हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

मेडिटेशन के अद्भुत स्‍वास्‍थ्‍य लाभ

By:Nachiketa Sharma, Onlymyhealth Editorial Team,Date:May 29, 2014
तनाव, हाइपरटेंशन, दिल की समस्‍या, अनिद्रा आदि से बचाव करना है तो अपनी दिनचर्या में शामिल कीजिए मेडिटेशन।
  • 1

    मेडिटेशन के फायदे

    मेडिटेशन यानी ध्‍यान करने के कई स्‍वास्‍थ्‍य लाभ हैं। अगर आप नियमित रूप से सुबह के समय मे‍डीटेशन करते हैं तो तनाव और थकान से बचते हैं साथ ही बीमारियों से भी बचाव होता है। उच्‍च रक्‍तचाप, फेफड़े की बीमारी, दिल की समस्‍या, मोटापे पर नियंत्रण के लिए नियमित ध्‍यान कीजिए। ध्‍यान से याद्दाश्‍त मजबूत होती है और रात में अच्‍छी नींद आती है, तो आज से ही अपनी दिनचर्या में ध्‍यान को शामिल कीजिए।

    image courtesy - getty images

    मेडिटेशन के फायदे
  • 2

    तनाव कम होता है

    वर्तमान में काम की अधिकता और अनियमित दिनचर्या के कारण तनाव होना एक आम समस्‍या बन गया है। लेकिन नियमित रूप से मे‍डिटेशन करने से तनाव दूर होता है। जर्नल हेल्‍थ साईकोलॉजी में छपे एक रिसर्च की मानें तो मेडिटेशन, तनाव को कम करता है और दिमाग को शांत करता है, इसे करने से शरीर का कॉर्टिसोल हार्मोन सही मात्रा में रहता है।

    image courtesy - getty images

    तनाव कम होता है
  • 3

    दिमाग संतुलित होता है

    रोज-रोज की व्‍यस्‍तता के कारण दिमागी संतुलन बिगड़ना बहुत ही सामान्‍य है, एक समय ऐसा भी आता है जब आपका दिमाग असंतुलित होकर काम करना बंद कर देता है। ऐसे में मेडिटेशन करने से हमें खुद के बारे में सही-गलत का पता चलता है। इसे करने से हर व्‍यक्ति को अपने मांइडस्‍पॉट का पता चलता है। यह मन की उलझनों को दूर करता है।

    image courtesy - getty images

    दिमाग संतुलित होता है
  • 4

    अर्थराइटिस से बचाव

    मेडिटेशन गठिया से ग्रसित लोगों के लिए बहुत मददगार है। 2011 में एक जर्नल के मुताबिक, यह तथ्‍य सामने आया है कि गठिया से ग्रसित लोग, अगर नियमित रूप से मेडिटेशन करते हैं तो उन्‍हें आराम मिलता है।

    image courtesy - getty images

    अर्थराइटिस से बचाव
  • 5

    गुस्‍से पर काबू

    अक्‍सर आपके साथ ऐसा होता है कि आपका दिमाग अशांत हो जाता है और आपको बहुत गुस्‍स आता है, ऐसे में मेडिटेशन आपके लिए बहुत जरूरी है। इसके चार तत्‍व होते है जो हमें विभिन्‍न तरीकों में मदद करते है अगर आपको बहुत गुस्‍सा आता है और कई बार आप अपना कंट्रोल भी खो देते है तो मेडीटेशन करने से आराम मिलता है। इससे शरीर में चेतना, दिमाग में ताजगी और मन में स्‍फूर्ति आती है।

    image courtesy - getty images

    गुस्‍से पर काबू
  • 6

    गर्भवती महिलाओं के लिए

    गर्भावस्‍था के दौरान कई प्रकार की समस्‍याओं महिलाओं को होती हैं। प्रेग्‍नेंसी के दौरान तनाव और अवसाद के अलावा महिला की फिटनेस भी बरकार नहीं रहती है। ऐसे में इन समस्‍याओं से निजात दिलाता है मेडिटेशन। यह शरीर में सकारात्‍मक ऊर्जा का संचार करता है।

    image courtesy - getty images

    गर्भवती महिलाओं के लिए
  • 7

    वजन कम करें

    खानपान में अनियमितता व्‍यायाम की कमी के कारण वजन बढ़ना भी एक आम समस्‍या बन गया है। मेडीटेशन करने से वजन घटाना भी आसान होता है। एक सर्वे के मुताबिक, यह बात सामने आई है कि जो लोग वजन घटाने के इच्‍छुक है, अगर वह पूरे मन से मेडिटेशन करें तो उन्‍हें लाभ होगा।

    image courtesy - getty images

    वजन कम करें
  • 8

    अच्‍छी नींद के लिए

    कई शोधों में यह साबित हो चुका है कि भरपूर नींद न लेने से दिल की बीमारियां, मधुमेह, हाइपरटेंशन, तनाव आदि होता है। अगर आपको भी रात में नींद नहीं आती तो मे‍डिटेशन आपकी अनिद्रा की समस्‍या को दूर कर सकता है। अगर आप रोज मेडिटेशन करते हैं तो रात में आपको अच्‍छी नींद आना स्‍वाभाविक है।

    image courtesy - getty images

    अच्‍छी नींद के लिए
  • 9

    उच्‍च रक्‍तचाप

    मेडिटेशन से उच्च रक्तचाप नियंत्रित होता है, सिरदर्द दूर होता है। शरीर में प्रतिरक्षण क्षमता का विकास होता है, जो कि किसी भी प्रकार की बीमारी से लड़ने में महत्वपूर्ण है। ध्यान से शरीर में स्थिरता बढ़ती है। यह स्थिरता शरीर को मजबूत करती है।

    image courtesy - getty images

    उच्‍च रक्‍तचाप
  • 10

    श्‍वांस संबंधी बीमारियां

    नियमित मेडिटेशन करने से श्‍वांस संबंधित बीमारियां नहीं होती हैं। श्वास से जुड़े अनेक रोगों जैसे अस्थमा, एंफीसेमा और श्वांसनली अवरूद्ध होने से श्वांस रूकने का खतरा बना रहता है जो कि जानलेवा हो सकता है। अध्ययनों से पता चलता है कि ऐसे रोगों से ग्रस्त रोगियों को ब्रेथ मेडिटेशन से सांस लेने में काफी राहत मिलती है।

    image courtesy - getty images

    श्‍वांस संबंधी बीमारियां
  • 11

    लंबी उम्र के लिए

    मेडिटेशन करने से उम्र बढ़ती है। क्‍योंकि इससे दिमाग शांत रहता है, मन खुश रहता है और व्‍यक्ति के अंदर सकारात्‍मक सोच की भावना प्रबल होती है ऐसे में बीमारियां भी दूर रहती हैं। यह व्‍यक्ति की प्रतिरक्षा प्रणाली को भी मजबूत रखता है, वजन को निंयत्रित करता है। ऐसे में व्‍यक्ति की उम्र बढ़ना स्‍वाभाविक है।

     

    image courtesy - getty images

    लंबी उम्र के लिए
Load More
X
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर