हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

त्‍वचा में घाव होने पर तुंरत करें उपचार

By:Nachiketa Sharma, Onlymyhealth Editorial Team,Date:Nov 29, 2014
त्‍वचा में किसी प्रकार की चोट लगने, घाव होने पर इसे खुला न छोंड़ें बल्कि तुरंत इसका उपचार करें, इससे संक्रमण नहीं होता है और घाव जल्‍दी ठीक भी हो जाता है।
  • 1

    त्‍वचा का कटना या घाव होना

    त्‍वचा के कटने या चोट लगने के कारण हुए घाव का उपचार जल्‍द से जल्‍द करने की कोशिश की जानी चाहिए। अगर ज्‍यादा देर तक इसे खुला छोड़ दिया जाये तो इसके कारण दूसरी बीमारियों के होने का खतरा बढ़ जाता है। कटी त्‍वचा में जीवाणु के संक्रमण होने की संभावना अधिक होती है। इसलिए स्‍वास्‍थ्‍य के लिहाज से इसका तुरंत उपचार किया जाना चाहिए। अगर त्‍वचा अधिक कटी न हो तो चिकित्सक के पास जाने की जरूरत नहीं है, लकिन लंबे और गहरे घाव के लिए चिकित्‍सक के पास जाकर उपचार करना ही बेहतर है। त्‍वचा के कटने पर सबसे पहले अपने से इसका उपचार करने की कोशिश कीजिए।

    image source - getty image

    त्‍वचा का कटना या घाव होना
  • 2

    बहते खून को रोकें

    त्‍वचा में किसी प्रकार का घाव होने या त्‍वचा के कटने पर इसमें से खून निकना शुरू हो जाता है। इसलिए कोशिश कीजिए कि सबसे पहले इस बहते हुए खून को रोकने की कोशिश कीजिए। इसके लिए साफ कपड़े से चोट पर दबाव डालें, 20 से 30 मिनट तक कपड़ा रखने से खून निकलना बंद हो जायेगा।

    image source - getty image

    बहते खून को रोकें
  • 3

    घाव साफ करें

    खून बंद होने के बाद जखम को अच्‍छे से साफ कीजिए। इसके लिए साफ और ठंडे पानी का प्रयोग करें, साफ पानी से त्‍वचा को अच्‍छी तरह साफ करें। त्‍वचा साफ होने के बाद इसमें एंटीसेप्टिक लगायें। किसी भी प्रकार के साबुन से त्‍वचा को साफ न करें, इससे संक्रमण हो सकता है।

    image source - getty image

    घाव साफ करें
  • 4

    एलोवेरा जेल लगायें

    घाव पर एलोवेरा का ताजा जेल लगायें। एलोवेरा एंटीसेप्टिक गुणों से भरपूर होता है जो किसी भी प्रकार के घाव को तेजी से भरने में मदद करता है। दरअसल एलोवेरा जेल हमारे इम्‍यून सिस्‍टम को गतिशील बना देता है जो कोशिकाओं को संक्रमण से लड़ने में मदद करते हैं। इससे चोट पर जलन और खुजली भी नहीं होगी।

    image source - getty image

    एलोवेरा जेल लगायें
  • 5

    बैंडेज लगायें

    त्‍वचा के घाव पर साफ-सुथरा बैंडेज लगायें। इससे त्‍वचा का घाव खुला नहीं रहेगा और किसी भी प्रकार का जीवाणु संक्रमण नहीं होगा। रोज इस बैंडेज को बदलिये, खासकर बैंडेज जब भी गीला हो जाये इसे तुरंत बदलें।

    image source - getty image

    बैंडेज लगायें
  • 6

    पट्टी हटा दें

    चोट के उपचार के दौरान अगर आपको लगे कि घाव काफी हद तक भर गया है और उसमें संक्रमण होने की संभावना नहीं है तब पट्टी हटा दीजिए। खुली हवा लगने से घाव और जल्‍दी ठीक हो जायेगा। लेकिन पट्टी हटाने के बाद नियमित रूप से इसका परी‍क्षण करते रहें। अगर किसी प्रकार के संक्रमण की संभावनाहो तो फिर से पट्टी लगा दें।

    image source - getty image

    पट्टी हटा दें
  • 7

    अपने पास ये रखें

    उपचार के समय अपने पास कुछ सामान जरूर रखें। इसके लिए आपको साफ पानी, एंटीसेप्टिक लोशन, एलोवेरा जेल, बैंडेज की जरूरत पड़ेगी। इन्‍हें तरीके से लगाने से घाव जल्‍दी से ठीक हो जायेगा।

    image source - getty image

    अपने पास ये रखें
  • 8

    गहरी चोट होने पर

    सामान्‍य चोट लगने या घाव होने पर इसका उपचार आप आसानी से कर सकते हैं, लेकिन अगर चोट गहरी हो तो फर्स्‍ट एड करने के बाद चिकित्‍सक के पास जायें। संक्रमण फैलने से रोकने के लिए टिटिनस का इंजेक्‍शन जरूर लगवायें और नियमित रूप से चिकित्‍सक से ही बैंडेज करायें।

    image source - getty image

    गहरी चोट होने पर
Load More
X
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर