हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

कैंसर कोशिकाओं से संबंधित 4 अनजानें तथ्‍य

By:Aditi Singh , Onlymyhealth Editorial Team,Date:Sep 21, 2015
कैंसर शरीर की कोशिकाओं में फैलने वाला रोग है, मानव शरीर छोटी-छोटी करोड़ों कोशिकाओं से मिलकर बना है, इससे जुड़े कुछ तथ्‍यों के बारे में आप अनजान हैं।
  • 1

    कैंसर कोशिकाओं से जुड़े तथ्य

    कैंसर से होने वाली अधिकतर मौत के मामलों में देखा गया है कि इस रोग के प्राथमिक चरण में होने पर रोगी की मृत्‍यु नहीं होती बल्कि द्वितीय चरण में रोगी की मौत हो जाती है। वैज्ञानिकों ने शोध में पाया है कि क्षतिग्रस्‍त कोशिकाएं स्‍वस्‍थ कोशिकाओं से जुड़ी होती हैं और ये लगातार स्‍वस्‍थ कोशिकाओं को फॉलो करती हैं। कैंसर कोशिकाओं से जुड़े ऐसे तथ्यों के बारें में जानने के लिए ये स्लाइडशो पढ़े।
    Image Source-getty

    कैंसर कोशिकाओं से जुड़े तथ्य
  • 2

    प्रतिरोधक क्षमता नष्ट करती हैं

    रोग प्रतिरोधक क्षमता का मजबूत या कमजोर होना कैंसर होने या न होने से सम्बन्ध नहीं रखता है यह महज पहचान तक सीमित है।इम्यून सिस्टम सामान्यतया कैंसर कोशिकाओं की पहचान नहीं करता है।कैंसर कोशिकाएं इम्यून सिस्टम के प्रति सामान्य कोशिकाओं के रूप में व्यवहार करती हैं।कोशिकाएं जब विषाणु या जीवाणुओं से संक्रमित होती हैं तभी वो खतरे का सिग्नल हमारी इम्यून सिस्टम को देती हैं जिससे इम्यून सिस्टम एक्शन में आ जाता है।अतः रोग प्रतिरोधक क्षमता का कैंसर से कोई सम्बन्ध नहीं है।
    Image Source-getty

    प्रतिरोधक क्षमता नष्ट करती हैं
  • 3

    कीमोथेरेपी एवं रेडीयोथेरेपी का असर

    कीमोथेरेपी एवं रेडियोथेरेपी सेलेक्टिवली कैंसर कोशिकाओं को मारती हैं।हाँ, इनके कुछ साइड इफेक्ट होते हैं जो रीवर्सिबल होते हैं जिनमें बाल झड़ना एवं ब्लड काउंट कम होना शामिल हैं। डॉक्टर ज्यादा से ज्यादा ट्यूमर कोशिकाएं निकालने की कोशिश करते हैं. बची हुई कैंसर कोशिकाओं को खत्म करने के लिए कीमोथैरेपी का सहारा लिया जाता है।
    Image Source-getty

    कीमोथेरेपी एवं रेडीयोथेरेपी का असर
  • 4

    अलग हो चुकी कैंसर कोशिका

    गांठ से अलग हो चुकी कोशिकाएं नॉन-मैलिगनेंट (जो घातक नहीं हो) कोशिकाओं से अधिक खतरनाक होती हैं। नॉन-मैलिगनेंट कोशिकाएं ऐसी कैंसर कोशिकाएं हैं, जो एक जगह पर ही गांठ बनाकर रहती हैं और आसपास की कोशिकाओं को तेजी से प्रभावित नहीं करती हैं। इसका आम तौर पर बहुत धीमी गति से प्रसार होता है और इसे घातक कैंसर नहीं माना जाता है।
    Image Source-getty

    अलग हो चुकी कैंसर कोशिका
  • 5

    कैंसर कोशिकाओं का फैलाव

    कैंसर की शुरूआती अवस्‍था में क्षतिग्रस्‍त कोशिकाओं के टूटने से ये शरीर के दूसरे भागों में फैलने लगती हैं और उस जगह पर धीरे-धीरे बढ़नी शुरू हो जाती हैं। कैंसर कोशिकाएं सामान्‍य कोशिकाओं से अलग होती हैं। ये अन्‍य कोशिकाओं को तेजी से अपने प्रभाव में ले लेती हैं। कैंसर कोशिकाएं निम्‍न प्राकर से फैलती हैं।
    Image Source-getty

    कैंसर कोशिकाओं का फैलाव
Load More
X
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर