हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

फेफड़े के कैंसर के लिये 9 घरेलू उपचार

By:Rahul Sharma, Onlymyhealth Editorial Team,Date:Feb 02, 2015
फड़ों के कैंसर ब्रोन्कियल ट्यूबों के अस्तर पर होता है, जोकि हमारे फेफड़ों और खून में ऑक्सीजन देने का काम करती हैं। हालांकि कुछ ऐसे घरेलू उपचार भी हैं, जो बिना किसी साइड इफेक्ट के इस कैंसर के इलाज मे सहायक हो सकते हैं।
  • 1

    फेफड़े का कैंसर और घरेलू उपचार

    फेफड़ों के कैंसर ब्रोन्कियल ट्यूबों के अस्तर पर होता है। जोकि हमारे फेफड़ों और खून में ऑक्सीजन देने का काम करती हैं। फेफड़ों के कैंसर के इलाज के लिए डॉक्टरों द्वारा कीमोथेरेपी और सर्जरी का सुझाव दिया जाता है। लेकिन कुछ ऐसे घरेलू उपचार भी होते हैं, जो बिना किसी साइड इफेक्ट के इस कैंसर के इलाज मे सहायक हो सकती हैं। तो चलिये जानें कि क्याहैं ये घरेलू उपचार -
    Images courtesy: © Getty Images

    फेफड़े का कैंसर और घरेलू उपचार
  • 2

    आहार

    कच्चे फल, सब्जियां और अनाज आदि स्वस्थ आहार लंग कैंसर में लाभदायक होते हैं। बहुत सारा सलाद और आसुत जल का सेवन मरीजों के लिए आवश्यक होता है। हालांकि मूंगफली का सेवन फेफड़ों के कैंसर में मना होता है। खट्टे फल और जूस भी दोपहर के समय में नियमित रूप से रोगियों द्वारा लिये जाने चाहिये।
    Images courtesy: © Getty Images

    आहार
  • 3

    शुगर को कहें 'ना'

    चीनी और बीफ (गाय या भैंस का मांस) इस कैंसर में नहीं खाना चाहिये, क्योंकि ये कैंसर कोशिकाओं के विकास को बढ़ाते हैं। सा ही चीनी युक्त भोजन से परहेज किया जाना चाहिये। साथ ही धूम्रपान व शराब के सेवन से तो बिल्कुल दूर रहना चाहिये।
    Images courtesy: © Getty Images

    शुगर को कहें 'ना'
  • 4

    विटामिन डी

    विटामिन डी फेफड़ों के कैंसर से पीड़ित रोगियों के लिए बहुत जरूरी होता है। सूरज की रोशनी के संपर्क, विटामिन डी लेने का सबसे आसान तरीका है। इसके अलावा विटामिन डी युक्त विभिन्न भोजन की खुराक भी ली जा सकती हैं। गाय का दूध लिया जा सकता है, लेकिन अन्य डेयरी उत्पादों से परहेज किया जाना चाहिए। वहीं गाय का दूछ भी दूध कम मात्रा में ही लिया जाना चाहिये।
    Images courtesy: © Getty Images

    विटामिन डी
  • 5

    ग्रीन टी

    हरी चाय के एक एंटीऑक्सीडेंट होने की बात सिद्ध की जा चुकी है, जोकि कैंसर में बेहद लाभदायक होती है। फैफड़े के कैंसर में एक दिन में ग्रीन टी के दो कप का सेवन बहुत उपयोगी और प्रभावी होता है। थोड़ा सा शहद, इलायची और नींबू भी ग्रीन टी में डाल कर लिये जा सकते हैं।
    Images courtesy: © Getty Images

    ग्रीन टी
  • 6

    नोनी

    यह एक उष्णकटिबंधीय (tropical) खाद्य है, जोकि कैंसर के उपचार और रोकथाम में बहुत मददगार होता है। इसके निकालने रस (अर्क) का भी सेवन किया जा सकता है। ये फैफड़े के कैंसर के रोगियों के लिये बेहद लाभदायक होता है।
    Images courtesy: © Getty Images

    नोनी
  • 7

    रेस्वेराट्रोल (Resveratrol)

    रेस्वेराट्रोल रेड वाइन में पाया जाता है, जोकि फेफड़ों के कैंसर के इलाज में मदद करता है। इसे हर रात के खाने के साथ हर शाम दो या तीन औंस पीने के की सलाह दी जाती है।
    Images courtesy: © Getty Images

    रेस्वेराट्रोल (Resveratrol)
  • 8

    हर्ब्स

    कैंसर से लड़ने की क्षमता वाली कई जड़ी-बूटियां (हर्ब्स) हैं। एक-दूसरे के साथ मिलाकर बर्ब्स का सेवन करना फैफड़े के कैंसर में बहुत प्रभावी होता है। इन बर्ब्स में हल्दी, अदरक, थाइम, अस्‍ट्रैगैलस (एक प्रकार की सब्जी) और अर्जुन शामिल होते हैं।
    Images courtesy: © Getty Images

    हर्ब्स
  • 9

    समुद्री सिवार (Seaweed)

    यह मैक्रोबायोटिक (macrobiotic) आहार का हिस्सा है, जिसमें कि उच्च चिकित्सा शक्ति होती है। यह कैंसर के इलाज के लिए बहुत उपयोगी साबित हुई है। यह एक समुद्र सब्जी है जिसमें आवश्यक खनिज तथा अन्य आवश्यक तत्व होते हैं, जोकि डेटोक्सीफीइंग होते हैं।
    Images courtesy: © Getty Images

    समुद्री सिवार (Seaweed)
  • 10

    सन का तेल (फ्लैक्स ऑयल)

    फ्लैक्स ऑयल अर्थात सन का तेल फेफड़ों के कैंसर के इलाज के लिए बेहद प्रभावी होता है। इसलिये फेफड़े के कैंसर के मरीजों को सन तेल का सेवन बंद नहीं करनी चाहिये और दैनिक रूप से कम मात्रा में इसका सेवन किया जाना चाहिए।
    Images courtesy: © Getty Images

    सन का तेल (फ्लैक्स ऑयल)
Load More
X
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर