हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

इन आहारों को कच्‍चा नहीं पकाकर खाने से मिलेगा अधिक पोषण

By:Nachiketa Sharma, Onlymyhealth Editorial Team,Date:Jun 29, 2016
कुछ फूड ऐसे हैं जिनका सेवन हम कच्‍चा ही करते हैं, लेकिन क्‍या आप जानते हैं इनको पकाने से इनकी पौष्टिकता बढ़ जाती है, इन आहारों के बारे में इस स्‍लाइडशो में जानें।
  • 1

    कच्‍चा नहीं इनको पकार खायें

    हमेशा इस बात को लेकर बहस होती है कि कुछ आहार बिना पकाये ज्‍यादा पौष्टिक होते हैं और पकाने से उनकी पौष्टिकता खत्‍म हो जाती है। ऐसे लोगों का मानना है कि अगर हम इन आहारों को पकाकर खाते हैं तो उसमें मौजूद विटामिन, मिनरल आदि जरूरी तत्‍व नष्‍ट हो जायेंगे। जबकि ऐसा नहीं है, कुछ आहार ऐसे भी हैं जिनको पकाने से उनकी पौष्टिकता तो बढ़ती है वे आसानी से पच भी जाते हैं। इस स्‍लाइडशो में हम आपको उन आहारों के बारे में बता रहे हैं जिनको कच्‍चा खाने की बजाय पकाकर खायें।

    कच्‍चा नहीं इनको पकार खायें
  • 2

    टमाटर

    टमाटर का प्रयोग लगभग हर खाने में किया जाता है। इसे लोग कच्‍चा और पक्‍का दोनों तरह से खाते हैं। लेकिन सलाद के रूप में इसका सेवन बिना पकाये अधिक मात्रा में किया जाता है। ऐसा लोगों का मानना है कि कच्‍चा टमाटर खाने से अधिक फायदा होता है। जबकि वास्‍तविकता यह है कि टमाटर को पकाने से इसकी परत पर मौजूद सेलुलर वाल्‍स आसानी से पाचक हो जाती हैं। ये वाल्‍स कच्‍चा खाने पर आसानी से पचती नहीं और पेट की समस्‍यायें भी इनके कारण हो सकती हैं। टमाटर में लाइकोपीन होता है जो आंखों की रोशनी बढ़ाता है। पकने के बाद लाइकोपीन भी आसानी से पाचक हो जाता है। इसलिए टमाटर को कच्‍चा खाने की बजाय पकाकर करी, सॉस, केचअप आदि रूप में प्रयोग करें।

    टमाटर
  • 3

    गाजर

    गाजर को ज्‍यादातर लोग कच्‍चा खाते हैं, क्‍योंकि उसमें बीटा-केरोटीन होता है। इसमें बीटा-केरोटिन होता है, इसलिए इसका रंग भी नारंगी होता है। बीटा-किरोटीन आंखों, त्‍वचा के साथ-साथ पूरे शरीर के लिए बहुत फायदेमंद होता है। लेकिन क्‍या आप जानते हैं अगर गाजर को पका दिया जाये तो उसमें मौजूद बीटा-केरोटिन का स्‍तर बढ़ जायेगा। इसलिए अगर आप गाजर के शौकीन हैं तो इसका अधिक फायदा उठाने के लिए कच्‍चा खाने की बजाय पकाकर खायें। गाजर का सेवन करी और सूप के रूप में भी कर सकते हैं।

    गाजर
  • 4

    कद्दू

    पंपकिन यानी कद्दू को भी लोग कच्‍चा खाते हैं। कद्दू में भी बीटा-‍केरोटिन नामक एंटीऑक्‍सीडेंट होता है जो पकने के बाद आसानी से पच जाता है। इसके अलावा पकाने से इसकी पौष्टिकता बढ़ जाती है। कद्दू का अधिक फायदा उठाने के लिए आप इसका सूप पियें और इसकी करी भी बनायें।

    कद्दू
  • 5

    शतावरी यानी एस्‍पेरगस (Asparagus)

    शतावरी खाने शरीर को जरूरी पोषण मिलता है। शतावरी फोलेट और विटामिन ए, सी और ई का प्रमुख स्रोत है। लेकिन शतावरी को कच्‍चा खाने से इसका फायदा नहीं मिल पाता क्‍योंकि इसकी दीवाल बहुत मोटी होती है जो आसानी से पच नहीं पाती। लेकिन अगर इसे पका दिया जाये तो यह दीवाल कमजोर हो जाती है और इसमें मौजूद पौष्टिक तत्‍व शरीर को आसानी से मिल जाते हैं। इसलिए अगली बार शतावरी को कच्‍चा नहीं पकाकर खायें।

    शतावरी यानी एस्‍पेरगस (Asparagus)
  • 6

    पालक

    पालक बहुत ही फायदेमंद पत्‍तेदार सब्जियों में से एक है। इसमें आयरन, विटामिन बी, फोलेट बहुतायत में पाया जाता है, ये सभी पोषण शरीर के लिए बहुत जरूश्री होते हैं। लोग इसका कच्‍चा खासकर सलाद में करते हैं, लेकिन फिर भी इसमें मौजूद फोलेट का स्‍तर नहीं बढ़ता। लेकिन इसे अगर अच्‍छे से पकाकर खाया जाये तो इसमें मौजूद फोलेट का स्‍तर बढ़ जाता है। इसलिए अगली बार पालक को अच्‍छे उबालकर या पकाकर खायें।

    All Images - Getty

    पालक
Load More
X
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर