हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

त्‍वचा की रोजाना देखभाल के बेहतरीन उपाय

By:Rahul Sharma, Onlymyhealth Editorial Team,Date:Nov 27, 2014
त्वचा में नमी बनाए रखना उसे पोषित करने का सर्वश्रेष्ठ तरीका है। साथ ही यह भी ध्यान रखना की उसकी ठीक प्रकार से भीतर तक सफाई हो, यह भी बेहद जरूरी होता है।
  • 1

    रोज करें त्वचा की देखभाल

    त्वचा में नमी बनाए रखना उसे पोषित करने का सर्वश्रेष्ठ तरीका है। साथ ही यह भी ध्यान रखना की उसकी ठीक प्रकार से भीतर तक सफाई हो, यह भी बेहद जरूरी होता है। विशेषज्ञों के अनुसार त्वचा की चमक बरकरार रखने के लिए सेहतमंद भोजन भी जरूरी होता है। कुल मिलाकर कहा जाए तो रोज कुछ छोटी-छोटी चीजों का ध्यान रख कर त्वचा को कांतिमय और निखारा बनाया जा सकता है। तो चलिये जानते हैं त्‍वचा की रोजाना देखभाल के कुछ बेहतरीन उपाय।
    Images courtesy: © Getty Images

    रोज करें त्वचा की देखभाल
  • 2

    सही प्रकार से क्लिंज़िग

    त्वचा की देखभाल एक रचनात्मक प्रक्रिया होती है जिसके लिए जरूरत के हिसाब से समाधान होने चाहिए। त्वचा की बुनियादी देखभाल का आरंभ क्लीन्जिंग अर्थात सफाई से होता है। इससे हम त्वचा पर व इसके भीतर मौजूद बैक्टीरिया और फफूंद, धूल-मिट्टी और पर्यावरण प्रदूषण से हुई गंदगी की सफा कर सकते हैं।
    Images courtesy: © Getty Images

    सही प्रकार से क्लिंज़िग
  • 3

    प्रत्येक प्रकार की त्वचा के लिए विशिष्ट देखभाल

    अपनी त्वचा की देखभाल व इसकी सुरक्षा के लिए सबसे जरूरी है कि आप अपनी त्वचा के हिसाब से सही प्रोडक्ट चुनें और उनका सही प्रकार से इस्तेमाल करें। अदाहरण के तौर पर, ड्राई स्किन की जरूरतें तैलीय स्किन से अलग होती हैं।
    Images courtesy: © Getty Images

    प्रत्येक प्रकार की त्वचा के लिए विशिष्ट देखभाल
  • 4

    कमजोर क्षेत्रों पर विशेष ध्यान दें

    आपके चेहरे के कुछ भागों (जैसे आंखें के चारों तरफ, होंठ आदि) पर विशेष रूप से ठीक व नाजुक त्वचा होती है, ये भाग अधिक संवेदनशील और विशेष ध्यान देने लायक होते हैं। तो इन भागों को विशेष देखभाल की जरूरत होती है, खासतौर पर आंखों के आस-पास का भाग व होंठ।
    Images courtesy: © Getty Images

    कमजोर क्षेत्रों पर विशेष ध्यान दें
  • 5

    कोमलता से करें सफाई

    संवेदनशील त्वचा की देखभाल मेकअप हटाने के साथ शुरू होती है। आपकी त्वचा का प्राकृतिक संतुलन बनाए रखने तथा असे तनाव से बचाने के लिए, प्रकृतिक पीएच मेकअप का उपयोग ही करें। क्योंकि ये विशेष रूप और कोमलता सेआपकी एपिडर्मिस को साफ करने के लिए तैयार किये जाते हैं।
    Images courtesy: © Getty Images

    कोमलता से करें सफाई
  • 6

    आंखें: जोखिम वाला क्षेत्र

    आंखों के आसपास के क्षेत्र की त्वचा, चहरे के किसी अन्य भाग की तुलना में दर गुना नाजुक होती है। तो इस क्षेत्र का मेकअप अतारने व देखभाल के लिए विशिष्ट दिनचर्या का निर्धारण करना न भूलें।
    Images courtesy: © Getty Images

    आंखें: जोखिम वाला क्षेत्र
  • 7

    एक्सफोलिएशन है ज़रूरी

    सप्ताह में एक या दो बार एक उपयुक्त एक्सफोलिएशन उपचार का प्रयोग करें। लेकिन सुनिश्चित करें कि यह प्रभावी होने के साथ-साथ  कोमल भी होना चाहिए। बेहतर होगा कि इसके लिए किसी अच्छे प्राकृतिक पीएच एक्सफोलिएशन उत्पाद को चुनें।
    Images courtesy: © Getty Images

    एक्सफोलिएशन है ज़रूरी
  • 8

    मॉइस्चराइजिंग भी आवश्यक है

    डर्मिस 70 प्रतिशत पानी और एपिडर्मिस 15 प्रतिशत पानी से बना होता है। तो त्वचा को ठीक से मोश्चुराइज करने के लिए किसी ऐसे डेली मॉइस्चराइजिंग उत्पाद का चुनाव करें जो त्वचा के भीतर के पानी के स्तर को संतुलित रख सके।
    Images courtesy: © Getty Images

    मॉइस्चराइजिंग भी आवश्यक है
  • 9

    हाइपोएलर्जेनिक मेकअप (hypoallergenic make-up)

    आपकी त्वचा को सूट न करने वाले उत्पादों से होने वाली एलर्जी से बचने के लिए हाइपोएलर्जेनिक मेकअप का उपयोग किया जा सकता है। हाइपोएलर्जेनिक मेकअप को त्वचा की जरूरतों को पूरा करने के लिए विशेष रूप से तैयार किया जाता है। इसके अलावा सन केयर प्रोडक्ट का इस्तेमाल भी करें।
    Images courtesy: © Getty Images

    हाइपोएलर्जेनिक मेकअप (hypoallergenic make-up)
Load More
X
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर