तभी बोलें जब जवाब देना बेहद जरूरी हो। उसे बोलें कि उसकी परेशानी को वाकई परेशान करने वाली है, लेकिन वह खुद से इसका सामना कर सकते/सकती हैं।
    Image courtesy: © Getty Images

    उसे सुने, सुनाएं नहीं
  • 4

    परेशानी में साथ देने का वादा

    दोस्त वही जो मुश्किल वक्त में काम आए। दोस्त अगर आर्थिक या मानसिक रूप से मुश्किल वक्त में हो तो आगे बढ़ कर उनकी मदद करें। ऐसे में अपनी सफलता या फिर समृद्धि का दिखावा करने की जगह कुछ ऐसा करें जिनसे उनका दुख कम हो। मगर शालीनता के साथ ऐसा करें।
    Image courtesy: © Getty Images

    परेशानी में साथ देने का वादा
  • 5

    उसे सहज महसूस कराएं

    हो सकता है, कि आपके मिलने से पहले आपका दोस्त काफी देर से रो रहा हो या परेशानी में उसने कुछ खाया न हो। तो मिलने के बाद उसे पानी पिलाएं, बिठाएं और कुछ खाने के लिए ले कर आएं। सहज महसूस कराने का मतलब ये नहीं कि आप उसके लिए शरा बकी बोतल खोल दें। क्योंकि एल्कोहॉल किसी समस्या का समाधान नहीं है।
    Image courtesy: © Getty Images

    उसे सहज महसूस कराएं
  • 6

    ज़बरदस्ती की सलाह नहीं

    जब तक आपका दोस्त आपसे खुद न पूछे की उसे क्या करना चाहिए, या क्या वह सही है यै गलत?, तब तक खुद से विशेषज्ञ बन कर सलाह न दें। उसकी पूरी बात सुनें और फिर पूछने पर ही अपना मत रखें।
    Image courtesy: © Getty Images

    ज़बरदस्ती की सलाह नहीं
  • 7

    दोस्त के पसंद का गिफ्ट

    वैसे तो आप अपने दोस्त की पसंद-नापसंद से वाकिफ होते ही हैं, तो जब वो परेशान हो तो दोस्त को उसके पसंद का गिफ्ट दें। इससे प्यार और ज्यादा बढ़ता है और वह परेशानी से थोड़े समय के लिए बाहर आकर, खुश हो पाता/पाती है।
    Image courtesy: © Getty Images

    दोस्त के पसंद का गिफ्ट
  • 8

    अकेला रहने दें

    कभी-कभी परेशानी में थोड़े समय के लिए अकेले बैठ कर विचार मंथन कर किसी निष्कर्ष पर पहुंचने की जरूरत होती है। तो इस बात को भी ध्यान में रखें की जब आपके दोस्त को थोड़े समय अकेले रहने की जरूरत हो तो उसे अकेले रहने का मौका दे दें।
    Image courtesy: © Getty Images

    अकेला रहने दें
  • 9

    उसका ध्यान बटाएं

    अपने दोस्त का ध्यान परेशानी से हटाने की कोशिश करें। उसे किसी मूवी के लिए लेकर जाएं, या दोनों की फेवरेट कॉफी शॉप में लेजाकर उसे कॉफी पिलाएं। ह्यूमर की मदद लें और कुछ लाइट और फनी जोक्स मारें और उसे हंसाएं। उसकी उसके काम में मदद करें।
    Image courtesy: © Getty Images

    उसका ध्यान बटाएं
  • 10

    बाद में भी रखें खयाल

    जब आप अपने दोस्त के पास से चले जाएं, तो उसके बाद उससे फोन पर उसके हाल-चाल पूछें। और उसे अपने से जुड़ी या कोई और कोई फनी घटना के बारे में बताएं। इससे उसको अहसास होगा कि आप हमेशा उसके साथ हैं और वो परेशआनी से जल्द बाहर आ पाएगा/पाएगी।  
    Image courtesy: © Getty Images

    बाद में भी रखें खयाल
Load More
X
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर