हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

बेहतरीन हर्बल एंटीबायोटिक

By:Pooja Sinha, Onlymyhealth Editorial Team,Date:Feb 03, 2014
एंटीबायोटिक सर्दी और फ्लू के उपचार में, घाव को भरने और किसी भी संक्रमण को तेजी से भरता है। ऐसे बहुत से हर्बल पदार्थ है जिनमें एंटीबायोटिक तत्‍व मौजूद होते है। इन्‍हीं पदार्थों के बारे में इस स्‍लाइड शो में जानकारी दी गई हैं।
  • 1

    हर्बल एंटीबायोटिक

    एंटीबायोटिक वह पदार्थ है जो बैक्‍टीरिया और अन्‍य सूक्ष्‍मजीवों की वजह से होने वाले संक्रमण से शरीर की रक्षा करता है। एंटीबायोटिक सर्दी और फ्लू के उपचार में, घाव को भरने और किसी भी संक्रमण को तेजी से भरता है। ऐसे बहुत से हर्बल पदार्थ है जिनमें एंटीबायोटिक तत्‍व मौजूद होते है। इन्‍हीं पदार्थों के बारे में इस स्‍लाइड शो में जानकारी दी गई हैं।

    हर्बल एंटीबायोटिक
  • 2

    हल्दी

    हल्दी कीटाणुनाशक होने के साथ ही इसमें एंटीसेप्टिक, एंटीबायोटिक और दर्द निवारक तत्व पाए जाते हैं। इसमें मौजूद यह तत्व चोट के दर्द और सूजन को कम करने में मदद करते हैं। चोट लगने पर दूध में हल्दी डालकर पीने से दर्द में राहत मिलती है।

    हल्दी
  • 3

    लहसुन

    लहसुन में एंटीबायो‍टिक गुण होते है। ठंड के मौसम में सेहतमंद और सर्दी-जुकाम से बचकर रहने के लिए लहसुन का इस्‍तेमाल करना चाहिए। इसके अलावा जोड़ों के दर्द को कम करने में भी लहसुन वाला तेल फायदेमंद है।

    लहसुन
  • 4

    अदरक

    अदरक एक बेहतरीन प्राकृतिक एंटीबायोटिक है साथ ही अदरक की तासीर भी गर्म होती है। ठंड लगने पर एक कप अदरक वाली चाय की प्याली बहुत फायदेमंद साबित होती है।

    अदरक
  • 5

    तुलसी

    अपने धार्मिक महत्व के साथ-साथ तुलसी एंटीबायोटिक और दर्द निवारक भी होती है। रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में भी फायदेमंद है। रोज सुबह तुलसी के 3-5 पत्तों का सेवन करने से रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है।

    तुलसी
  • 6

    एलोवेरा

    औषधि की दुनिया में एलोवेरा किसी चमत्‍कार से कम नहीं है। एलोवेरा के सेवन से कई तरह के रोगों को दूर किया जा सकता है। एलोवेरा औषधीय गुणों से परिपूर्ण है। साथ ही एलोवेरा बढिय़ा एंटीबायोटिक और एंटीसेप्टिक के रूप में भी काम करता है।

    एलोवेरा
  • 7

    शहद

    शहद में एंटीबायोटिक गुण मौजूद होते है। खांसी-जुकाम में यह शरीर को बचाता है और इम्युनिटी को भी बढ़ाता है। शहद को अदरक के साथ या दालचीनी पाउडर में मिलाकर खाने से रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है।

    शहद
  • 8

    नीम

    नीम रक्तशोधक और प्रभावशाली एंटीबायोटिक है। यह अनेक रोगों में कारगर होता हैं। त्वचा रोगों में बहुत लाभ पहुंचाता है। इसका दांतुन करने से काफी फायदा पहुंचता है।

    नीम
  • 9

    सरसों

    सरसों में एंटीबायोटिक गुण होते है। यह शरीर की रोग-प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत करता है। सरसों शरीर को गर्माहट भी प्रदान करता है, अगर इसे ठंडक में खाया जाए तो ठंड बिल्‍कुल भी नहीं लगेगी।

    सरसों
  • 10

    मशरूम

    मशरूम सेहत के लिए बहुत फायदेमंद है। मशरूम व्हाइट ब्लड सेल को बढ़ाने का काम करता है। व्हाइट ब्लड सेल हमारे लिए बेहद जरूरी होते है क्‍योंकि शरीर में प्लेटलेट्स बनाने और इम्यून सिस्टम को बढ़ाने का काम व्हाइट ब्लड सेल ही करते है। इसलिए नियमित रूप से मशरूम का सेवन करना चाहिए।

    मशरूम
  • 11

    प्‍याज

    प्‍याज में एंटीबायोटिक गुण होते है यह प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है। प्याज में एलियम नामक तत्‍व पाया जाता हैं जो लहसुन की ही तरह दिल और लीवर की बीमारियों से शरीर की रक्षा करता है।

    प्‍याज
Load More
X