हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

फिटनेस के इन छोटे तरीकों से पायें चौड़ा सीना और मजबूत बाइसेप्‍स

By:Aditi Singh , Onlymyhealth Editorial Team,Date:Jun 15, 2015
फिट और तंदुरुस्त रहने के लिएएक्सरसाइज करना बेहद जरूरी है , लेकिन कंफ्यूजन इस बात को लेकर रहता है कि किस एक्सरसाइज शिड्यूल को फॉलो किया जाए। एक्सरसाइज की दुनिया में अलग - अलग लोगों और अलग - अलग मकसदों के लिए अलग - अलग एक्सरसाइज और अलग - अलग शिड्यूल मौजूद हैं।
  • 1

    मजबूत मसल्स और सीना

    मजबूत बाजू और चौड़ा सीना सभी को आर्किषत करता है। जिसके लिए पुरूष जिम में जी-तोड़ मेहनत भी करते हैं, लेकिन ऐसी आकर्षक और मजबूत बाजू-चेस्ट पाने के लिए  कुछ चुनिंदा एक्सरसाइज करने व उसके साथ संतुलित डाइट की जरूरत होती है। तो चलिये जानें की बेहतरीन चेस्ट और मसल्स के लिए की जाने वाली एक्सरसाइज क्या हैं।
    ImageCourtesy@Gettyimages

    मजबूत मसल्स और सीना
  • 2

    ब्‍लड सर्कुलेशन

    शरीर को फिट रखने का सबसे अच्‍छा तरीका है व्‍यायाम। नियमित रूप से व्‍यायाम और योग करके शरीर को फिट और तंदरुस्‍त रखा जा सकता है। एक्‍सरसाइज करने से एक या दो घंटे पहले कुछ भी मत खाइए। क्‍योंकि व्‍यायाम करते समय ब्‍लड सर्कुलेशन और खून में मौजूद ग्‍लूकोज का स्‍तर भी बढ जाता है। शुरूआत में थोड़ी-थोड़ी  एक्‍सरसाइज कीजिए और धीरे-धीरे इसका समय बढ़ाइए। नियमित रूप से व्‍यायाम और योग करने से शरीर की मांसपेशियां मजबूत होती हैं। व्‍यायाम करने से शरीर में खून का प्रवाह अच्‍छे से होता है।
    ImageCourtesy@Gettyimages

    ब्‍लड सर्कुलेशन
  • 3

    सुपर सेट्स

    सुपर सेट दो या दो से अधिक शरीर के अंगों के लिए करने वाली एक्‍सरसाइज है। इसे पहले एक अंग के लिए फिर दूसरे अंग के लिए करना चाहिए। इसे आमतौर पर मुख्य सेट के बाद किया जाता है। इसमें शरीर के एक हिस्से की एक्‍सरसाइज करने के बाद दूसरे हिस्‍से की एक्‍सरसाइज उसी तरह की जाती है। यह दोनों मांसपेशी समूहों के बीच तालमेल बनाने में मदद करता हैं।
    ImageCourtesy@Gettyimages

    सुपर सेट्स
  • 4

    जायंट सेट्स

    आमतौर पर जायंट सेट में शरीर के किसी विशेष अंग के लिए विभिन्‍न प्रकार की एक्‍सरसाइज की जाती हैं। इसमें एक्‍सरसाइज थोड़े-थोड़े ब्रेक के साथ की जाती हैं। जायंट सेट मध्‍यम वजन के साथ दो प्रतिनिधि के बीच कम से कम समय के अंतराल के साथ किया जाता है।
    ImageCourtesy@Gettyimages

    जायंट सेट्स
  • 5

    फोर्स्ड रेप्स

    फोर्स्ड रेप्स ऐसी प्रक्रिया है जिसमें मसल्‍स ग्रुप का काम करना शामिल है। यह पैस्टफेलियर को मांसपेशियों की पूर्ण संकुचन की अनुमति देता है। इस तकनीक में आपको अपनी सीमा तक पहुंचने में मदद करने के लिए एक साथी की आवश्यकता हो सकती है। लगातार दो सेट करने के बाद अगले सेट को बेहतर करने के लिए और अधिक मेहनत करनी पड़ सकती है।
    ImageCourtesy@Gettyimages

    फोर्स्ड रेप्स
  • 6

    मेडिसिन बॉल पुश अप

    मेडिसिन बॉल पुश अप चेस्ट की एक प्रभावी एक्सरसाइज है। इसे करने के लिए पुश-अप की मुद्रा में आकर अपने बायें हाथ को मेडिसिन बॉल पर और दाहिने हाथ को जमीन पर रखें। फिर अपने चेस्‍ट को फर्श से एक इंच ऊपर रखें और फिर ऊपर की ओर प्रेस करें। ऊपर की पोजिशन से अपने बाएं हाथ को बॉल के ऊपर और दायें हाथ को फर्श पर रखें।
    ImageCourtesy@Gettyimages

    मेडिसिन बॉल पुश अप
  • 7

    चेस्ट एक्सरसाइज में सांस का महत्व

    चेस्ट एक्सरसाइज में सांस लेने के तरीके का विशेष महत्व होता है। हमेशा वेट को ऊपर ले जाते समय सांस छोड़ें। नॉर्मल वेट के साथ एक्सरसाइज करते समय सांस को भी नॉर्मल रखें । हैवी वेट करते समय वेट को ऊपर ले जाते समय तेजी से सांस छोड़ें और नीचे आते समय सांस भरते रहें, इससे आप वेट को होल्ड कर पाएंगे। हैवी वेट लगाने के बाद एक्सरसाइज करते वक्त सांस की मूवमेंट का ख्याल रखना बहुत जरूरी होता है। जहां भी वेट को धकेलना हो, वहां सांस भी धकेली जाएगी।
    ImageCourtesy@Gettyimages

    चेस्ट एक्सरसाइज में सांस का महत्व
  • 8

    बॉटम लाइन

    अगर आपको अच्चे और विशाल बायसेप्स औऱ छाती चाहिए तो इसके लिए आपको पागलों की तरह खाना होगा । हालांकि इसके आहार पोषण देने वाले ही होने  चाहिए। आप अपने आहार में पोटीन की मात्रा को बढ़ा सकते है। आप दिन मे कितनी कैलोरी का सेवन करते इस बात पर भी आपको नजर रखनी पड़ेगी। दिनभर में तकरीबन 200-300 कैलोरी का सेवन करना पड़ेगा। बाजुओं की एक इंच आपका 10 पौंड शरीर का वजन बढ़ा देगी।
    ImageCourtesy@Gettyimages

    बॉटम लाइन
Load More
X
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर