हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

मल्टिपल ऑर्गाज्म का सुख भोगने के लिए अपनाएं ये तांत्रिक तकनीक

By:Rahul Sharma, Onlymyhealth Editorial Team,Date:Jul 04, 2016
तांत्रिक तकनीक की मदद से वे लोग जिन्होंने कभी चरम अर्थात ऑर्गाज्म नहीं प्राप्त किया, भी मल्टिपल ऑर्गाज्म का सुख भोग सकते हैं। तो चलिए जानें ऐसी तांत्रिक तकनीक जिनकी मदद एक ही नहीं बल्कि मल्टिपल ऑर्गाज्म का सुख भोगा जा सकता है।
  • 1

    मल्टिपल ऑर्गाज्म के लिए तांत्रिक तकनीक


    भारत एक पारंपरिक और विविधता से भरी संस्कृति वाला देश है, लेकिन वैश्विक स्तर पर कुछऐसा माना जाता रहा है कि भारत सेक्स को लेकर लचर और रूड़ीवादी विचारधारा वाला देश है। लेकिन यह वही देश है जहां वात्स्यायन से कामसूत्र जैसे महान ग्रन्थ की रचना की और दुनिया को संभोग की वास्तविकता और इसके चरम से अवगत कराया। यहीं सेक्स के एक और माध्यम, या कहिए रूप की रचना भी हुई। वह है तांत्रिक सेक्स! इसकी मदद से वे लोग जिन्होंने कभी चरम अर्थात ऑर्गाज्म नहीं प्राप्त किया, भी मल्टिपल ऑर्गाज्म का सुख भोग सकते हैं। तो चलिए जानें ऐसी तांत्रिक तकनीक जिनकी मदद एक ही नहीं बल्कि मल्टिपल ऑर्गाज्म का सुख भोगा जा सकता है।
    Images source : © Getty Images

    मल्टिपल ऑर्गाज्म के लिए तांत्रिक तकनीक
  • 2

    क्या है तांत्रिक सेक्स



    तांत्रिक सेक्स दरअसल हज़ार साल पुरानी शारीरिक/आध्यात्मिक प्राचीन परंपरा है। तांत्रिक सेक्स का 'तंत्र' शब्द संस्कृत भाषा से निकला है जिसका अर्थ है 'जानकारी के द्वारा विस्तार'। माना जाता है कि तंत्र सेक्स दो लोगों की अंतरंगता को नए आयाम देता है। इसका आधार सरल, सौम्य मिलन और सेक्स पर गति, सांस, आहों और संकेतों की मदद से नियंत्रण से अदभुत चरम तक पहुंचना होता है। हालांकि इसका वास्तविक उद्देश्य केवल सेक्स के चरम (ऑर्गाज्म प्राप्त करना) नहीं बल्कि दो शरीरों का गहरा व पूर्ण मिलन होता है। लेकिन यह कोई रौकिट साइंस भी नहीं है। तांत्रिक सेक्स के लिए बहुत अधिक ज्ञान होना ज़रूरी नहीं है। इसका मुलभुत रहस्य चरम तक पहुचने के लिए आपाधापी से बचकर सेक्स का पूर्ण और सही तरीके से आनंद लेना और देना होता है। चरम पर नियंत्रण कर पाना किसी के लिए भी आसान काम नहीं है। लेकिन श्वांस नियंत्रण, मुद्रा परिवर्तन, और मालिश व सही स्पर्श की मदद से एक बार ही नहीं बल्कि कई बार ऑर्गाज्म प्राप्त किया जा सकता है।
    Images source : © Getty Images

    क्या है तांत्रिक सेक्स
  • 3

    कैसे किया जाता है तांत्रिक सेक्स


    सबसे पहले अपने आप को जल्दबाजी और सभी व्यवहारिक विचारों से मुक्त कर दें। इसे सीखने के लिए आपको बहुत सी जानकारियों को खुद से सीखना और महसूस करना होगा। इसका मूलभ्होत रहस्य है चरमआनंद तक पहुंचने की जल्दबाज़ी से बचकर सेक्स का भरपूर आनंद लेना और देना। लेकिन चरम को विलम्बित कर पाना (जो तांत्रिक सेक्स के जानकार कर सकने में सक्षम हैं) हमेशा आसान भी नहीं होता है। ऐसा करने के लिए स्वांस नियंत्रण, मुद्रा परिवर्तन, मालिश, और ध्यान लगाने जैसी तकनीक की ज़रूरत पड़ती है।  
    Images source : © Getty Images

    कैसे किया जाता है तांत्रिक सेक्स
  • 4

    क्या हैं इसकी तकनीक



    कुछ तकनीकों से इसकी शुरुआत की जा सकती है, जैसे सांसो का मिलना, एक ही लय में चलती सांसें गहरा जुड़ाव पैदा करती हैं और एक दूसरे को बेहतर ढ़ंग से महसूस करने की क्षमता प्रदान करती हैं। इसके अलावा एक और तकनीक है धीमी शारीरिक गति और सांसों के साथ शारीरक आनंद की मंद व सौम्य शुरुआत करते हुए आमने सामने बैठना और आंखों में आंखें डालकर एक-दूसरे को देखना। ध्यान रखें कि शुरुवात जितनी सरल और धीमी होगी, चरम उतना ही गहरा होगा।
    Images source : © Getty Images

    क्या हैं इसकी तकनीक
Load More
X