हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

आपके घर को एलर्जी प्रूफ बनाएंगी ये युक्तियां

By:Rahul Sharma, Onlymyhealth Editorial Team,Date:May 10, 2014
घर दुनिया की सबसे प्यारी जगह होती है और घर के लोग दुनिया मे सबसे प्यारे लोग, लेकिन क्या आपने अपने घर को एलर्जी प्रूफ बनाया है, यदि नहीं तो आपके घर को एलर्जी प्रूफ बनाएंगी ये युक्तियां।
  • 1

    घर और एलर्जी

    पूरी दुनिया में सबसे आराम और चैन की जगह अपना घर ही होता है, बशर्ते आपको अपने घर में एलर्जी की समस्‍या न हों। कई लोगों को कुछ विशेष कारणों से अपने ही घर में एलर्जी की समस्‍या से जूझना पड़ता है। घर में एलर्जी पनपने की कई जगहें हो सकती हैं जैसे, बेडरूम, बाथरूम और प्‍लेरूम। घर में व्याप्त एलर्जी के कारण रैशेज, वॉयल्‍स और सांस लेने में तकलीफ आदि समस्याएं हो सकती है। कई बार लोगों को कफ और अस्‍थमा की भी शिकायत होती है। हर किसी को एलर्जी, विशेष कारण से होती है लेकिन आपको उन कारणों को जानना चाहिए और अपने घर को एलर्जी मुक्त बनाना चाहिए।
    courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

    घर और एलर्जी
  • 2

    कालीन और दरे

    आपने पूरे घर में कालीन या दरे ना बिछाएं। दरअसल, इनमें जमने वाली धूल-मिट्टी से बच्चे को इंफेक्शन व एलर्जी होने की आशंका रहती है। और यदि ये हैं भी तो महीने में एक दो बार अन्हें साफ कर धूप में रखें।  
    courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

    कालीन और दरे
  • 3

    पालतू जानवरों की वेक्सिनेशन

    देखिये यदि घर में वृद्ध लोग या छोटे बच्चे हों तो कोशिश करें कि पालतू जानवर ना ही पालें। और यदि पहले से ही कोई पालतू जानवर है तो जब आप किसी प्रकार की एलर्जी से बचने के लिए उसे साफ रखें और उसकी एलर्जी वैक्सिनेशन भी कराएं।
    courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

    पालतू जानवरों की वेक्सिनेशन
  • 4

    घर को करें डिटॉक्‍सीफाई

    घर को डिटॉक्‍सीफाई ज़रूर करें। आप जिन चीजों से एलर्जिक है, वे आपके घर में कई प्रकार से आ सकती हैं। जैसे, आपको धुएं से एलर्जी है और कोई सिगरेट पिएं तो आपको परेशानी होगी। इसलिए बेहतर होगा कि आप इसे पूरी तरह वर्जित कर दें। धूम्रपान करने से घर में कई प्रकार के विषैले तत्‍व भी फैल जाते है जो घर में रहने वाले लोगों को हानि पहुंचाते है। सिगरेट बाहर करें और घर को डिटॉक्‍सीफाई करें।
    courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

    घर को करें डिटॉक्‍सीफाई
  • 5

    पैस्ट कंट्रोल

    घर में कीट और मच्‍छरों को मारने का प्रबंध करें। दीमक, मक्‍खी और मच्‍छर से भी एलर्जी होती है और वैसे भी इन कीटों का घर में न रहना ही स्‍वास्‍थ्‍य के लिए बेहतर होता है। इसलिए अपने घर में हर सप्‍ताह पेस्‍टीसाइड छिड़कें, ताकि कोई कीट घर में न पनप पाएं। इसके लिए आप इलेक्ट्रिकल या मै‍केनिकल तरीका भी अपना सकते हैं।
    courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

    पैस्ट कंट्रोल
  • 6

    जानवरों का ख्‍याल रखें

    कुछ लोगों को घर में जानवर रखना जैसे, कुत्‍ता, बिल्‍ली, खरगोश आदि रखना बेहद पसंद होता है, लेकिन आपको और बच्चों को इनकी फर से एलर्जी हो सकती है। ऐसे में बेहतर होगा कि आप उनका पूरा ध्‍यान रखें, उन्हें साफ–सुथरा रखें और उचित दूरी बनाएं। जानवरों के रहने और खाने का इंतजाम घर के एक एलग हिस्‍से में करें जहां आपका सोना या खाना न होता हो।
    courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

    जानवरों का ख्‍याल रखें
  • 7

    तीखी सुंगध से बचें

    किसी भी प्रकार की तीखी सुंगध से बचें। अगर आपको तीखी महक या खुशबू से एलर्जी है तो घर में इस्‍तेमाल किए जाने वाले रूम फ्रेशनर को जांच -पड़ताल कर सही फ्रेगनेंस का ही लें। घर में ज्‍यादा तीखी सुंगध होने से लगातार छींक, सिरदर्द और जुकाम की समस्‍या हो सकती है। घर में ताजी हवा आने का भी प्रबंध रखें।
    courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

    तीखी सुंगध से बचें
  • 8

    धूल से रहें दूर

    जिन लोगों को धूल से एलर्जी होती है वे खुद के घर को धूलरहित बनाने के कई प्रसाय कर सकते हैं। पूरे घर में मिट्टी या धूल जमा न होने दें। बिस्‍तर साफ रखें। घर के कोनों में धूल न जमने दें और सभी फर्नीचर की रोज डस्टिंग करें।
    courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

    धूल से रहें दूर
  • 9

    दवाएं रखें साथ

    यदि आप एलर्जिक हैं तो घर में डॉक्टर द्वारा बतायी गई एलर्जी की दवाई हमेशा रखें। यही नहीं कहीं बाहर खाने पर जाते समय आप पहले से ही अपनी आहार संबंधी एलर्जी से लोगों को अवगत करा दें, जिससे कि खाना खाते समय आपको किसी प्रकार की कोई समस्या ना हो। अपनी दवाएं भी साथ रखें।  
    courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

    दवाएं रखें साथ
  • 10

    अपने वैक्यूम क्लीनर अपग्रेड करें

    यदि आपके वैक्यूम क्लीनर में एचईपीए (HEPA) फिल्टर नहीं है, तो जल्द कोई नया एचईपीए वैक्यूम क्लीनर ले लें। ये वैक्यूम क्लीनर विशेष रूप से 0.3 माइक्रोन तक के छोटे कणों को भी साफ कर देते हैं। तो ज़ाहिर है कि जो ये क्लीनर एलर्जी कारकों को साफ करने  में भी सक्षम होते हैं।
    courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

    अपने वैक्यूम क्लीनर अपग्रेड करें
  • 11

    अन्य तरीके

    यदि घर में बत्ती वाला स्टोव है तो उसकी जगह एलपीजी या इलेक्ट्रिक स्टोव का उपयोग करें। घर में शुद्घ वायु के आने की व्यवस्था सुनिश्चित करें। किचन में एक्जास्ट फेन का उपयोग करें। दीवारों पर फफूंद और जाले हो गए हों, तो उन्हें साफ करते रहें। एलर्जी के कारक का पता लगाने के लिए टेस्ट करा लें और उसी के अनुरूप इलाज कराएं।
    courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

    अन्य तरीके
Load More
X
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर