हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

मस्तिष्क को प्रभावित करने वाली आश्चर्यजनक बातें

By:Rahul Sharma, Onlymyhealth Editorial Team,Date:Oct 08, 2014
हमारा मस्तिष्क एक गतिशील अंग है, जोकि लगातार बेहतर या खराब के लिए, बदलता रहता है। लेकिन नींद की कमी जैसी कई दैनिक गतिविधियों से हमारा दिमाग़ प्रभावित भी होता है।
  • 1

    मस्तिष्क को प्रभावित करने वाले कारक

    मस्तिष्क वैज्ञानिकों ने हाल के वर्षों में कई ऐसी आश्चर्यजनक चीजों की खोज की है, जो हमारे मस्तिष्क को प्रभावित करती हैं और फिर मस्तिष्क हमारे समग्र स्वास्थ्य को प्रभावित करता है। साथ ही यह भी कि हमारा व्यवहार और आदतें कैसे हमारे मस्तिष्क के स्वास्थ्य को प्रभावित करती हैं। अच्छी खबर यह है कि हमारा मस्तिष्क एक गतिशील अंग है, जोकि लगातार बेहतर या खराब के लिए, बदलता  रहता है। नींद की कमी जैसी कई दैनिक गतिविधियों से हमारा दिमाग़ प्रभावित होता है। तो चलिये जानें कि मस्तिष्क को प्रभावित करने वाली ऐसी कौंन सी अन्य आश्चर्यजनक बातें हैं।
    Image courtesy: © Getty Images

    मस्तिष्क को प्रभावित करने वाले कारक
  • 2

    थायराइड समस्याएं

    हालांकि थायरॉयड का आपके दिमाग में कोई विशिष्ट भूमिका नहीं होती है। लेकिन स्मृति समस्याएं दरअसल थायराइड रोग के लक्षणों के तौर पर हो सकती हैं। उच्च या निम्न थायराइड स्तर (हाइपरथायरायडिज्म या हाइपोथायरायडिज्म) के कारण स्मृति और एकाग्रता के साथ कठिनाई पैदा हो सकती है।
    Image courtesy: © Getty Images

    थायराइड समस्याएं
  • 3

    रजोनिवृत्ति

    हॉट फ्लेशेज तथा अनिद्रा रजोनिवृत्ति के दौरान आम हैं, और ये दोनों ही अपकी नींद ख़राब कर सकते हैं और स्मृति हानि में योगदान दे सकते हैं। हालांकि यह अस्थायी होता है और रजोनिवृत्ति के लक्षणों के कम होने के साथ इसमें सुधार होना चाहिए।
    Image courtesy: © Getty Images

    रजोनिवृत्ति
  • 4

    नींद की कमी

    मस्तिष्क विकास, या न्यूरोप्लाटिसिटी की प्रक्रिया को व्यवहार को नियंत्रित करने के लिए मस्तिष्क की क्षमता कायम करने में सहायक मानी जाती है। और नींद की कमी के चलते इस प्रक्रिया में बाधा उत्पन्न होती है और दिमाग पर बुरा प्रभाव पड़ाता है।
    Image courtesy: © Getty Images

    नींद की कमी
  • 5

    चिंता और अवसाद

    चिंता और अवसाद के द्वारा तनाव हार्मोन कोर्टिसोल के स्तर में वृद्धि होती है। जिसकी वजह से मस्तिष्क कोशिकाओं को कनेक्ट करने वाली प्रक्रिया में बाधा होती है। जिसके कारण समय बीतने के साथ याद्दाश्त में समस्या होने लगती है।
    Image courtesy: © Getty Images

    चिंता और अवसाद
  • 6

    कुछ दवाएं

    कई दवाओं का सेवन आपकी स्मृति समारोह के साथ हस्तक्षेप कर सकता है। विशेषतौर पर चिंता के लिए ली जाने वाली कुछ दवाएं। ये दवाएं मस्तिष्क की अल्पकालिक यादों से लेकर लंबी अवधि तक के स्थानांतरण व भंडारण करने की क्षमता में बाधा उत्पन्न कर सकती हैं।
    Image courtesy: © Getty Images

    कुछ दवाएं
  • 7

    धूम्रपान

    धूम्रपान मस्तिष्क को रक्त की आपूर्ति में बाधा पैदा करता है। जिसके चलते याददाश्त कमजोर होती है। अध्ययनों से भी पता चला है कि धूम्रपान करने वालों में धूम्रपान न करने वालों की तुलना में मस्तिष्क समारोह में अधिक तेजी से गिरावट आती है।  
    Image courtesy: © Getty Images

    धूम्रपान
  • 8

    रेडी टू ईट खाद्य पदार्थ

    बाजार में ब‌िकने वाले रेडी टू ईट खाद्य पदार्थों में भोजन को पहले से पकाया व प्रोसेस किया जाता है और फिर प्रिजरवेटिव्स डालकर छोड़ दिया जाता है। इनमें मौजूद रसान अल्जाइमर जैसी समस्या का कारण बन सकते हैं। और ये सेहत क लिए भी हानिकारक होते हैं। इसके अलावा बहुत ज्यादा मीठा व बाजार में बिकने वाली प्रोसेस्ड डाइट में प्रिजरवेटिव्स भी याद्दाश्त को हानि पहुंचा सकते हैं।
    Image courtesy: © Getty Images

    रेडी टू ईट खाद्य पदार्थ
Load More
X
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर