हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

6 अजीब मगर सामान्य एलर्जी

By:Aditi Singh , Onlymyhealth Editorial Team,Date:Mar 17, 2015
क्या आपको खुद को छूने से भी एलर्जी हो जाती है। सुनने में भले ही अजीब लगें पर ये सच है। कुछ एलर्जी अजीब सी होती है। ये दुर्लभ भी होती है। अजीब सी एलर्जी के बारे में जानने के लिए पढ़ें ये लेख:-
  • 1

    अजीब सी एलर्जी

    धूल-धुआं या खाने से एलर्जी तो आपने सुनी होगी  पर क्या आपने अजीब एलर्जियों के बारे में सुना है। जी, लोगों को कुछ अजीब तरह एलर्जी हो जाती है जो सुननें में विश्वास भले ही ना हो पर सच होती है। इस तरह की एलर्जी सामान्य से लेकर जानलेवा तक होती है। ये एलर्जी सामान्य लोगों में भी बड़ी आसानी से देखने को मिल जाती है। इस स्लाइडशो के जरिए हम आपको कुछ अजीब मगर सामान्य सी एलर्जी के बार में बता रहे है:-
    ImageCourtesy@Gettyimages

    अजीब सी एलर्जी
  • 2

    बीयर से एलर्जी

    सुनकर बहोत अजीब सा लगता है कि किसी को बीयर से एलर्जी कैसे हो सकती है।पर ये सच है। असल बात ये है कि बीयर में पाए जाने वाले प्रोटीन एलटीपी से लोगों को एलर्जी हो जाती है। बीयर से 36 तरह की एलर्जी के रिएक्शन हो सकते है। इससे शरीर में खुजली होने लगती है या फिर सरदर्द की समस्या हो जाती है।  
    ImageCourtesy@Gettyimages

    बीयर से एलर्जी
  • 3

    सूरज से एलर्जी

    सोलर पित्ती एक तरह की फिजीकल पित्ती होती है।ये पित्ती के  लक्षण सूरज की रोशनी से जलनें मे दिखते है। इन पित्तियों का उपचार  ऐन्टीहिस्टमीन और सूजर की किरणों से बचकर हो सकता है। हालांकि सन एलर्जी बहुत कम होती है। एलर्जी होने पर शरीर में चकत्ते पड़ जाते है और खुजली होने लगती है।  
    ImageCourtesy@Gettyimages

    सूरज से एलर्जी
  • 4

    सिक्कों से एलर्जी

    अगर सिक्कों को हाथ में लेने के बाद आपको रैशेज की समस्या हो जाती है तो ये भी एक तरह की एलर्जी है। सिक्कों मे मौजूद निक्कल के रिएक्शन से एलर्जी हो जाती है। गहनों, सिक्कों और जिपर्स आदि बनाने में निक्कल नामक मेटल प्रयोग होता है। अगर आपको भी ऐसे किसी चीज को छूने के बाद रैशेज हो जातो हो तो तुंरत ही चिकित्सक से मिले।
    ImageCourtesy@Gettyimages

    सिक्कों से एलर्जी
  • 5

    छूने से एलर्जी

    सुनने में थोड़ी अजीब सी लगती है, मगर लोगों को किसी के छू जाने से भी एलर्जी हो जाती है। इस तरह की एलर्जी में आप खुद को भी घायल कर सकते है। आप ने अगर दबाव के साथ अपना हाथ पकड़ा या कोई कपड़ा बांधा इससे आपके शरीर पर पित्ती पड़ जाएगी। हालांकि ये पित्तियां खुद ही 15-30 मिनट में गयाब हो जाती है। इस तरह की एलर्जी से बचने के लिए आप ऐन्टीहिस्टमीन का प्रयोग कर सकते है।
    ImageCourtesy@Gettyimages

    छूने से एलर्जी
  • 6

    ठंड से एलर्जी

    कुछ लोगों को ठंड से भी एलर्जी हो जाती है। इस एलर्जी में शरीर पर पित्ती पड़ने लगती है। हालांकि ये एक दुर्लभ एलर्जी होती है। अचानक से अत्यधिक ठंड के संपर्क में आने के कारण ये एलर्जी जानलेवा भी हो सकती है।  इसके कारण रक्तचाप निम्न हो जाता है जिससे मौत हो सकती है। इस तरह की एलर्जी में बचाव ही सबसे बड़ा उपचार होता है। ऐसे लोगों को ठंड में बाहर नहीं निकलना चाहिए ना ही अकेले तैराकी करनी चाहिए।
    ImageCourtesy@Gettyimages

    ठंड से एलर्जी
  • 7

    पॉलिनेटेड फ्रूट से एलर्जी

    पराग से एलर्जी को ओरल एलर्जी का लक्षण माना जाता है। पराग या उसके जैसे प्रोटीन वाले फलों को खाने से लोगों में एलर्जी हो जाती है। इसे क्रॉस रिएक्टिवटी कहते है। ये केला, टमाटर, सेब और प्लम्स आदि फलों में होती है। इससे गलें में खराश, होठों की सूजन आदि की समस्या हो जाती है। इसमे आपको उपचार कराने की भी आवश्यकता नहीं होती है। बस आप फल को निगल ले या फिर ना खाएं।
    ImageCourtesy@Gettyimages

    पॉलिनेटेड फ्रूट से एलर्जी
  • 8

    एलर्जी से बचाव

    इस तरह की एलर्जी से बचाव सिर्फ सावधानी होती है। कुछ एलर्जी जन्मजात होती है पर कुछ का इलाज संभव होता है। समय-समय पर डॉक्टर से मिलें। अपनें शरीर मे होने वोली अजीब तरह के रिएक्शन के बारें में उनसे जानकारी लें। उनकी सलाह पर ही किसी दवा का सेवन करें।
    ImageCourtesy@Gettyimages

    एलर्जी से बचाव
Load More
X
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर